Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

पुरुष इन 6 तरीकों से घटा सकते हैं प्रोस्टेट कैंसर का जोखिम

प्रोस्टेट कैंसर एक गंभीर समस्या है क्योंकि इसके कुछ ही लक्षण होते हैं। प्रोस्टेट ब्लैडर में स्थित होता है, जो कि वीर्य के उत्पादन के लिए जिम्मेदार होता है। जब सेल विकसित होना शुरू होते हैं और उसके बाद असामान्य रूप से या अनियंत्रित तरीके से बढ़ते हैं

पुरुष स्वास्थ्य By जितेंद्र गुप्ताMay 09, 2019

प्रोस्टेट कैंसर एक गंभीर समस्या है क्योंकि इसके कुछ ही लक्षण होते हैं। प्रोस्टेट ब्लैडर में स्थित होता है, जो कि वीर्य के उत्पादन के लिए जिम्मेदार होता है। जब सेल विकसित होना शुरू होते हैं और उसके बाद असामान्य रूप या फिर अनियंत्रित तरीके से बढ़ते हैं और तेज गति से विकसित होने लगते हैं तो वह कैंसर का रूप ले लेते हैं। प्रोस्टेट कैंसर की रोकथाम के लिए कोई तरीका नहीं है। प्रोस्टेट स्वास्थ्य के उच्च स्तर को बनाए रखने के लिए  रोकथाम की रणनीतियां मुख्य हैं। सौभाग्य से ऐसी कुछ चीजें हैं, जिसे करके हम स्वस्थ प्रोस्टेट को बनाए रख सकते हैं और प्रोस्टेट कैंसर के जोखिम को सीमित कर सकते हैं। हम आपको प्रोस्टेट कैंसर के जोखिम को कम करने के कुछ तरीके सुझा रहे हैं, जिसके सहारे इसके जोखिम को सीमित किया जा सकता है।

लाल फलों व सब्जियों को अपना साथी बनाएं

टमाटर, तरबूज, चुकंदर और अन्य लाल खाद्य पदार्थों में लाइकोपीन नामक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट के कारण हल्का रंग होता है। वे पुरुष जो लाइकोपीन वाले अधिक खाद्य पदार्थों का सेवन करते हैं उनमें प्रोस्टेट कैंसर का जोखिम कम होता है। मजे की बात यह है कि इन सब्जियों व फलों के पकने के दौरान इनमें लाइकोपीन जम जाता है, इसलिए टमाटर के पक जाने के बाद यह शरीर में बेहतर तरीके से अवशोषित हो जाता है।

फल और सब्जियां आपके लिए फायदेमंद

हरी सब्जियों में ऐसे तत्व होते हैं जो कैंसरकारी तत्वों से होने वाले कैंसर को समाप्त करने में मदद करते हैं। पोषण युक्त डाइट कैंसर को धीमे-धीमे फैलने में मदद कर सकती है। हरी सब्जियों में घुलनशील फाइबर, आयरन, मिनरल्स और कैल्शियम होते हैं जो कैंसर जैसे रोगों से शरीर को बचाते हैं। इसके अलावा हरी सब्जियां शरीर से खराब तत्वों को बाहर निकालने में भी सहायक हैं , जिससे पथरी और गुर्दे की समस्या भी नहीं होती।

कॉफी का एक और कप पीएं

दशकों के अध्ययन में बताया गया है कि कॉफी पीने और गंभीर प्रोस्टेट कैंसर के कम जोखिम के बीच संबंध है। प्रत्येक दिन चार कप कॉफी पीने से आपमें हाई प्रोस्टेट कैंसर की संभावना कम हो सकती है। कॉफी उन लोगों के लिए भी अच्छी मानी जाती है, जो लिवर की बीमारी से जूझ रहे है। इसके अलावा कॉफी आंतों की गड़बड़ियों को भी ठीक करती है।

सिगरेट को खुद से दूर करें

धूम्रपान प्रोस्टेट कैंसर के जोखिम को बढ़ाता है और इससे प्रोस्टेट कैंसर के अधिक आक्रामक रूप के विकसित होने की भी संभावना बढ़ती है। धूम्रपान छोड़ने के लिए आपके पास अब इससेबड़ी वजह नहीं हो सकती। इसके अलावा धूम्रपान ह्रदय संबंधी समस्याओं का प्रमुख कारण है। जब आप धूम्रपान करते हैं तो विषाक्त पदार्थ आपके खून में प्रवेश कर जाते हैं और रक्त कोशिकाओं को क्षतिग्रस्त करते हैं, जो कि ब्लड कैंसर का एक कारण भी हो सकता है।

एक कप ग्रीन टी की आदत डालिए

ग्रीन टी में ईजीसीजी या एपिगैलोकैटेचिन गैलेट नाम के बहुत से अनूठे एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो हमारे सेल स्वास्थ्य से जुड़े होते हैं । शरीर में पाए जाने वाले फ्री-रेडिकल्स के कारण कैंसर के जोखिम में कमी आती है।

नियमित रूप से एक्सरसाइज करें

अध्ययनों में सुझाव दिया गया है कि एक्सरसाइज और प्रोस्टेट कैंसर के जोखिम के बीच संबंध है। अध्ययन में दर्शाया गया है कि वे लोग, जो नियमित रूप से एक्सरसाइज करते हैं उनमें प्रोस्टेट कैंसर को जोखिम कम होता है। एक्सरसाइज के कई अन्य स्वास्थ्य लाभ भी हैं और यह ह्रदय समस्याओं व कैंसर के अन्य रूपों के जोखिम को भी कम करता है।

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK