Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

क्या आइसक्रीम ही आपका प्यार है

ज्यादातर लोगों को आइसक्रीम बहुत पसंद होती है। उनके लिए आइसक्रीम खाने का कोई वक्त नहीं होता है बस जब जी चाहा खा लिया। आइए जानें क्यों आप आइसक्रीम के दीवाने हैं।

स्वस्थ आहार By Anubha TripathiSep 17, 2014

आपका और आइसक्रीम का साथ

कुछ को खाने से प्‍यार होता है, तो कोई मीठा देखकर खुद को रोक नहीं पाता। और फिर नंबर आता है आइसक्रीम का। जो हर किसी की पसंदीदा होती है। आइसक्रीम सबसे ऊपर है। और इसके चाहने वालों को कुछ बताने की जरूरत नहीं है।

मुझे सब पता है

आइसक्रीम आपकी पसंद है। इसके हर स्‍वाद से वाकिफ हैं आप। हर ब्रांड और हर फ्लेवर चख चुके हैं आप। सबके बारे में आपको सब कुछ मालूम है। और आपको आइसक्रीम के बारे में इतनी जानकारी है कि कई बार ढेरों विकल्‍प आपके लिए मुश्किल पैदा कर देते हैं।

न सेहत की चिंता न मौसम की फिक्र

यूं तो आपको जुकाम है, गला भी थोड़ा खराब है। लेकिन, फिर क्‍या हुआ आइसक्रीम तो आप कभी भी खा लेंगे। बहाना भी तैयार है, ठंड को ठंड मारती है। और इस बीमारी को भी आइसक्रीम की ठंडक ही मारेगी। और क्‍या कहा सर्दियों में आइसक्रीम कौन खाता है। अमां जो मजा सिर पर मफलर बांध कर आइसक्रीम खाने में जो मजा है, उसका कोई मुकाबला नहीं।

मैं तो आइसक्रीम लूंगा

खाना तो हो गया और अब बारी डेजर्ट की। आपके साथी इस ऊहापोह में हैं कि आखिर डेजर्ट में क्‍या खाया जाए। गुलाब जामुन, रबड़ी या फिर खीर। लेकिन आपका दिल तो कहीं और रमा है। आपको तो पहले से मालूम है कि आपको क्‍या चाहिये। उन लोगों को लड़ने दीजिये, आप अपना ऑर्डर दीजिये- 'मेरे लिए एक बटर स्‍कॉच।'

आज तो आइसक्रीम ही काफी है

आज खाने का मन नहीं है। रोज-रोज एक ही प्रकार का भोजन कर मन ऊब गया है। आपको किस बात की फिक्र। चिंता को साइड में रखिये और बोलिये- आज तो आइसक्रीम से ही पेट भर लिया जाएगा। और किसी चीज की जरूरत नहीं है।

मेरा सच्‍चा हमसफर

आप बाहर जाते हैं, तो आपको किसी साथी की जरूरत नहीं। आपके लिए तो आइसक्रीम कॉन ही काफी है। जब भी आप आप घूमने जाएं, आपके हाथों में यह कॉन होता है और आप बड़े चाव से इसका मजा लेते हैं। क्‍या कहा, हमेशा ऐसा नहीं होता। चलिये, कोई बात नहीं, लेकिन अकसर तो ऐसा होता है ना। अरे शरमाने की क्‍या बात है, आखिर आइसक्रीम ही तो है।

कुछ हो न हो तुम तो हो

आपके फ्रिज में भले ही कोई और आइटम न हो, लेकिन आइसक्रीम हमेशा मिल जाती है। आखिर इसके बिना आपकी गाड़ी चल भी कैसे सकती है। यह तो आपकी लाइफलाइन है ना, आपकी बॉडी का फ्यूल।

रूप बदला, प्‍यार नहीं

अलग-अलग रंगों की आइसक्रीम आपको ज्‍यादा पसंद आती है। आप खुद को उन्‍हें चखने से रोक नहीं पाते। आखिर हो भी क्‍यों न। वैसे अलग रंगों की आइसक्रीम के लिए आपका प्‍यार ही दिखाता है कि आखिर आप इसके इश्‍क में गिरफ्तार हैं।

सबको मालूम है और सबको खबर हो गई


अब आपका प्‍यार इतना गहरा है कि सबको इसके बारे में पता है। वो कहते हैं कि इश्‍क और मुश्‍क छुपाये नहीं छुपते। तो फिर दूसरों को कैसे न पता हो आपकी मुहब्‍बत का। आपके मुहल्‍ले के दुकानदार को मालूम है कि अपने पसंदीदा फ्लेवर के बिना आप रह ही नहीं सकते। इसलिए वह हमेशा उसे स्‍टॉक में रखता है। आखिर रिलेशनशिप भी कोई चीज होती है।

कोशिश की तुझे बनाने की...

अब प्‍यार इतना है कि मन किया उसे अपने हाथों से बनाया जाए। लेकिन, हाय री किस्‍मत मेरे हाथ नाकामी ही आयी। कितने प्‍यार से आपने रेसिपी बुक में से पढ़-पढ़कर आइसक्रीम तैयार करने की कोशिश की। मगर ये हो न सका। और आखिर में इसकी चाहत में आपने एक बार फिर बाजार की गलियों का रुख किया।

आज मैं खुश हूं

लोग तो दुख में इसे याद करते हैं। लेकिन, आप तो इसके साथ अपनी खुशियां और गम सब साझा करते हैं। जब भी आपको कोई भी ऐसी खबर मिलती है, जिसे सुनकर आप फूले नहीं समाते। तो, आप दौड़कर आइसक्रीम के पास जाते हैं। उसे अपने होंठों से लगाते हैं। सबसे पहले उसी से तो साझा करते हैं अपनी खुशी। आखिर अपनी खुशी अपने सबसे करीबियों से तो सबसे पहले साझा की जाती है। क्‍यों, सही कहा ना...

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK