Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

इन लक्षणों से जानें कि भावनात्‍मक रूप से असहज है आपका बॉयफ्रेंड

रिलेशनशिप सफल तभी हो सकता है जब कोई मानसिक रूप से हमेशा साथ निभाता रहे, ऐसे में अगर आपका बॉयफ्रेंड भावनात्‍मक रूप से असहज है तो उसके क्‍या लक्षण होंगे, इसके बारे में इस स्‍लाइडशो में पढ़ें।

डेटिंग टिप्स By Gayatree Verma May 20, 2016

बॉयफ्रेंड और मानसिकता

किसी रिश्‍ते का पैमाना क्‍या होना चाहिए, क्‍या यह एक सुखद अनुभव है, या फिर एक बोझ है, या फिर यह सामाजिक बंधन है, आदि बातें दिमाग में तब आती हैं जब कोई रिलेशनशिप कठिन दौर से गुजर रहा होता है। इसके लिए काफी हद तब एक-दूसरे का व्‍यवहार भी जिम्‍मेदार होता है। बात अगर लड़कियों की हो तो इस मामले में वे बहुत ही सहनशील होती हैं, इसलिए रिश्‍ते को बढ़ाने के लिए वे सभी तरह के समझौते भी कर लेती हैं। लेकिन अगर बॉयफ्रेंड का व्‍यवहार बर्दाश्‍त करने लायक न हो, वह मानसिक रूप से बहुत आक्रामक हो तो ऐसे रिश्‍ते से निकलना बहुत जरूरी है। कुछ समय के लिए समझौता करना सही हो सकता है, लेकिन अगर बॉयफ्रेंड की मानसिक स्थिति ही ऐसी हो तो उससे बाहर निकलना जरूरी है। ऐसे रिश्‍ते की पहचान कैसे करें और इससे कैसे बाहर निकलें, आदि बातों की पड़ताल हम इस स्‍लाइडशो में कर रहे हैं।

इज्जत नहीं देता

इमोशनली अब्युज़िव ब्वॉयफ्रेंड अपनी गर्लफ्रेंड को इज्जत नहीं देते। कुछ पहले दिन से ही इज्जत नहीं देते... वहीं कुछ समय बीतने के साथ इज्जत देना कम कर देते हैं। अगर वो आपसे कभी अच्छे से बात नहीं करते और आपकी बिल्कुल भी नहीं सुनते तो आपको उसके साथ अपना रिश्ता बढ़ाने से पहले दोबारा  सोचना चाहिए।

हावी रहता है अतीत

वो हमेशा अपने अतीत की कठिन और बुरी कहानियां सुनाते रहते हैं। कुछ भी बात होती है और वो उसे अपने अतीत से कनेक्ट कर हमेशा अपना रोना शुरू कर देते हैं। ऐसे में अगर आप ये सोचती हैं कि वो काफी बुरे दौर से गुजरा है और आप अपने प्यार, सिम्पैथी और विश्वास से उनके दुख को कम कर देंगी। तो आप गलत हैं। ऐसे लोग केवल अपने अतीत में रहते हैं और इनको लगता है कि इन्हीं के साथ केवल बुरा हुआ है।

महिलाओं की शिकायत

अगर आपका बॉयफ्रेंड हमेशा महिलाओं की शिकायत करते रहता है तो ये उसके इमेशनली अब्युसिव होने के संकेत हैं। ऐसे लोग महिलाओं द्वारा सताए हुए होते हैं। अतीत में इनकी एक्स-गर्लफ्रैंड और एक्स-वाइफ ने इन्हें काफी टॉर्चर, परेशान और ब्लैकमेल किया होता है। सो इस रिश्ते को आप आगे बढ़ाने की सोच रही हैं तो आपको 100% कमिटमेंट के लिए तैयार रहना होगा जिससे उनका दिल भर सके।

खराब व्यवहार

वो हमेशा आपसे बुरे तरीके से व्यवहार करता है, आपके ऊपर हमेशा धौंस जमाते रहता है, आपको हमेशा रोकते-टोकते रहता है तो ये इमोशनली अब्युसिव होने के संकेत हैं। इस चीज से आपको निपटने की जरूरत है।

ऐसा होने पर रिश्ता खत्म करें

इमोशनली अब्युसिव होने में ड्रग्स लेना, शराब का सेवन, महिलाओं को बुरी नजर से देखना, शामिल है। हमेशा गुस्से में रहना। हमेशा अपने टूटे हुए दिल का रोना रोना। ये लोग बहुत ही अधिक डोमिनेटिंग होते हैं। हमेशा धौंस जमाते रहते हैं। अगर इनमें से कोई भी लक्षण आपके ब्वॉयफ्रैंड में हैं तो रिश्ते को खत्म करने में ही आपकी भलाई है।

इसपर अच्‍छे से विचार करें

अगर इन उपरोक्त दिए गए कोई भी लक्षणों में से एक भी लक्षण आपके बॉयफ्रेंड से मिलते हैं तो एक बार अपने रिश्ते के बारे में सोचें। हम सब सामान्य इंसान है। ना आप हीरोईन हैं और ना आपका ब्वॉयफ्रैंड हीरो की आप उसे अपने प्यार से बदल देंगी और फिल्म की एंडिंग की तरह सबकुछ अच्छा हो जाएगा। ये असल जिंदगी है जहां खराब चीजें और अधिक खराब होती हैं। सो एक बार सोचें।

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK