• shareIcon

दस लक्षण जो बताते हैं कि आप एक अपमानजनक रिश्ते में हैं

क्या आपको भी अपने साथी से डर लगता है? कुछ संकेत होते हैं जिन्हें पहचान कर जाना जा सकता है कि आप एक अत्याचारपूर्ण व अपमानजनक रिश्ते में जी रहे हैं।

डेटिंग टिप्स By Rahul Sharma / Mar 06, 2014

अपमानजनक रिश्ते

इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि वह / कितनी खूबसूरत है, आप फिर भी भावनात्मक शोषण के शिकार हो सकते हैं। रिश्तों में दुर्व्यवहार मौखिक, शारीरिक या भावनात्मक किसी भी रूप में हो सकता है। इस तरह का इंसान अंदर से हिंसा और ईर्ष्या से भरा होता है और आपने पार्टनर पर पूरी तरह नियंत्रण करने की कोशिश करता है। दुर्व्यवहार करने वाला या हानि पहुंचाने वाला व्यक्ति (अब्यूज़र) किसी भी रूप में हो सकता है, लेकिन उसके की संकेत होते हैं जिन्हें पहचाना जा सकता है और पता लगाया जा सकता है कि आप एक अत्याचारपूर्ण व अपमानजनक रिश्ते में जी रहे हैं। अब्यूज़र साथी, पति या पत्नी के संकेत इस प्रकार हो सकते हैं।

कौंन होता है दुर्व्यवहारी (अब्यूज़र)

किसी रिश्ते में महिला या पुरुष दोनों में से कोई भी दुर्व्यवहारी (अब्यूज़र) हो सकता है। हो सकता है कि आप इसके छोटे संकेतों को पहचान न पाएं, जो यह इंगित कर सकते हैं कि आपका रिश्ती असामान्य है। क्योंकि अक्सर अब्यूज़र अपने आत्म सम्मान के साथ बड़ी तालाकी के साथ खेल रहा होता है।  लेकिन यदि आपका साथी इन लक्षणों में से कोई भी प्रदर्शाती करता है तो यह आपके लिए अपने रिश्ते का पुनर्मूल्यांकन करने का समय हो सकता है।

जासूसी

किसी व्यक्ति के पर्स, फाइलों, कंप्यूटर हार्ड ड्राइव और सेल फोन हिस्ट्री आदि चेक करना, जब आप शाम को कहीं बाहर जाएं तो किसी को आपके साथ नजर रखने के लिए भेजना आदि सब जसूसी ईर्ष्या और अविश्वास के उदाहरण हैं। जब आपकी गोपनीयता पर लगातार हमला होने लगे जैसे आपके ऑन लाइन (इंटरनेट) शोशल लाइफ पर नज़र रखी जाने लगे या आपके फोन कॉल पर सवाल उठाये जाने लगें तो आपके साथ दुर्व्यवहार किया जा रहा है।

पैसे पर नियंत्रित

आपके पेचैक्स खुद रख लेना और जरूरतों के लिए पैसे लेने की अनुमति नहीं देना पीड़ित व्यक्ति को अपने आधीन रखना का अब्यूज़र का एक आम पैंतरा होता है। ज ब आपके पास भोजन और कपड़ों के लिए पर्याप्त ही पैसा नहीं होगा तो आप अपने दुर्व्यवहारी साथी को भी नहीं छोड़ पाते। लेकिन देखा जाता है कि जब पीड़ित व्यक्ति अपने दुर्व्यवहारी साथी को छोड़ कर अलग हो जाता है, तो अब्यूज़र भी किसी नए शिकार की तलाश में आगे हो लेता है।

मिजाज में अकस्मात बदलाव

अक्सर अब्यूज़र साथी का मूड अक्सर दुरुपयोग के बाद अजीब तरीके से आक्रामक और अपमानजनक से क्षमाप्रार्थी और प्यार भरा हो जाता है। ऐसे लोगों का गुस्सा बेकाबू है और वे अपनी इस प्रकार की हरकतों को बार-बार दौहराते हैं।

जब काम शब्दों से मेल न खाए

जब आपके साथी की कथनी और करनी एक ही समय में मेल ना खआए तो समझ लीजिए की मामला खराब है। अक्सर अब्यूज़र अपने वादे तोड़ देते हैं।  वे कहते हैं आपसे उन्हें बेहद प्यार है और उसी समय में गालियां भी देने लगते हैं।

मौखिक दुर्व्यवहार (वर्बल अब्यूज़)

यदि आपका साथी बार-बार अपको अपमान व आपत्तीजनक नामों से संबोधित करता है, भले ही वह कहे कि वह ऐसा मजाक में कर रहा है तो कहीं न कहीं बहुत गड़बड़ है। ऐसा कर वह आपको बुरा महसूस कराना और छोटा दिखाना चाहता है। कई बार ऐसे में अब्यूज़र बड़ी चालाकी से और भावनात्मक बनकर उल्टा आपको दोष देकर खुद को कवर कर लेता है, कि आप ही बड़ी जल्दी बुरा मान जाते हैं।

मन में डर का बैठना

आप अपने साथी, पति या पत्नि के आसपास डर महसूस करते हैं, तो यह भंगीर बात है। अब्यूज़र, हिंसा, अपनी शक्ति या प्रभुत्त का सहारा लेकर आपको भयभीत करने की कोशिश कर सकते हैं। उदाहरण के लिए, जानबूझ कर आपको हानिकारक और परेशान करने वाली स्थितियों में डालना या आपको अपनी अपनी बंदूक और अन्य शक्तियों का प्रदर्शन कर कहना की वह उनके प्रयोग से नहीं डरता है आदि।

किसी बात के लिए बाद में सताना

कई बार अब्यूजर आपको अपनी जागीर की तरह समझ लेता है, वह चाहता है कि आप जो भी करें उससे पूछ कर करें, जहां भी जाएं उससे पूछ कर जाएं आदि। लेकिन जब आप कभी बिना बताए या अकेले बाहर जाएं, भले ही अन्य लोग भी आपके साथ हों, इमोश्नल अब्यूज़र इसके लिए आपको बाद में दंड़ित करता है। कोई अब्यूज़र ऐसे में आपका अपमान, चिल्लाना, धमकी देना या इससे भी बुरा कुछ कर सकता है।

जबरन सेक्स

किसी भी इंसान से साथ सेक्स के लिए जबरदस्ती करना जबकि वह इसके लिए राजी ना हो, फिर भले ही वह आपके पति या पत्नि क्यों ना हों बलात्कार की श्रेणीं में आता है। काफी सारे देशों में तो अपने साथी, पति या पत्नी के साथ बलात्कार घोर अपराध माना जाता है। जबरन सेक्स शारीरिक नुकसान के साथ- साथ गहरे भावनात्मक घाव भी छोड़ सकता है।

नशे की आदत डालना

कई बार अब्यूज़र पीड़ित को नशे की ओर धकेलता है। नशे का आदि बनाकर पीड़ित को अपने काबू में करना अब्यूज़र का एक खास हथकंडा होता है। दवाओं या अल्कोहल के प्रभाव में पीड़ित लड़ने या अपने साथ हो रहे लगत व्यवहार पर नियंत्रण करने में सक्षम नहीं रह पाता है।

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK