Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

गर्मियों में होने वाली बीमारियों से बचाव के तरीके

गर्मी के मौसम में बीमारियों का प्रकोप बढ़ जाता है, लू लगना, डायरिया, आदि बीमारियां अधिक गर्मी के कारण होती है, इसलिए थोड़ा सावधानी बरतें।

एक्सरसाइज और फिटनेस By Nachiketa SharmaMay 22, 2014

गर्मी के कारण होने वाली बीमारियां

गर्मी का मौसम शुरू होते ही बीमारियों का प्रकोप बढ़ जाता है, अगर आपने थोड़ी सी लापरवाही कर दी तो लू, हीट स्‍ट्रोक, पेट की समस्‍या, अतिसार, आदि कई बीमारियों की चपेट में आसानी आ सकते हैं। इसलिए जरूरी है कि गर्मी के मौसम में इन बीमारियों से बचने के तरी‍के आजमायें जायें। आपकी थोड़ी सी सावधानी इन बीमारियों से बचाव कर सकती है।

image courtesy - getty images

पानी पियें

गर्मी में लू लगना, हीट स्ट्रोक की समस्‍या, पेट की समस्या से बचने के लिए जरूरी है खूब पानी पियें। अन्‍य मौसम की तुलना इमें इस मौसम में शरीर को ज्यादा पानी की आवश्यकता होती है। यदि उचित मात्रा में पानी न पिया जाए, तो कोशिकाओं में पानी की कमी हो जाती है जिससे इलेक्ट्रोलाइट का संतुलन बिगड़ जाता है और बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है।

image courtesy - getty images

घर में ही रहें

गर्मी में बीमारियें से बचने के लिए घर में रहना ज्‍यादा बे‍हतर है। अगर बहुत जरूरी काम न हो तो घर से बाहर न निकलें। अगर बाहर जाना हो तो ऐसी जगह जायें जो ठंडी हो। यानी अगर आपको शॉपिंग करनी है तो सामान्‍य शॉप की बजाय मॉल्‍स में जाकर शॉपिंग कीजिए इससे आपको गर्मी नहीं लगेगी।

image courtesy - getty images

हल्‍के कपड़े पहनें

गर्मी के मौसम में बीमारियों से बचने के लिए हल्‍के कपड़े पहनें। आपके कपड़ों का न केवल वजन हल्‍का हो बल्कि उनका रंग भी हल्‍का होना चाहिए। इस समय काले रंग के कपड़े बिलकुल न पहनें, ज्‍यादा से ज्‍यादा सफेद कपड़े ही पहनें।

image courtesy - getty images

सनस्‍क्रीन का प्रयोग

गर्मी के मौसम में धूप के संपर्क में आने से त्‍वचा संबंधित बीमारियां जैसे - रैशेज, टैनिंग आदि हो सकती है। इससे बचने के लिए जरूरी है बाहर निकलते वक्‍त सनस्‍क्रीन का प्रयोग करें। बाहर निकलते वक्‍त एसपीएफ 15-20 वाले सनस्‍क्रीन का प्रयोग कीजिए, इससे 12-15 घंटे तक आपकी त्‍वचा सूर्य की हानिकारक किरणों से बच सकेगी।

image courtesy - getty images

छतरी या टोपी

गर्मी के प्रकोप से बचने के लिए बाहर निकलते वक्‍त अच्छे से तैयारी करके जायें, यानी छतरी या टोपी का प्रयोग करें। इससे आपका शरीर सूर्य की सीधे संपर्क में नहीं आता है और गर्मी नहीं लगती।

image courtesy - getty images

बाहर जाने का समय

गर्मी के मौसम में बाहर जाने के समय को निर्धारित कीजिए। कोशिश कीजिए कि दोपहर के वक्‍त बाहर निकलने से बच सकें, क्‍योंकि इस वक्‍त सबसे ज्‍यादा गर्मी होती है। शाम के वक्‍त या सुबह के वक्‍त ही घर से बाहर निकलिये।

image courtesy - getty images

फल और सब्जियां

गर्मी के प्रकोप को कम करने और आपको बीमारियों से बचाने में ताजे फल और हरी सब्जियों का बहुत महत्‍वपूर्ण योगदान रहता है। इस मौसम में ककड़ी, खीरा, तरबूज, खरबूज आदि का सेवन करना चाहिए।

image courtesy - getty images

अधिक थकान से बचें

इस मौसम में ऐसी कोई एक्‍टीविटी न करें जिसके कारण थकान हो सकती है। अगर आप व्‍यायम करते हैं तो आउटडोर व्‍यायाम न करें, सुबह के वक्‍त जब मौसम ठंडा हो तभी व्‍यायाम करें।

image courtesy - getty images

खानपान का ख्‍याल करें

इस मौसम में खानपान में अनियमितता के कारण पेट की समस्‍या, डायरिया, उल्‍टी, फूड प्‍वॉइजनिंग हो सकती है। इसलिए खानपान पर विशेष ध्‍यान दीजिए। बाहार का और डिब्‍बाबंद खाना बिलकुल न खायें।

image courtesy - getty images

बेकिंग सोडा और एलोवेरा जेल

गर्मी के मौसम में तेज धूप से अक्सर त्वचा पर एलर्जी या रैशेज हो ही जाते हैं। इनसे छुटकारे के लिए आप रैशेज पर एलोवेरा जेल लगाएं जिससे त्वचा को ठंडक मिलेगी और रैशेज ठीक हो जायेंगे। नहाने के पानी में चुटकी भर बेकिंग सोडा मिलाकर नहाने से भी गर्मियों में त्वचा पर एलर्जी नहीं होती है।

image courtesy - getty images

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK