Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

ऐसे करें मेलाज्मा का घरेलू उपचार

मेलाज्मा त्वचा की बीमारी है। इसमें त्वचा के कुछ हिस्सों पर भूरे रंग के दाग हो जाते हैं। मुख्य रूप से यू वी किरणों के कारण ऐसा होता है। मेलाज्मा का घरेलू उपचार मुमकिन है। घर में मौजूद नींबू, हल्दी, पपीते, ओटमील आदि से इस बीमारी का उपचार किया जा सकता ह

घरेलू नुस्‍ख By Shabnam Khan Nov 21, 2014

त्वचा की बीमारी है मेलाज्मा

मेलाज्मा त्वचा की वह बीमारी है जिसमें त्वचा पर गहरे भूरे रंग के धब्बे पैदा हो जाते हैं। खासतौर पर त्वचा के उन हिस्सों पर जो धूप में खुले रहते हैं। महिलाओं में हार्मोन परिवर्तन होने पर यह समस्या पैदा हो जाती है। मेलाज्मा का उपचार लेजर तकनीक से संभव तो है, लेकिन ये इलाज बहुत महंगा होता है। इस बीमारी का घरेलू इलाज भी संभव है। घर में ऐसी चीज़े आसानी से मिल जाती हैं, जिनसे हम मेलाज्मा का उपचार कर सकते हैं। हालांकि ये उपचार थोड़ा धीरे-धीरे होता है लेकिन, इसमें खर्च न के बराबर आता है। तो आइये जानते हैं मेलाज्मा के घरेलू उपचार के कुछ आसान तरीके।

Image Source- Getty Images

नींबू का रस

नींबू का रस प्राकृतिक रूप से त्वचा का रंग हल्का करता है। नींबू की अम्लीय प्रकृति त्वचा की बाहरी परत को निकालने में मदद करती है। इस तरह से मेलाज्मा वाली त्वचा भी निकल जाती है। इसके लिए नींबू का रस निकालें और उसे रूई से प्रभावित जगह पर लगाएं। एक दो मिनट के लिए हल्के हाथों से रगड़ें। बीस मिनट के लिए छोड़ दें। फिर गुनगुने पानी से धो लें।

Image Source- Getty Images

ऐप्पल साईडर विनेगर

ऐप्पल साईडर विनेगर में ऐसीटिक ऐसिड मौजूद होता है जो एक शक्तिशाली ब्लीच तत्व है। ये त्वचा से दाग-धब्बे हटाता है और त्वचा को स्मूद व चमकदार बनाता है। ऐप्पल साईडर विनेगर और पानी को एक अनुपास में मिलाएं। इसे मेलास्मा के धब्बों पर लाएं और हवा में सूखने दें। उसके बाद गुनगुने पानी से त्वचा धो लें। इसे हफ्ते में एक बार लगाएं।

Image Source- Getty Images

हल्दी

हल्दी में एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं जिससे त्वचा के दाग धब्बे दूर होते हैं और रंगत में निखार आता है। 10 चम्मच दूध में 5 चम्मच हल्दी मिलाएं। इस मिक्चर को गाढ़ा करने के लिए एक चम्मच चने का आटा मिलाएं। इसका पेस्ट बनाकर प्रभावित स्थानों पर लगाएं और 20 मिनट के लिए छोड़ दें। उसके बाद त्वचा को धो कर मुलायम तौलिया से सुखा लें।

Image Source- Getty Images

प्याज का रस

प्याज के रस में सल्फर मौजूद होता है जो त्वचा के काले धब्बों को हल्का करता है। इसके अलावा प्याज का रस त्वचा की कोशिकाओं को पोषण देता है। दो या तीन प्याज काटें या घिसें। इन्हें मलमल के कपड़े में रखें और निचोड़ लें। अब इस प्याज के रस को उसके बराबर की मात्रा के ऐप्पल साईडर विनेगर में मिला लें। प्रभावित स्थानों पर लगाएं और 20 मिनट के लिए छोड़ दें। उसके बाद गुनगुने पानी से त्वचा को धो कर मुलायम तौलिया से सुखा लें। कुछ हफ्तों तक इसे दिन में दो बार लगाएं।

Image Source- Getty Images

ऐलोवेरा जेल

ऐलोवेरा जेल में पालीसैकराइड की उपस्थिति होती है जो मेलास्मा के दाग हटा कर त्वचा की असली रंगत वापस ले आता है। इसके साथ ही ये मृत त्वचा कोशिकाओं को भी निकाल देता है। ऐलोवेरा लीफ को आधा काटें और ताज़ा जेल निकाल लें। इस जेल को इसकी प्राकृतिक अवस्था में ही प्रभावित हिस्सों में लगाकर मसाज करें। 15-20 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर गुनगुने पानी से धो लें।

Image Source- Getty Images

ओटमील

ओटमील में प्राकृतिक रूप से परत उतारने वाले तत्व मौजूद रहते हैं, ये चेहरे से भूरे धब्बे हटा सकते हैं। इसके लिए दो चम्मच ओटमील पाऊडर को दो चम्मच दूध और एक चम्मच शहद के साथ मिला लें। प्रभावित स्थानों पर लगाएं और 20 मिनट के लिए छोड़ दें। उसके बाद गुनगुने पानी से त्वचा को धो कर मुलायम तौलिया से सुखा लें। सप्ताह में दो-तीन बार इसे लगाएं।

Image Source- Getty Images

पपीता

पपीता में मौजूद सक्रिय ऐन्जाइम पपाइन मेलाज्मा का उपचार कर सकता है। ये नष्ट त्वचा और मृत त्वचा कोशिकाओं को निकालने में भी मदद करता है। पके ही पपीते का गूदा निकालें और मैश कर लें। इसे प्रभावित स्थानों पर लगाएं और 15-20 मिनट के लिए छोड़ दें। उसके बाद पानी से त्वचा को धो लें।

Image Source- Getty Images

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK