Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

गर्मियों के ताप से आंखों को बचाने के 7 तरीके

गर्मी के मौसम में सूर्य की तपती किरणें और धूल भरी हवा हमारी नाजुक आंखों के लिए कहर साबित होती हैं। ऐसे में आंखों की सुरक्षा के लिए खास सावधानियां बरतने की जरूरत है।

आंखों के विकार By Shabnam Khan Mar 23, 2015

गर्मियों में करें आंखों की खास देखभाल

गर्मी के मौसम में सूर्य की तपती किरणें और धूल भरी हवा हमारी नाजुक आंखों के लिए कहर साबित होती हैं। ऐसे में आंखों की सुरक्षा के लिए खास सावधानियां बरतने की जरूरत है। नेत्र विशेषज्ञों के अनुसार गर्मियों में आंखों में एलर्जी, कंजंक्टिवाइटिस, ड्राई आई और स्टाइज की समस्याएं बढ़ जाती हैं। आइये जानते हैं किन 7 तरीकों को अपनाकर आप गर्मियों में अपनी आंखों को स्वस्थ रख सकते हैं।

Image Source - Getty Images

आंखों को ठंडे पानी से धोएं

चूंकि आंखों की प्रकृति ठंडक-पसंद है, अत: गर्मी के दौरान दिन में तीन बार एक गिलास पानी से धीरे-धीरे छींटे मारकर और धोनी चाहिए। आँखें साफ रखें। दिन में दो-तीन बार आँख को साफ पानी से जरूर धोएं।

Image Source - Getty Images

सनग्लासेज का चुनाव

सही सनग्लासेज सिर्फ एक फैशन एक्सैसरी नहीं है बल्कि जरूरत है। अत्यधिक ताप से आंखों को बचाने के लिए आपको हमेशा ऐसे सनग्लासेज का चुनाव करना चाहिए जो आपकी दोनों आंखों को अच्छी तरह कवर करते हों और यू.वी.ए तथा यू.वी. बी रेडिएशन को रोकते हों। आपके लैंस का रंग परावर्तन योग्य रोशनी के 80 प्रतिशत को ब्लॉक करता हो परन्तु 90 प्रतिशत से अधिक नहीं क्योंकि ऐसे में आपके लिए देखना मुश्किल हो जाएगा।

Image Source - Getty Images

भरपूर नींद से आंखों को आराम

आंखों को आराम सिर्फ भरपूर नींद से मिलता है। लिहाजा, पूरी नींद लेने में लापरवाही न बरती जाए। कम से कम सात-आठ घंटे सोने से आंखें चुस्त व दुरूस्त बनी रहती है।

Image Source - Getty Images

स्वीमिंग पूल में रखें आंखों का खयाल

गर्मियों में काफी लोग स्वीमिंग पूल में स्वीमिंग के लिए जाते हैं। स्वीमिंग पूल अमूमन एक से अधिक लोग इस्तेमाल में लाते हैं इसलिए वहां से आंखें संक्रमित होने का खतरा बढ़ जाता है। स्वीमिंग पूल में जाने पर बिना स्वीमिंग गॉगल के स्वीमिंग न करें वरना आँख में संक्रमण का खतरा रहता है।

Image Source - Getty Images

आंखों पर मसाज

शरीर के जिस भी अंग की मसाज या मालिश की जाती है वहां खून का संचार बढ़ जाता है। आंखों के अंदर तो तेल डाला नहीं जा सकता लेकिन उसके आसपास की जगह पर मालिश जरूर की जा सकती है। बादाम रोगन से आंखों के आसापास उंगलियों को हल्का दाब देते हुए गोलाई में मालिश करें। इससे आंखों के इर्दगिर्द की त्वचा पुष्ट होती है।

Image Source - Getty Images

गुलाब जल और खीरे से ठंडक

यदि आंखों में थकान महसूस हो तो गुलाब जल मिश्रित पानी में साफ रुई भिगोकर आंखों पर रखने से राहत मिलती है और तरोताजगी महसूस होती है। इसके अलावा, आंखें बंद करके उसपर खीरे की स्लाइज भी रखी जा सकती है। इससे आंखों को ठंडक मिलती है और साथ ही, डार्क सर्कल भी कम होते हैं।

Image Source - Getty Images

न बैठें एसी के सामने

सर्दियों में तो हम ड्राई आई न होने के लिए बहुत कोशिशें करते हैं लेकिन गर्मियों में ये सोचकर कोई कोशिश नहीं करते कि इस वक्त आंखें ड्राई नहीं होती। गर्मियों में ड्राई आई एसी की हवा से होती है। इसलिए, एयरकन्डीशनर के एकदम सामने न बैठें।

Image Source - Getty Images

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK