• shareIcon

कैसे सोएं खर्राटों की आवाज के बीच चैन की नींद

खार्राटे अर्थात स्नोर न सिर्फ खर्राटे लेने वाले व्यक्ति के स्वास्थ के लिए अच्छे होते हैं, बल्कि इसके परिजनों के लिए तो मानों एक भी भीषण समस्या की तरह होते हैं।

अन्य़ बीमारियां By Rahul Sharma / Nov 20, 2014

खर्राटों की आवाज और नींद

खार्राटे अर्थात स्नोर न सिर्फ खर्राटे लेने वाले व्यक्ति के स्वास्थ के लिए अच्छे होते हैं, बल्कि इसके परिजनों के लिए तो मानों एक भी भीषण समस्या की तरह होते हैं। किसी एक के खर्राटे कईयों की नींद के दुष्मन हो जाते हैं। खर्राटों की समस्या के कारण 39 फीसदी वयस्क एक रात में औसतन डेढ घंटे की नींद खो देते हैं। तो फिर भला इस समस्या से कैसे बचा जाए? चलिये बाताते हैं कि कैसे आप खर्राटों की आवाज के बीच भी चैन की नींद सो सकते हैं।
Images courtesy: © Getty Images

क्या कहते हैं आंकडे

एक नए अध्ययन में पता चला है कि इन खर्राटों के कारण हर साल पत्नियों की तीन सप्ताह की नींद बर्बाद होती है। शोधकर्ताओं ने इ स संबंध में 2,500 वयस्कों पर किए गए इस सर्वे में पाया कि खर्राटे इस हद तक बुरे सपने की तरह होते हैं कि 39 फीसद पत्नियां शांति से सोने के लिए दूसरे कमरे में चली जाती हैं। सर्वे में पता चला कि नौ जोडों में एक जोडा केवल खर्राटे की समस्या की वजह से स्थायी रूप से अलग सोता है। गौरतलब है कि खर्राटे भरने की आदत के लिए केवल पुरूष ही दोषी नहीं होते, महिलाएं भी जम कर खर्राटे लेती हैं। लेकिन इसमें पुरुष अव्वल दर्जे पर हैं।
Images courtesy: © Getty Images

व्हाइट नोइस

व्हाइट नोइस तटस्थ ध्वनि का एक प्रकार है जोकि सभी तरंग दैर्ध्य शामिल किये होता है। यह खर्राटों की आवाज को हल्का कर देता है और हल्के शोर में शओने की शक्ति भी बढ़ाता है। व्हाइट नोइस प्राकृतिक आवाजें होती हैं जिन्हें इंटरनेट से डाउनलोड किया जा सकता है।
Images courtesy: © Getty Images

व्हाइट नोइस के लिए टेबल फैन का इस्तेमाल करें

यदि आप अपने साथी के खर्राटों के प्रकोप से बचना चाहते हैं, सिर के पास टेबल फैन चलाकर सोएं। फैन से आने वाली आवाज व्हाइट नोइस का काम करती है और आप खर्राटों के बीच भी सो पाते हैं।  
Images courtesy: © Getty Images

ईयर फोन लगाकर सोएं

अगर आपको संगीत को शौक है तो सोते समय ईयर फोन लगाकर मंद आवाज में स्लो म्यूजिक सुनें। हो सकता है कि ऐसा करना शुरुआत में आपके लिए थोड़ा असहज रहेगा लेकिन थोड़े ही समय में आपको इसकी आदत पड़ जाएगी और आप चैन की नींद ले पाएंगे। Images courtesy: © Getty Images

खुद बीमार न बन जाएं

रात में सात घंटे की चैन भरी नींद पूरी न होने पर व्यक्ति के हार्मोंस प्रभावित होते हैं जिससे वजन बढ़ने लगता है। और जब वजन बढ़ता है तो खर्राटे आने लगते हैं, क्योंकि मोटापा और खर्राटे एक दूसरे से जुड़े होते हैं। तो यदि आप समय रहते कुछ नहीं करेंगे तो आप भी रोगी बन जाएंगे।
Images courtesy: © Getty Images

ईयर प्लग इस्तेमाल करें

यदि खर्राटों की आवाज ने आपकी नींद चुरा ली है तो ईयर प्लग आपको इस समस्या से बचा सकते हैं। बाजार में कई तरह के ईयर प्लग आते हैं अपने कान के हिसाब से कोई एक फिट ईयर प्लग ले और इन्हें लागाकर सोएं।  
Images courtesy: © Getty Images

अलग सोएं

यदि कुछ भी काम नहीं करता है तो, खर्राते लेने वाले व्यक्ति से अलग जाकर सोएं, जहां तक उसकी आवाज न पहुंच पाए। यह आ पकी नींद को बचाने का एक ऐसा समाधान है तो आप आराम से और कभी भी कर सकते हैं।
Images courtesy: © Getty Images

समय रहते सचेत हों

खर्राटे लाना की स्वास्थ्य समस्याओं का संकेत या फिर कारण हो सकता है, तो अपने और अपने साथी दोनों की हा भलाई के लिए जल्द से जल्द इस समस्या के संबंध में चिकित्सक से संपर्क कर इलाज कराएं।  
Images courtesy: © Getty Images

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK