• shareIcon

आत्मविश्वास का कैसे करें निर्माण

जीवन में सफल होने के लिए आत्‍मविश्वास एक बेहद ही महत्‍वपूर्ण गुण है। लेकिन कुछ लोगों में इसकी कमी बचपन से होती है जबकि कुछ लोगों में जिन्‍दगी के अनुभवों के कारण इसमें कमी आने लगती है। परन्‍तु कुछ बातों को अपनाकर आप अपने आत्मविश्वास को बढा सकते हैं।

मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य By Pooja Sinha / Apr 14, 2014

आत्मविश्वास के निर्माण के उपाय

आत्‍मविश्‍वास, जीवन में सफलता की कुंजी है। आत्‍मविश्‍वास आपका जीवन ही नहीं बल्कि आपका संपूर्ण व्‍यक्तित्‍व को बदल देता है। आत्‍मविश्‍वास की कमी वाला व्‍यक्ति जीवन में आने वाली छोटी सी परेशानी से भी घबरा जाता है। जबकि आत्‍मविश्वास से परिपूर्ण व्‍यक्ति कठिन से कठिन परिस्थितियों का सामना भी आसानी से कर लेता है। इसलिए हमें आत्‍मविश्वास से परिपूर्ण होना चाहिए। आइए जानें आत्‍मविश्वास के निर्माण के लिए कुछ जरूरी बातें।

कमजोरियों को जानें

आत्मविश्वास के निर्माण के लिए जरूरी है कि अपनी शक्तियों और कमजोरियों को एक यथार्थवादी ढंग से समझने की कोशिश करें। इसके लिए अपने अंदर झांककर यह जाने कि आखिर वह कौन से कारण है जो परिस्थितियों का सामना करने की बजाय आपको कमजोर बना देता है।

व्यवहार को बदलें

आत्‍मविश्वास जगाने के लिये जरूरी है कि आपकी सोच सकारात्‍मक हो। मनोवैज्ञानिकों का कहना है कि व्यवहार को बदलकर भावनाओं को बदला जा सकता हैं। इसलिए प्रसन्न रहने की कोशिश करें ताकि नकारात्मक भावनाओं से लड़ने की शक्ति मिलती रहें। व्यवहार बदलकर आप अपने आत्मविश्वास में वृद्धि कर सकते हैं।

डर का सामना करें

बेझिझक होकर अपने डर का सामना करिए। इसके लिए उन बातों के बारे में सोचिए जिनका सामना करने से आप घबराते हैं। इसके लिए आपको समस्‍या की जड़ तक पहुंचना होगा और यह समझने की कोशिश करनी होगी की आखिर वह कौन सा भय है जो आपको जीवन में आगे बढ़ने में बाधक बन रहा हैं।

गलतियों से सीखें

गलतियों से घबराएं नहीं बल्कि अपनी गलतियों से सीखें। क्‍यों‍कि गलतियां कमियों को बताती है और उस कमी को दूर करके आप कामयाबी को पा सकते हैं। जिससे आपके आत्‍मविश्वास का निर्माण होगा।

पहनावे में बदलाव

पहनावा भी हमारे आत्‍मविश्‍वास पर बहुत प्रभाव डालता है। अच्‍छे से तैयार होने पर हमारे अन्‍दर एक अलग सी एनर्जी आती है। और समाने वाले पर भी काफी अच्‍छा प्रभाव पड़ता है। अपने पहनावे को लेकर छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखकर आप अपने आत्मविश्वास के स्‍तर का निर्माण कर सकते हैं।

उपलब्धियों को याद करिए

उपलब्धियां आत्मविश्वास के निर्माण में बहुत सहायक होती है। इसलिए अपनी पुरानी उ‍पलब्धियों को याद रखें। इसके लिए उ‍पलब्धियों को एक डायरी में लिखें ताकि आप इसे कभी भी देख पाएं। खासतौर पर तब जब आप अपना आत्‍मविश्वास बढ़ाना चाहते हैं।

बॉडी लैंग्‍वेज को सुधारें

आत्‍मविश्वास के निर्माण में बॉडी लैंग्‍वेज का बहुत बड़ा योगदान होता है। चलने, खड़े होने और उठने बैठने का तरीका हमारे अंदर आत्‍मविश्वास को दर्शाता है। इसलिए जब भी बैठें या चले तो गर्दन और कन्‍धों को झुकाकर रखने की बजाय सीधा रखें। इसके अलावा किसी से भी नजर चुराकर नहीं, बल्कि नजर मिलाकर बात करें।

एक्‍सरसाइज करें

एक्‍सरसाइज और पर्याप्त नींद से आप अपने आत्‍मविश्वास का निर्माण कर सकते हैं। क्‍योंकि इन दोनों व्यवहारिक गुणों से मूड अच्छा रहता है और आप आंतरिक और बाह्य दोनों ही रूपों में अच्छा महसूस करेंगे।

लक्ष्‍य निर्धारित करें

बिना किसी लक्ष्‍य के जीवन में खालीपन आने लगता है, जो आत्‍मविश्वास को भी खोखला कर देता है। इसलिए अपने जीवन का लक्ष्‍य निर्धारित करें। समय का अधिक सदुपयोग करें। कुछ भी करने से पहले अपने लक्ष्‍य व उद्देश्‍य को जरूर निर्धारित करें। फिर देखें कि आपके आत्‍मविश्वास का निर्माण कैसे होता है।

ध्‍यान का सहारा लें

आत्‍मविश्‍वास के निर्माण और बढ़ाने में ध्‍यान का बहुत योगदान होता है। इससे न केवल आत्‍मविश्वास बल्कि आपके पूरे व्‍यक्तित्‍व का विकास होता है। ध्‍यान से मन शांत और एकाग्रचित होता है। इसलिए ध्‍यान और योग को अपनी दिनचर्या में शामिल करें।

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK