• shareIcon

फेसबुक पर आपकी ये दस आदतें कर सकती हैं दूसरों को परेशान

फेसबुक हमारी जिंदगी का हिस्सा है। यहां हम अपने दिल की बातें साझा करते हैं। लेकिन, जाने-अनजाने हम कई ऐसी गलतियां कर जाते हैं, जो दूसरों की परेशानी का सबब बन सकती हैं। सोशल मीडिया पर काम करने का एक सलीका होता है। और यदि आप इससे अनजान हैं, तो आपको इसे स

मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य By Bharat Malhotra / Jun 20, 2014

फेसबुक पर खतायें

हम सब यह करते हैं। कई बार हम फेसबुक पर ऐसी टिप्प्ण‍ियां करते हैं, जिन्हें लेकर हमें बाद में अफसोस हो सकता है। कई बार लोगों की हरकतों से आप परेशान हो जाते हैं। आइए जानते हैं कि फेसबुक पर लोग क्या-क्या करते हैं, जिससे वे दूसरों की परेशानी की वजह बन सकते हैं। Image Courtesy- images.boomsbeat.com

बार-बार अपना नाम बदलना

लोगों को न जाने क्यों बार-बार फेसबुक पर अपना नाम बदलने की चाह होती है। वे आए दिन अपना नाम बदलते रहते हैं। कभी उपनाम आगे कर देते हैं, तो कभी मुख्य नाम। कभी कोई तकल्लुस जोड़ देते हैं। अरे जनाब, अपने नाम को लेकर इतने तुजुर्बे करने की आख‍िर जरूरत क्या है।

अपना प्यार जताना

फेसबुक पीडीए यानी Public Display of Affection करने की भी लोगों में बुरी आदत होती है। शादी के बाद वे सारी दुनिया को बताते हैं कि वे साथ कितने खुश हैं। वे एक दूसरे को कितना प्यार करते हैं। हद तो तब हो जाती है, जब वे ये पोस्ट करते हैं कि सोफे पर साथ बैठकर टीवी देख रहे हैं। सच में... भई प्यार है तो दिखावा क्यों।

प्रोफाइल शेयर करना

लोग अकसर अपना प्रोफाइल साझा करते हैं। शादीशुदा या डेट कर रहे जोड़ों में यह चलन ज्यादा देखने को मिलता है। तो, जब आपको किसी एक से मैसेज मिलता है, तो आप अकसर इस बात को लेकर आश्वस्त नहीं होते कि आख‍िर आपको यह मैसेज किसने भेजा है। इसके साथ ही आप यह भी नहीं समझ पाते कि किसे बर्थडे की शुभकामना दी जाए। इससे न केवल दुविधा पैदा होती है, बल्कि खीझ भी मचती है।

मुझसे समझदार कोई नहीं

जानकारी होना अच्छी बात है और उसे साझा करने में भी कोई बुराई नहीं। लेकिन, फेसबुक पर कुछ लोग यह मान लेते हैं कि उनसे समझदार कोई दूसरा है ही नहीं। प्रस‍िद्ध लोगों की उक्तियां लगाना या पुरानी कहावतें लगाकर वे अपने कथित ज्ञान का आभास कराते रहते हैं। ऐसे स्वयंभू लोग यह जताने का प्रयास करते हैं कि उनसे समझदार कोई दूसरा है ही नहीं। सबसे ज्यादा परेशान करने वाली बात यह है कि ये उनका निजी ज्ञान नहीं होता, बल्कि उन्हें गूगल के सौजन्य से प्राप्त हुआ होता है।

फेसबुक पर पीछा करना

कुछ लोग ऐसे होते हैं, जिनकी नजर हमेशा आपके फेसबुक प्रोफाइल पर होती है। वे हरदम यह देखते रहते हैं कि आप फेसबुक पर क्या कर रहे हैं। वे इसमें आनंद लेते हैं। इसमें दीवाने एक्स, या कोई रिश्तेदार हो सकता है। ऐसे लोगों के पास अपना करने के लिए कुछ नहीं होता, इसलिए वे हमेशा आपकी जिंदगी के बारे में जानने की कोशिश करते रहते हैं।

हैशटैग लगाना

अरे भई इसे बंद भी कर दो। अगर आपका ट्विटर या इंस्टाग्राम अकाउंट फेसबुक से नहीं जुड़ा हुआ है, तो हैशटेग लगाने का आपको कोई फायदा नहीं। इसे बंद करें, बहुत हो चुका। आपको सोशल मीडिया इस्तेमाल करने का तरीका सीखना चाहिये।

अपनी मस्ती की तस्वीर

माना कि आपको अपनी तस्वीरें खींचने का शौक है, लेकिन अपनी टेढ़ी-मेढ़ी शक्ल बनाकर फेसबुक पर डालने से बचें। कभी आप अपनी साइड पोज फोटो डालते हैं, तो कभी किसी और तरह की। अब बस कीजिये...

आप कहां, हमें क्या

किसी को परवाह नहीं कि आप कहां हैं, क्या कर रहे हैं, कहां जा रहे हैं। क्या आप यह जानना चाहेंगे कि आपके सभी फेसबुक फ्रेंड कहां हैं और कहां जा रहे हैं। नहीं ना, तो फिर अपनी कहानी क्यों बयां कर रहे हैं।

हजारों बार अपने बच्चों की तस्वीर डालना

बेशक, आपके बच्चे बहुत खूबसूरत हैं, और आपको उनकी तस्वीर डालना पसंद है। लेकिन, हजारों बार उनकी तस्वीर डालना भी ठीक नहीं। भले ही आप यह सब संतान मोह में कर रहे हों, लेकिन कहीं न कहीं आप दूसरों की परेशानी का सबब बन सकते हैं।

अपना रिलेशनश‍िप स्टेटस बदलना

आज आप सिंगल हैं और अगले दिन आप रिलेश‍नशिप में हैं और दूसरे दिन आपका रिश्ता 'कॉम्प्लीकेटेड' हो जाता है। और इसके बाद आप फिर एक बार सिंगल हो जाते हैं। यह चक्कर क्या है। बस करें... बार-बार इस तरह की हरकतें दूसरों को परेशान करती हैं।

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK