• shareIcon

ट्रेडमिल एक्सरसाइज और इसके फायदे

आपकी उम्र, वजन या लिंग चाहे जो कुछ भी हो, ट्रेडमिल पर वर्कआउट करने से आपको बहुत लाभ होता है, बशर्ते इसे ठीक ढ़ंग से किया जाए।

एक्सरसाइज और फिटनेस By Rahul Sharma / Jun 07, 2014

ट्रेडमिल एक्सरसाइज

आप कोई भी कसरत कर लें, लेकिन जब तक आप ट्रेडमिल पर दौड़ नहीं लगा लेते, आपका वर्कआउट अधूरा ही माना जाता है। आपकी उम्र, वजन या लिंग चाहे जो कुछ भी हो, ट्रेडमिल पर वर्कआउट करने से आपको बहुत लाभ होता है। ट्रेडमिल पर वर्कआउट करने के कई फायदे होते हैं। इससे आप फिट तो रहते ही हैं साथ ही आपके शरीर के सारे अंग भी चुस्त बने रहते हैं। लेकिन ट्रेडमिल एक्सरसाइज के पूरे फायदे लेने के लिए इसे ठीक से करना ज़रूरी है। तो चलिये जाने ट्रेडमाल एक्सरसाइज करने के करीके और इसके फायदों के बारे में।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

सही जूते पहनें

एक्सरसाइज के लिए लोग जूतों को तरजीह नहीं देते या फिर उनका ध्यान जूतों के लुक्स पर अधिक रहता है, जबकि ट्रेडमिल पर या सामान्य रनिंग के लिए जूतों के सोल में एक्स्ट्रा पैडिंग होनी चाहिए। इससे पैरों आरामदायक स्थिति में बने रहते है और दड़ते समय  पैरों पर अधिक ज़ोर नहीं पड़ता। जूते ठीक न होने पर पैरों में दर्द, मोच जैसी दिक्कतें आ सकती हैं। या फिर आपका संतुलन बिगड़ सकता है।  
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

दौड़ते हुए नीचे देखना

जब भी ट्रेडमिल पर दौड़ें या वॉक करें, तो सामने ही देखें। यदि आप नीचे देखेंगे या फिर पैरों की गितिविधी पर ध्यान देंगे, तो आपका ध्यान हट सकता है और आप फिसल सकते हैं। वहीं नीचे देखने पर कमर या गर्दन की नस में भी खिंचाव आ सकता है।  
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

दौड़ते समय हैंडल पकड़ना

कई लोग ट्रेडमिल पर दौड़ते समय हैंडल पकड़ लेते हैं, ताकि उनको सहारा मिल जाए। लेकिन फिटनेस एक्सपर्ट्स इसे सही नहीं मानते। उनकी राय में ऐसा करने से शरीर को सहारा मिल जाता है और कैलोरी सही प्रकार बर्न नहीं होती। यदि आप इंक्लाइन मोड पर हैं, तब भी बहुत आगे की ओर झुककर नहीं चलना चाहिए।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

मुंह से सांस लेना

यदि आप ट्रेडमिल पर दौड़ते समय मुंह से सांस लेते हैं तो इसका मतलब है कि आपको अपने रेस्पिरेटरी सिस्टम को दुरुस्त करने की आवश्यकता है। इसके बचने के लिए आप डीप ब्रीदिंग की प्रैक्टिस करें, ताकि नाक से गहराई से सांस लेते हुए आपके शरीर को पूरी ऑक्सिजन मिले।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

दौड़ने से पहले स्ट्रेचिंग ना करना

किसी भी ट्रेनिंग प्रोग्राम के लिए शरीर में फ्लेक्सिबिलिटी का होना बेहत जरूरी है। इसलिए अगर आप बिना स्ट्रेचिंग के ट्रेडमिल पर एक्सरसाइज करेंगे तो आपको थकान जअधिक होगी और चोट लगने की आशंका भी अधिक हो जाएगी। ऐसे में मसल्स पर भी खिंचाव सबसे ज्यादा परेशान करता है। ट्रेडमिल पर दौड़ने से पहले हमेशा पांच मिनट की स्ट्रेचिंग प्रैक्टिस जरूर करें और उतरने के बाद भी।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

बेहतर मैटाबालिज्म

ट्रेडमिल पर एक्सरसाइज करने से शरीर का मैटाबालिज्म बढ़ता है। शरीर का मैटाबालिज्म रेट शरीर की कार्य प्रणाली को सूचारू करने में मदद करता है। शरीर का मैटाबालिज्म जितना ज्यादा होता है, शरीर में उतनी ही ज्यादा एनर्जी होती है। बढ़े हुए मैटाबालिज्म से वडजन कम करने में भी मदद मिलती हैं।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

मजबूत हड्डियां

यह देखा गया है कि जैसे-जैसे लोगों की उम्र बढ़ती है, उनकी हड्डियां भी कमजोर होने लगती हैं। लेकिन अगर आप नियमित रूप से  ट्रेडमिल पर दौड़ लगाएं तो आपकी हड्डी की मोटार्इ बढ़ेगी और हड्डी जितनी मोटी होगी वह उतनी ही मजबूत बनेगी।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

टोन मसल्स

ट्रेडमिल पर रनिंग करने से ना केवल वजन घटता है बल्कि शरीर की मासपेशियां भी टोन होती हैं। ध्यन रहे अच्छे शेप में आने के लिये मासपेशियों का टोन होना जरुरी है। ट्रेडमिल पर एक्सरसाइज करने से पैर, जांघ, पेट और कुल्हे पर जोर पड़ता है और इनका शेप बोहतर होती है।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

दिल के लिए स्वास्थ्यकर

ट्रेडमिल पर दौड़ने से शरीर में आक्सीजन की मात्रा ठीक होती है और इसका ठीक प्रवाह होता है। इसे करने से पसीना आता है और  त्वचा के पोर्स खुल जाते हैं, शरीर से गंदगी बाहर निकलती है और त्वचा कुछ ही दिनों में चमकदार बन जाती है।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK