Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

ये 9 संकेत कैंसर की तरफ करते हैं इशारा

कैंसर डरावनी बीमारी हो सकती है लेकिन यह लाइलाज नहीं है, अगर कैंसर का निदान समय पर हो जाये तो उपचार बहुत ही आसान है, कैंसर से जुड़े इन लक्षणों को जानकर करें कैंसर का निदान।

कैंसर By Aditi Singh May 27, 2015

कैंसर के लक्षण

कैंसर के शुरूआती लक्षणों को अगर पहचान लिया जाये तो इसे खतरनाक स्‍टेज तक जाने से रोका जा सकता है। शुरुआती अवस्‍था में पहचान होने के बाद इसके उपचार में आसानी भी होती है और इसके कारण होने वाली मौतों को भी रोका जा सकता है। कैंसर के लक्षण इस बात पर निर्भर करते हैं कि वह किस तरह का कैंसर है। समय रहते ही अगर कैंसर के लक्षणों को पहचान लिया जाए तो इससे बचा जा सकता है। इसके लिए जरूरी है कि आप कैंसर के लक्षणों के बारे में जानें।
ImageCourtesy@gettyimages

असामान्य रूप से वजन कम होना

जिन लोगों को कैंसर होता है उनका वजन असामान्य रूप से कम होने लगता है। अगर बिना किसी प्रयास के शरीर का वजन 10 पौंड से ज्यादा कम हो जाये तो इसे कैंसर का प्राथमिक लक्षण के रूप में देखा जा सकता है।वयस्कों का वजन आसानी से नहीं घटता लेकिन यदि आप बिना किसी कोशिश के दुबले होते जा रहे हैं तो जरूर ध्यान देने की बात है । यह कैंसर का संकेत हो सकता है ।
ImageCourtesy@gettyimages

बुखार

बुखार होना बुखार कैंसर का एक सामान्य लक्षण होता है। कैंसर के कारण शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता कमजोर हो जाती है, जिसके कारण शरीर बीमारियों से खुद की रक्षा नहीं कर पाता और अक्सर बुखार की शिकायत होती है। ब्लड कैंसर, ल्यूकीमिया इत्यादि में अक्सर बुखार के लक्षण नजर आते हैं।
ImageCourtesy@gettyimages

मूत्र असंयम

मूत्राशय में बदलाव मूत्र त्यागने के समय अगर पीड़ा होती हो अथवा मूत्र में रक्त की मौजूदगी पाई जाती हो तो ये प्रोस्टेट कैंसर अथवा डिम्बग्रंथि कैंसर के लक्षण हो सकते हैं। मूत्र असंयम की समस्‍या भी कैंसर का लक्षण हो सकती है। थकान कैंसर का एक प्रमुख लक्षण माना जाता है। इसमें मरीज बिना वजह थका थका महसूस करता है। कभी-कभी तो वह हाथ पांव से काम करने लायक भी नहीं रहता।
ImageCourtesy@gettyimages

सर दर्द की शिकायत

 

ब्रेन ट्यूमर के मरीजों को सर दर्द की शिकायत रहने लगती है। ऐसा सर दर्द जो प्राथमिक उपचार से या दवा से भी न ठीक हो, उसे ब्रेन ट्यूमर का लक्षण माना जा सकता है। टेस्टिकल्‍स में बदलाव टेस्टिकल्‍स का बदलना टेस्टिकुलर कैंसर संकेत हो सकता है। अगर आपके टेस्टिकल्‍स का आकार बढ़ रहा है तो इसे नजरअंदाज न करें। हर दर्द कैंसर की निशानी नहीं लेकिन यदि दर्द बना रहे, तो वह कैंसर भी हो सकता है । पेट में दर्द अंडाशय का कैंसर हो सकता है ।
ImageCourtesy@gettyimages

त्वचा काली पड़ना

त्वचा में परिवर्तन होना त्‍वचा में असामान्य रूप से परिवर्तन होना कैंसर कैंसर का शुरुआती लक्षण हो सकता है। अगर किसी व्यक्ति की त्वचा बेवजह सांवली या काली पड़ने लगी हो तो यह कैंसर का संकेत हो सकता है। त्वचा का पीला पड़ना भी कैंसर का शुरुआती लक्षण हो सकता है। तिल जैसा दिखने वाला हर निशान तिल नहीं होता । ऐसे किसी भी निशान के त्वचा पर उभरने पर डॉक्टर को जरूर दिखाएं । यह स्किन कैंसर की शुरूआत हो सकता है ।
ImageCourtesy@gettyimages

लम्बे समय से कब्ज

आंत में समस्‍या आंतों में सामान्‍य समस्‍या होना बड़ी बात नहीं, लेकिन अगर लगातार आंतों में समस्‍या है तो यह कोलेन या कोलोरेक्‍टल कैंसर का शुरुआती लक्षण हो सकता है। डायरिया और अपच की समस्‍या इस लक्षण को दर्शाते हैं। इसके कारण पेट में गैस और पेट में दर्द की समस्‍या भी हो सकती है। यदि आपको खाना पचाने में दिक्कत हो रही है तो तुरंत डॉक्टर से मिलें ।
ImageCourtesy@gettyimages

निगलने में तकलीफ

गले में कैंसर का यह एक अहम संकेत है । नर्म खाना खाकर काम चलाने के बजाय डॉक्टर से मिलें ।यदि गले में खराश बनी रहती है और खांसने में खून भी आता है, तो ध्यान दें । जरूरी नहीं कि यह कैंसर ही हो लेकिन सावधानी जरूरी है । खासकर यदि कफ ज्यादा दिन तक बना रहे ।
ImageCourtesy@gettyimages

गांठ का होना

कभी भी कहीं भी यदि गांठ महसूस हो तो उस पर ध्यान दें । हालांकि हर गांठ खतरनाक नहीं होती । स्तन में गांठ होना स्तन कैंसर की तरफ इशारा करता है, इसे डॉक्टर को जरूर दिखाएं ।यदि कोई घाव तीन हफ्ते के बाद भी नहीं भरता है तो डॉक्टर को दिखाना बेहद जरूरी है ।स्‍तनों में गांठ होना ब्रेस्‍ट कैंसर के लक्षण हैं। ब्रेस्‍ट कैंसर केवल महिलाओं को ही नही होता, पुरुष भी इसकी गिरफ्त में आते हैं
ImageCourtesy@gettyimages

मुंह में धब्बे

यदि स्‍मोकिंग और तंबाकू चबाने के दौरान मुंह या जीभ में सफेद दाग व धब्‍बे दिखे तो यह कैंसर के लक्षण हो सकते हैं। यह ओरल कैंसर के लक्षण हैं।लिम्फ नोड्स में परिवर्तन होना भी कैंसर का संकेत है। लिम्फ नोड्स में या गले में एक गांठ या सूजन हो तो चिंता का विषय है।मुख के भीतरी किसी स्थान पर कोई सफेद चिह्न बन जाना, मुख से लार टपकना व दुर्गंध आना, मुंह खोलने में कठिनाई होना, बोलने में कठिनाई का अनुभव होना आदि लक्षण होते हैं।
ImageCourtesy@gettyimages

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK