• shareIcon

खामोश होंठों से कैसे बरसायें प्‍यार

किस, चुंबन आप इसे किसी भी नाम से पुकारें, ये रिश्‍ते पर प्रेम और भरोसे की मुहर है। आंख बंद कर बस अपने साथी के होंठों को चूमना किसी ध्‍यान और दिव्‍य अनुभूति से कम नहीं। लेकिन, आखिर किस की इस कला में महारत कैसे हासिल की जाए।

डेटिंग टिप्स By Pradeep Saxena / May 24, 2014

रूमानियत भरा किस

चुंबन केवल शारीरिक मिलन नहीं है। रूमानियत से भरी किस में आप बेहद करीब होते हैं। ना सिर्फ जिस्‍मानी तौर पर बल्कि मानसिक तौर पर भी। होंठों की छुअन, दरअसल आत्‍मा को छू जाती है। आप एक दूसरे की सांसों को न सिर्फ महसूस करते हैं, बल्कि एक दूसरे की सांस लेते हैं।

शरीर से होती है शुरुआत

किस के लिए आकर्षण की चिंगारी तो जिस्‍मानी तौर पर ही भड़कती है। यह किसी रिश्‍ते की गांठ पक्‍की होने की शुरुआत है। चुंबन अगर सही प्रकार किया जाए, तो यह दिव्‍यानुभूति होता है। लेकिन, हल्‍की सी चूक न सिर्फ इसके आनंद को खराब करती है, बल्कि साथ ही साथ आपको शर्मिंदा भी कर सकती है। तो, आखिर एक बेहतर 'किसर' कैसे बना जाए। और कैसे कर पाएंगे आप एक ऐसा किस जो होंठों से होता हुआ सीधा दिल में उतर जाए।

अपने साथी को दें पूरी तवज्‍जो

किसिंग होंठों के नृत्‍य जैसा है। लोग गालों पर प्‍यार और स्‍नेह भरे चुंबन से लेकर उत्‍तेजक फ्रेंच किस तक कई रूप तक अपने प्रेम की अभिव्‍यक्ति करते हैं। सबसे पहले आपको अपने साथी को समझना होगा। यह जानना होगा कि उसे क्‍या पसंद है। और फिर उसकी पसंद और रूचि के हिसाब से किस करना होगा। आप ध्‍यान और अनुभव से ही बेहतर किसर बन सकते हैं। किसी भी अन्‍य काम की तरह आपको सबसे पहले तकनीक समझनी जरूरी है और उसके बाद ही आप इसमें कलाकारी कर सकते हैं।

मोटरसाइकिल चलाना जैसा नहीं

भले ही आप कितने ही हुनरमंद और अनुभव हो, लेकिन सिर्फ यही एक चीज आपको बेहतर और शानदार किसर नहीं बनाती। यह मोटरसाइकिल की सवारी की तरह नहीं है। अच्‍छे किसर खुद को दोहराते नहीं। उनके पास अपने साथी के लिए हर बार कुछ नया होता है। कुछ ऐसा जिससे वे अपने साथी को चौंका सकें। खुद को उस किस में पूरी तरह डुबो दें। दुनिया के बारे में न सोचें। आप फ्रेंच किस कर रहे हों या फिर सामान्‍य, उस लम्‍हे में आपके जेहन में और आपकी नजर में सिर्फ और सिर्फ आपका साथी होना चाहिए।

धीमी हो शुरुआत

पहले उस चांद से चेहरे को चूमिये। होंठों के आसपास, लेकिन होंठों पर नहीं। फिर पीछे हटें और अपने साथी को निहारें। यदि आपका साथी खुद आपकी ओर बढ़ रहा है, तो यह आपके लिए अच्‍छा संकेत है। आपके साथी को आपकी चाहत बनी रहनी चाहिए। ऐसा न हो कि वह आपको स्‍वयं पर आरोपित महसूस करे। साथी के होंठों पर किस करते समय नजाकत बरतें। आप उसके होंठों पर अपने होंठ रख सकते हैं। या फिर निचले होंठों को जरा सा बाहर खींच सकते हैं। कुछ लोगों को होंठों पर दांतों का दबाव अच्‍छा लगता है, तो कुछ को यह बिलकुल पसंद नहीं होता। देखिये कि आपके साथी को क्‍या पसंद है और फिर वही कीजिए।

साथी की शारीरिक भाषा को समझें

इस कला में महारत हासिल करने के लिए आपको साथी की आवाज और शारीरिक भाषा पर ध्‍यान देना होगा। कुछ लोगों को अपने चेहरे पर हाथ अच्‍छे लगते हैं, तो कुछ ऐसा नहीं पसंद करते। किसी की चाहत होती है कि वह आपकी बाहों में कसकर जकड़ी रहे, तो कोई किस के दौरान थोड़़ी ढीली पकड़ चाहती है। और हां जैसे-जैसे आप किस में डूबते जाएंगे, प्रेमरस में डूबे आपके होंठ फिसलने लगेंगे।

महिलाओं और पुरुषों की चाहत होती है अलग

इस बात में कोई हैरानी नहीं कि किस को लेकर महिलाओं और पुरुषों की चाहत अलग होती है। 1041 कॉलेज स्‍टूडेंट्स पर किए एक शोध में इस बात पर मुहर लगी। महिलाओं की नजर में जहां किस किसी रिश्‍ते की शुरुआत और उसे मजबूत करने का जरिया है, वहीं पुरुषों की नजर में यह सेक्‍स से पहले की जाने वाली क्रिया भर है।

तनाव करे दूर

किस आपको तनाव से मुक्ति दिलाने में मदद करता है। किस साथियों को करीब लाता है। आपसी मतभेद दूर करता है। मनोवैज्ञानिक मानते हैं कि किसिंग से तनाव पैदा करने वाले हॉर्मोंस खत्‍म होते हैं और साथ ही आपका रिश्‍ता मजबूत बनता है। ऐसा माना जाता है कि ज्‍यादा किस करने वाले युवा जोड़े ज्‍यादा खुश रहते हैं। मनोवैज्ञानिकों और सेक्‍स विशेषज्ञों का मानना है कि युवा जोड़ों को दिन में दो मिनट सब कुछ भुलाकर किस करना चाहिए। यदि आप उस लम्‍हे पर ध्‍यान केंद्रित करते हैं और अपने शरीर के अंदर का सफर करते हैं, तो यह किसिंग किसी ध्‍यान से कम नहीं।

सांसों की बदबू न बिगाड़ दे मूड

सांसों की बदबू, खराब दांत और बिगड़े हुए स्‍वाद का मुंह, किसिंग के आनंद को खत्‍म कर देता है। आपके मुंह की हालत बताती है कि आप अपना कितना खयाल रखते हैं। हालांकि, महिला और पुरुष दोनों मानते हैं कि सांसों की महक काफी महत्‍वपूर्ण है, लेकिन महिलायें इन सब बातों को लेकर अधिक संवेदनशील होती हैं।

और हां पूरा आनंद लें

सबसे जरूरी बात है कि आप किस का पूरा आनंद लें। किस करते समय सिर्फ उसी पर ध्‍यान दें। उसका पूरा आनंद उठायें। किस करते समय बस उस लम्‍हे में खो जाएं। अपने होंठों से अपनी प्रेमाभिव्‍यक्ति करें।

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK