Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

बच्‍चों में एडेनॉयड और टॉन्सिल के उपचार के 7 घरेलू नुस्‍खे

बच्‍चों को आसानी से कोई भी बीमारी हो सकती है, क्‍यों‍कि उनका इम्‍यून सिस्‍टम कमजोर होता है, इसमें टॉन्सिल भी एक समस्‍या है, यह लाइलाज नहीं है, बस कुछ बातों का ध्‍यान रखकर इसका उपचार किया जा सकता है।

घरेलू नुस्‍ख By Aditi Singh Apr 08, 2015

बच्चों को टॉन्सिल

टॉन्सिलाइटिस होने पर टॉन्सिल्स में यानी गले के दोनों तरफ सूजन आ जाती है। शुरुआत में मुंह के अंदर गले के दोनों ओर दर्द महसूस होता है, इसके कारण बार-बार बुखार भी होता है। टॉन्सिल्स की परेशानी बच्चों में ज्यादा देखने को मिलती है। टॉन्सिलाइटिस होने पर गले में दर्द, खाना निगलने में तकलीफ, गले में सूजन, बुखार, सिरदर्द, जीभ पर सफेद परत जमना आदि समस्‍या होती है। लेकिन अगर कुछ बातों को ध्‍यान में रखा जाये तो टॉंन्सिल की समस्‍या का उपचार किया जा सकता है।
ImageCourtesy@Gettyimages

नमक पानी का गरारा

अगर आपका बच्चा टॉन्सिल की समस्या से परेशान हो तो उसे तुंरत ही नमक पानी से गरारा कराएं। एक गिलास गर्म पानी में एक टेबलस्पून चम्मच नमक मिलाकर गरारा कराएं। नमक की उच्च साद्रता ज्वलनशील ऊतकों से लिक्विड को निकालने में मदद करती है जिससे सूजन कम हो जाती है। जिसकी वजह से बैक्टीरिया को फैलने का मौका नहीं मिल पाता है। साथ ही नमक पानी का गरारा गले के दर्द में भी राहत देता है।
ImageCourtesy@Gettyimages

नींबू और शहद

शहद के एंटी बैक्टीरियल होने के साथ इसकी प्रज्वलनरोधी गुण टॉंसिल की सूजन को कम करनें में मदद करते है। एक टेबलस्पून शहद में नींबू के जूस की 2-3 बूंद मिलाकर अपने बच्चे को दिन में तीन बार सेवन कराएं। ये गले के दर्द से राहत देगा।
ImageCourtesy@Gettyimages

अदरक है फायदेमंद

अदरक यह एक प्राकृतिक दवा के रूप में प्रयोग की जाती है। आप अदरक को शहद के साथ मिला कर चूस सकते हैं, इससे आपको तुरंत राहत मिलेगी। गरम पानी में नींबू का रस और ताजा अदरक पीस कर मिला दें, उसके बाद उस पानी से हर 30 मिनट के बाद गरारा करनें से भी राहत मिलगी।
ImageCourtesy@Gettyimages

गर्म खाना खिलायें

गरम चावल उबला हुआ चावल मुलायम होता है जिसको निकलने में आसानी होती है। मसालेदार चावल खाने की बजाए हमेशा प्‍लेन राइस खाइये। आप चाहें तो इसमें लौंग डाल कर खा सकते हैं।उबली पालक उबली और भाप में पकाई गई सब्‍जियों का सेवन गले के इंफेक्‍शन को ठीक कर सकता है। आप पालक का सूप काली मिर्च पाउडर डाल कर पी सकते हैं। टॉन्सिल को ठीक करने के लिये आप बिना सांभर के गरम गरम इडली खा सकते ImageCourtesy@Gettyimages

दर्द कम करे लहसुन

उबलते हुए पानी में 4-5 लहसुन डाल दीजिये और जब पानी अच्छे से उबल जाए तब उसे छान लीजिये। इसके बाद इस पानी से गरारा कीजिये। इससे दर्द भी ठीक हो जाएगा और मुंह से बदबू की शिकायत भी दूर हो जाएगी।
ImageCourtesy@Gettyimages

हल्दी रोग भगाये जल्‍दी

टॉन्सिल के उपचार के लिए हल्दी सर्वश्रेष्ठ औषधि है। इसका ताजा चूर्ण टॉन्सिल पर दबायें, गरम पानी से कुल्ले करवायें और गले के बाहरी भाग पर इसका लेप करें तथा इसका आधा-आधा ग्राम चूर्ण शहद में मिलाकर बार-बार चटाते रहें। रात को सोने से पहले एक गिलास गर्म दूध में थोड़ी सी हल्दी और काली मिर्च पाउडर डालकर इसका सेवन करने से टॉंसिल से राहत पाई जा सकती है।
ImageCourtesy@Gettyimages

तुलसी के पत्‍ते और शहद

तुलसी के पत्तों का रस शहद में मिला लें हल्का गुनगुना करके खाने से गले की खुजली और दर्द दूर होता है। सूजन में भी तुलसी का रस काफी फायदेमंद होता है। इसी प्रकार तुलसी की मंजरी के चूर्ण का उपयोग भी किया जा सकता है। 5 पत्ते तुलसी, 5 पत्ते काली मिर्च, 2 ग्राम या चने के बराबर अदरक को 1 कप पानी में उबालें। फिर छानकर पानी को पी लें। अगर चाहें तो इसमें आधा चम्मच चीनी और आधा चम्मच चाय पत्ती डालकर भी उबाल सकते हैं। रात को पीकर सोएं और इसे पीने के बाद कुछ खाएं-पिएं नहीं।
ImageCourtesy@Gettyimages

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK