Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

सेक्स, प्यार और अंतरंगता : सेक्‍सुअलिटी को समझें और उसका आनंद लें

सेक्स कोई दबाने या छुपाने वाली चीज नहीं, इसके समाज में इस रूप का कारण इसके प्रति लोगों की समझ की कमी है। हर मनुष्य का सेक्‍सुअलिटी को समझना और उसका आनंद लेना जरूरी है।

सभी By Rahul SharmaMar 15, 2014

'सेक्स' समझ-समझ का फेर

जैसे हजारों साल से हमारी पीढ़ियां सेक्स से भयभीत होती और कराती आई हैं आप भयभीत न होना। इसे समझने और पहचानने की कोशिश करना, इस बारे में बात करना। सेक्स के संबंध में हो रही आधुनिक खोजों को जानना और पढ़ना, चर्चा करना और समझने की कोशिश करना कि वास्तव मे क्या है सेक्स? तो चलिए आज बारे में जरी खुल कर बात करते हैं।

सेक्स की गलत परिभाषा

हमने सदा सेक्स को दबा-छुपा कर रखने वाली चीज बना कर रखा है। हम तो इसके बारे में बात करने में भी भयभीत होते हैं। बाहर की दुनिया में तो सेक्स के वास्तविक रूप को इस प्रकार छिपा कर रख दिया है जैसे वह है ही नहीं, मानो जैसे उसका जीवन में कोई स्थान नहीं है। लेकिन सच्चाई तो यह है कि सेक्स से ज्यादा महत्वपूर्ण मनुष्य के जीवन में और कुछ भी नहीं है। बशर्ते इसे ठीक से समझा जाए। दबाने और छिपाने से इंसान सेक्स से मुक्त नहीं हुआ, बल्कि वह और भी बुरी तरह से सेक्स से ग्रसित हो गया। दमन उलटे परिणाम लाया है...।

सेक्स, प्रेम और वासना

प्यार और सेक्स में गहरा संबंध है, लेकिन वासना इससे बिल्कुल अलग है। सेक्स को वासना से जोडड देने पर यह प्रेम को खतम कर देता है। सेक्स को समझ कर और इसका सही अनुसरण कर प्यार मजबूत होता है। इसलिए प्यार के लिए सेक्स करें, वासना के लिए नहीं। इसका साथ में आनंद लें, इसे महसूस करें और अपनी और अपने रिश्ते की शक्ति बनाएं, न कि इसे चोरी की तरह करें।

सेक्स कम्यूनिकेशन

पुरुष अक्सर बड़ी आसानी से संतुष्ट हो जाते हैं। वहीं महिलाएं इसमें छोडा अधिक समय लेती हैं। लेकिन सेक्स से जुड़ी कुछ ऐसी चीजें है जो दोनों ही बताते नहीं हैं या फिर खुद उन्हें उनकी जानकारी नहीं होती। ये वक्त आप दोनों के खुल कर बात करने का होता है। सेक्स के बारे में एक दूसरे से खुल कर बात करें, एक दूसरे की सेक्स को लेकर सोच, पसंद ना पसंद को जानें। नए प्रयोग करें और एक दूसरे का सेक्स में साथ दें।

बेहतर सेक्स के लिए फोरप्ले

पूर्ण सेक्स के लिए फोरप्ले महत्वपूर्ण है। इसके लिए किस से शुरुआत करें। किस एक ऐसा मीठा और प्यार भरा अहसास है, जो आपके पार्टनर को आपके प्यार की गहराई आसानी से समझा देता है। आप फोरप्ले के दौरान कहीं भी किस कर सकते हैं जैसे कि होठों, गालों, गर्दन और शरीर के बाकी हिस्सों पर भी। फोरप्ले में सेक्स का हर वो हिस्सा होता है जो चरम की ओर ले जाता है।

कहीं भी, कभी भी

पहले जान लें कि फौरप्ले का मतलब इंटरकोर्स नहीं है, यह सेक्स को महसूस करने का एक ऐसा तरीका है जो सुखद अहसासों से भरा होता है। फोरप्ले सिर्फ बिस्तर पर ही नहीं बल्कि कहीं भी शुरू कर सकते हैं जैसे कि घर के किसी भी कोने में, पार्क में, कार में, लिफ्ट में या जहां भी आपको सही लगे। जगह और तरीके बदल-बदल कर फोरप्ले करें, इससे आपको हर बार एक नए प्रकार का एक्साइटमेंट होगा।

तैयारी है जरूरी

इसके लिये प्लानिंग करें और एक लिस्ट बनाएं कि आपको करना क्या है। आप क्या नया कर सकते हैं। हो सके तो इसके लिये साथी के लिए पसंदीदा भोजन बनाएं। अपने साथी के पसंदीदा कपड़े पहनें ताकी उत्तेजक दिख सकें और इन खास पलों में कोई कमी न रहने पाए। अगर आप दोनों को पोर्न पसंद है तो साथ पोर्न देखने की व्यवस्था भी कर सकते हैं।

रिश्ते में थोड़ी गर्माहट लाएं

अपको अपने रिश्ते में सेक्स की और सेक्स के लिए जोश और जुनून की जरूरत होती है। तो कुछ ऐसा करें कि रिश्ते में गर्माहट बनी रहे। अपने साथी को मंद सी रोशनी में मोहक सा शॉवर बाथ कराने का आइडिया दें। देखिए, ऐसे में आपके साथी के हाथ खुद ही आपके बदन की ओर खिचे चले आएंगे। एक-दूसरे को उत्तेजित करने के लिए इस तहर के खास पलों को देर तर इंजॉय करें। इस दौरान कोई बेहतरीन और मदहोश करने वाली खुशबुओं वाले शॉवर जेल का भी इस्तेमाल आप दोनों को और भी रोमांटिक बना देगा। जब मोका भी है और माहौल भी तो बदन सुखाने के लिए दो नहीं बल्कि एक ही गर्म तौलिया रखें।

जानें एक दूजे की पसंद

अक्सर साथियों को एक दूसरे से सेक्स में उनकी पंसद को खुल कर कहने में शर्म आती है। इसलिए एक बार, दो बार नहीं, बार-बार उनसे इस बारे में पूछें। एक दूसरे को इसके प्रति सहज बनाएं। इसका भी एक प्यारा सा तरीका है। उन्हें विकल्प दें, सेक्स गेम खेलें। उन्हें ये अहसास कराएं की सेक्स उनके प्यार की पंसद, प्रदर्शन और जरूरत है। इस पर उन दोनों का पूरा हक है।

सेक्स में सभ्यता या असभ्यता नहीं होती

अगर आप कामकाजी और व्यस्त कपल हैं, और तहजीब व तौर-तरीकों के आदी हैं तो आपके लिए जरूरी है कि सेक्स को लेकर आप असभ्य तरीका भी अपनाएं। बेडरूम में सहमती होती है सभ्यता नहीं, उसे व्यवहीरिक जीवन के लिए रखें। सेक्स को लेकर एक दूसरे के साथ कोई डाउट न रखें। सेक्स में खुला पन आपको दूसरों की ओर होने वाले आकर्षण से भी बचाता है।

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK