Mother's Day 2020 : मां बनने के बाद रोजाना सेवन करें इन 4 तरह के सुपरफूड्स, आपके साथ शिशु को भी मिलेगी ताकत

एक नई मां के लिए अपने शिशु के साथ खुद के खानपान का ध्‍यान रखना जरूरी होता है, इस मदर्स डे (Mother's Day 2020) इन सुपरफूड्स से रखें खुद को हेल्दी।

स्वस्थ आहार By Atul Modi / Oct 16, 2015
प्रसव के बाद का आहार

प्रसव के बाद का आहार

मां बनने के बाद महिला की असली चुनौती शुरू होती है। जन्‍म के बाद 6 महीने तक बच्‍चे का आहार केवल मां का दूध होता है, इसलिए मां को अपनी सेहत का विशेष ध्‍यान रखना पड़ता है। सेहतमंद रहने के लिए सबसे अधिक जरूरी है खानपान। नई मां के आहार में आयरन, विटामिन, मिनरल, प्रोटीन, कार्ब, आदि होने चाहिए। ये सभी चीजें कुछ सुपरफूड में मौजूद होती हैं। आइए हम आपको उन सुपरफूड के बारे में बताते हैं।

अंडा और मछली

अंडा और मछली

नई मां को घी इसलिये दिया जाता है क्‍योंकि जिससे उसके शरीर में ऊर्जा आए और उसके सभी घाव जल्‍दी भर जाए।डिलिवरी के बाद अंडा एक महत्वपूर्ण भोजन है। इसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। अंडा प्रोटीन और जिंक से भरा होता है। यह गर्भावस्था के दौरान हुए बदलाव के बाद आपके स्वस्थ रहने में मदद करेगा और आपकी रिकवरी को भी तेज करेगा। सी-सेक्शन के बाद मछली खाना सबसे अच्छा माना जाता है। ऐसी मछली का चुनाव करें जिसमें ओमेगा-3 फैटी एसिड पाया जाता हो। यह आपको स्वस्थ रखने में मदद करेगा।

पानी और दूध

पानी और दूध

डिलिवरी के बाद शरीर को स्वस्थ रखने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी पीना बेहद जरूरी होता है। इससे आपका शरीर हाइड्रेटेड रहेगा। साथ ही, शरीर को पर्याप्त मात्रा में पानी मिलने से शरीर में बच्चे के लिए पर्याप्त मात्रा में दूध का भी निर्माण होगा। दूध में बड़ी मात्रा में कैल्सियम पाया जाता है। जब आप स्तनपान करा रहे होते हैं, तब इसकी बहुत ज्यादा जरूरत होती है। ब्रेस्ट मिल्क के प्रोडक्शन के लिए शरीर को कैल्सियम की जरूरत होती है। दिन में दो ग्लास दूध पीना आपके लिए फायदेमंद रहेगा।

हरी सब्जियां

हरी सब्जियां

मेथी के साग में  कई गुना आयरन और विटामिन के होता है। स्‍त्री के शरीर से जब सारा पौष्टिक तत्‍व निकल जाता है तो मेथी उसे पूरा करती है।बच्‍चा पैदा करने के बाद शरीर में जो भी हार्मोनल अंबैलेंस होता है उसे, ठीक करने के लिये लौकी और करेला खाना चाहिये। सहिजन का सेवन भी अच्छा होता है।इसे भारत में सब्‍जी के रूप में खाया जाता है। इससे शरीर में रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और इंफेक्‍शन दूध भागता है।

मेवे और पंजीरी

मेवे और पंजीरी

सूखे मेवों में अच्‍छा कोलेस्‍ट्रॉल, ऊर्जा और विटामिन ई पाया जाता है। नई मां को काजू, किशमिश, अखरोट और बादाम खाने को दिया जाता है। खासतौर पर इसे दूध में पीस कर दिया जाता है। इससे उन्‍हें ताकत मिलती है।न्यू मदर को ताकत देने वाली चीज़ें खाने की बहुत ज़रूरत होती है ताकि उसकी मांसपेशियों की रिकवरी अच्छे से हो। इसके लिए उसे कई प्रकार की चीज़ें खाने को दी जाती हैं जैसे गोंद के लड्डू, हलीम के लड्डू, गोंद पाग, मखाने का पाग, नारियल का पाग, हरीरा और खास जच्चा के लिए बनाई जाने वाली पंजीरी जिसमें कमरकस डाला जाता है जो उसके लिए बहुत लाभदायक होता है।

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK