• shareIcon

इन 7 कारणों से हमें अपने दोस्तों से होती है जलन

दो दोस्तों के बीच का रिश्ता कमाल का होता है, लेकिन कई बार बेहद प्यार और परवाह होने के बावजूद भी कई कारणों के चलते दोस्त के लिये जलन की भावना पैदा हो जाती है।

डेटिंग टिप्स By Rahul Sharma / Jul 31, 2015

दोस्त से जलन


अहमद फ़राज़ ने एक बार ये शेर कहा था ....

इस से पहले कि बेवफ़ा हो जाएं
क्यूं न ऐ दोस्त हम जुदा हो जाएं...

दोस्ती एक बेहद खूबसूरत रिश्ता होता है। दोस्त से हम कुछ भी साझा कर लेते हैं और रिलेक्स महसूस करते हैं। अच्छे दोस्तों के साथ दुख कम हो जाता है और खुशियां दोगुनी। दो दोस्तों के बीच का रिश्ता कमाल का होता है, लेकिन कई बार बेहद प्यार और परवाह होने के बावजूद भी दोस्त के लिये जलन की भावना पैदा हो जाती है। इसके कई कारण होते हैं, चलिये जानते हैं ऐेस ही 7 कारण जिनसे हमें अपने दोस्तों से होती है जलन -
Images source : © Getty Images

जलन और ईश्या के बीच का फर्क


हमें जानना होगा कि जलन और ईर्ष्या के बीच बड़ा फर्क है और इन दोनों के दो पहलू होते हैं। यदि कभी जलन और ईर्ष्या के बीच रस्साकशी हो तो ईर्ष्या की यकीनन जीत होगी।हालांकि इन शब्दों का उपयोग परस्पर एक दूसरे के बदले में किया जाता है, पर दोनों के बीच बड़ा अंतर है। जलन मामूली होती है, और अक्सर अधिक दिखाई देती है। ईर्ष्या किसी व्यक्ति की आत्मा से जोंक की तरह चिपक जाती है और काफी मानसिक ऊर्जा नष्ट कर देती है।
Images source : © Getty Images

जब बीच में आ जाए कोई नया दोस्त



हम आमतौर पर दोस्तों पर भावनात्मक रूप से काफी निर्भर भी होते हैं, लेकिन इस निर्भरता के बढ़ने से धीरे-धीरे असुरक्षा की भावना भी कहीं न कहीं घर करने लगती है। ऐसे में जब लगे कि कोई तीसरा दोस्त आप दोनों के बीच आ रहा है, तब ईर्ष्या घर कर जाती है।
Images source : © Getty Images

फ्रेंड की जॉब या प्रमोशन


अपने फ्रेंड की खुद से अच्छी जॉब या प्रमोशन को देखकर भी कई बार दोस्त से जलन हो सकती है। आप अपने दोस्त को बेशक बहुत पसंद करते हो, लेकिन उसकी जलन की भावना को अनदेखा नहीं कर पाते।
Images source : © Getty Images

अचीवमेंट के साथ एडजस्टमेंट


जलने वाला व्यक्ति किसी को कभी भी आगे नहीं बढ़ते देख सकता, फिर चाहे व उसका दोस्त ही क्यों न हो। जिन ऊंचाइयों को वह खुद नहीं छू सकता, वहां आपके पहुंचने पर बुरा महसूस करता है। कई बार यह भी होता है कि आपके फ्रेंड के मन में आपके लिए जलन का भाव नहीं होता। लेकिन आपकी अचीवमेंट के सामने खुद को छोटा महसूस करता है।
Images source : © Getty Images

बढ़ाई में बेहतर प्रदर्षन


'अगर दोस्‍त फेल हो जाए, तो दुख होता है, लेकिन दोस्‍त अगर फर्स्‍ट आ जाए, तो बहुत ज्यादा दुख होता है।' फिल्‍म 'थ्री-इडियट्स' का यह संवाद बेहद व्यवहारिक है। एग्ज़ाम के नतीजे आने के बाद अपने नंबरों के बाद सबसे पहले आप अपने करीबी दोस्‍त के नंबर देखते हैं। और अगर कहीं उसके नंबर आपसे ज्‍यादा हुए, तो सीने में जलन जरूर आ जाती है।
Images source : © Getty Images

लड़की के कारण


कई बार जब आपके दोस्त की नज़दीकियां उस लड़की से बढ़ जाती हैं जो आपको बेहद पसंद होती है, तो दिल में अपने दोस्त के प्रति जलन की भावना पैदा होने लगती है। आपके दोस्त की गर्लफ्रैंड अगर ज्यादा खूबसूरत हो तब भी ऐसा होता है।  
Images source : © Getty Images

पॉपुलरिटी से


कई बार अपोजिट सेक्स में आपकी पॉपुलरिटी से भी दोस्तों को चिढ़ने लगते हैं। आपको यह नहीं भूलना चाहिए कि सचमुच के दोस्तों और दिखावा करने वालों में बहुत थोड़ा सा फर्क महसूस होता है। ईर्ष्या के भाव के लक्षण से ढूटे दोस्तों को पहचानने में मदद करता होती है।
Images source : © Getty Images

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK