काम के दौरान ना करें ये चीजें

काम के दौरान हम ऐसी कई चीजें करते हैं जो काम में रूकावट डालती हैं। ऐसे में आपको पता होना चाहिए कि आपको काम करते वक्त क्या नहीं करना चाहिए।

आफिस स्‍वास्‍थ्‍य By Anubha Tripathi / Aug 11, 2014
ना करें ईधर-उधर की बात

ना करें ईधर-उधर की बात

ऑफिस में काम करने के कुछ नियम कायदे होते हैं। कुछ व्‍यहारगत तरीके होते हैं। जिन्‍हें अपनाया जाना चाहिये। अकसर आपने देखा होगा कि लोग ऑफिस में काम के दौरान अपने निजी जीवन से जुड़ी समस्याओं पर चर्चा करते हैं। एक दूसरे की सीट पर जाकर ऑफिस से जुड़ी गॉसिप में लग जाते हैं। महिलायें और पुरुष दोनों ऐसा करते हैं। ऑफिस में काम के दौरान क्‍या करना है और क्‍या नहीं, यह जानना बहुत जरूरी है।

निजता का रखें ख्याल

निजता का रखें ख्याल

अकसर आप अपने रिश्‍तों के बारे में सहकर्मियों से बात करने लगते हैं। हालांकि इसमें कोई बुराई नहीं है। लेकिन अपने परिवार, ससुराल, बच्‍चों या गर्लफ्रेंड, बॉयफ्रेंड की बातों का पिटारा खोलते हैं, तो उससे समस्‍यायें हो सकती हैं। शायद ही किसी को आपके रिश्‍तों की समस्‍याओं की पड़ी हो। खासकर जब वो समस्याएं आपके पति, बच्चों और पूर्व प्रेमी से जुड़ी हुई हों।

निर्णयवादी न बनें

निर्णयवादी न बनें

हम अकसर अपने साथियों के बारे में फैसला सुनाने की मुद्रा में रहते हैं। महिलाओं में यह प्रवृत्ति कई बार ज्‍यादा देखने को मिलती है। वे घर, परिवार और ऑफिस की अन्‍य महिलाओं के बारे में अपना फैसला सुनाने को हमेशा तैयार रहती हैा। कभी उनके मेकअप और कपड़ों को लेकर वे उन्‍हें जज करती रहती हैं, तो कभी उनकी नजर उनकी चाल में खामियां ढूंढती रहती है। यह अच्‍छा 'टाइम-पास' भले ही हो, लेकिन काम के बीच में यह सब अच्‍छा नहीं लगता।

नापसंद जाहिर ना करें

नापसंद जाहिर ना करें

हो सकता है कि आप अपने साथ काम करने वाले कई लोगों को नापसंद करते हों। यह बहुत ही सामान्य बात है। लेकिन इसे अपने तक ही रखें। इसे लोगों के सामने जाहिर ना करें। दफ्तर में एक व्‍यावाहरिक संबंध बनाये रखना जरूरी होता है। इस नियम का पालन करना चाहिये।

भावानात्मक ना बनें

भावानात्मक ना बनें

महिलाएं पुरुषों के मुकाबले कहीं अधिक भावानात्मक होती हैं। इसमें कोई गलत बात भी नहीं है। लेकिन, किसी के सामने अधिक भावुक होना ठीक नहीं। इसे दफ्तर में गलत संदर्भ में भी लिया जा सकता है। जैसे अगर ऑफिस से कोई जा रहा है तो हर किसी की विदाई पर रोना ठीक नहीं है।

बॉस पसंद भी हो, तब भी न बतायें

बॉस पसंद भी हो, तब भी न बतायें

क्या यह सच है कि अगर आपका बॉस गुड लुकिंग है तो आप ज्यादा और अच्छा काम करती हैं? अगर हां तो अपने बॉस को इस बात की भनक भी न लगने दें कि आप उसे पसंद करती हैं। बॉस के सामने खुद को स्थिर रखें। क्या पता वह भी आपको दूसरे कारणों से नोटिस करता हो।

ज्यादा मेकअप खूबसूरत नहीं बनाता

ज्यादा मेकअप खूबसूरत नहीं बनाता

ऑफिस में ज्यादा मेकअप ना करें। जब भी आप ऑफिस के लिए तैयार हों तो ध्यान रखें कि हल्के मेकअप के साथ प्रेजेंटेबल दिखने की कोशिश करें। ज्यादा मेकअप आपको खूबसूरत नहीं बनाता है।

ज्यादा दोस्ती ठीक नहीं

ज्यादा दोस्ती ठीक नहीं

ऑफिस में लोग आपको आपके काम से पहचानते हैं न कि हर किसी से हाय-हैलो करने से। ऑफिस में हर किसी से बात करें लेकिन बहुत ज्यादा फ्रेंडली होने के बजाय सबसे प्रोफेशनली रिश्ता रखें तो ज्यादा अच्छा होगा।

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK