Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

इम्‍यूनिटी को नुकसान पहुंचाते हैं ये आहार

छोटी-मोटी बीमारियां जैसे जुकाम, खांसी उन लोगों को ज्यादा तंग करती हैं, जिनकी इम्‍यूनिटी कमजोर होती है। अगर आप भी इस समस्‍या से परेशान हैं तो कुछ प्रकार के खाद्य पदार्थ से आपकी इम्‍यूनिटी को नुकसान हो सकता है।

एक्सरसाइज और फिटनेस By Pooja SinhaOct 18, 2014

इम्‍यूनिटी पर असर

क्या आप अक्‍सर कॉमन कोल्ड या वायरल संक्रमण से परेशान रहते हैं? और आपको हमेशा थकान और आलस्य महसूस होता है? यदि आपका जवाब हां है तो इसका अर्थ आपका इम्यून सिस्टम बहुत कमजोर है। वैसे तो इम्‍यूनिटी का कम होना, बचपन से होता है, परन्‍तु कई बार कुछ प्रकार के खाद्य पदार्थ खाने से भी आपकी इम्‍यूनिटी को नुकसान हो सकता है। आइए ऐसे ही कुछ खाद्य पदार्थों के बारे में जानें जो इम्यून सिस्टम को कमजोर बनाने का काम करते हैं। image courtesy : getty images

तले हुए खाद्य पदार्थ

अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के अनुसार, तले हुए खाद्य पदार्थ जैसे आलू के चिप्‍स, फ्रेंच फाइज और फ्राई पेस्‍ट्री, अतिरिक्त संतृप्त फैट का समृद्ध स्रोत हैं। साथ ही इसमें ट्रांस फैट भी होता है जो एलडीएल यानी बुरे कोलेस्‍ट्रॉल को बढ़ाने के साथ एचडीएल यानी अच्‍छे कोलेस्‍ट्रॉल को कम करता है। जो हृदय रोग के लिए जोखिम को बढ़ा देता है। इसलिए अपने आहार में इन तले हुए खाद्य पदार्थों के स्‍थान पर हेल्‍दी फैट जैसे नट्स, बीज, एवोकैडो और वनस्‍पति तेलों को शामिल करें। image courtesy : getty images

रेड मीट

रेड मीट संतृप्‍त वसा का एक समृद्ध स्रोत है, जो शरीर में सूजन को बढ़ता है। आपके शरीर में हानिकारक पदार्थ, चोटों और बीमारी के प्रति प्रतिक्रिया का एक आम तरीका है। अमेरिकन सोसायटी ऑफ न्‍यूट्रीशियन नवंबर 2013 के अंक में प्रकाशित समीक्षा के अनुसार, प्रोटीन के लिए आहार में रेड मीट के स्‍थान पर मछली को चुनना चाहिए। सामन, मैकेरल और हलिबेट जैसी ऑयली फिश ओमेगा-3 फैटी एसिड का समृद्ध स्रोत है और इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी के साथ आवश्‍यक फैट भी होता है। image courtesy : getty images

चीनी युक्त आहार

जिन नाश्‍तों को करने से आपकी शरीर की लचक खो जाती है, उन्‍ही नाश्‍ते को करने से इम्‍यूनिटी भी घटती है। आपको जानकर आश्‍चर्य होगा कि कैरामल आधारित पैनकेक का सेवन करने से भी शरीर की इम्‍यूनिटी पर बुरा असर पड़ता है। उपभोक्ता यूनाइटेड किंगडम के पर्यावरण लॉ सेंटर के अनुसार, लगभग 8 चीनी का चम्मच का इस्‍तेमाल शरीर से सफेद रक्त कोशिकाओं को कम कर देता है। स्वस्थ विकल्प के रूप में आप सेब की चटनी, सभी फलों से युक्त बार, स्टेविया के साथ कम मीठी चाय को शामिल कर सकते है। image courtesy : getty images

परिष्‍कृत अनाज

परिष्‍कृत अनाज जैसे सफेद आटा, चावल और पास्‍ता में प्राकृतिक साबुत अनाज की तुलना में बहुत कम पोषक तत्‍व और फाइबर होता है। "ब्रेन, बिहेवियर एंड इम्यूनिटी" नामक जर्नल के मई 2010 के अंक छपी रिपोर्ट के अनुसार, फाइबर का सेवन आपकी प्रतिरक्षा के कार्य को मजबूती देता है, इसलिए सफेद ब्रेड और अन्य परिष्कृत खाद्य पदार्थों के स्‍थान पर अपने आहार में 100 प्रतिशत पूरे अनाज को शामिल करें। पौष्टिक विकल्पों में जई, जौ, ब्राउन राईस और पॉपकॉर्न शामिल हैं। image courtesy : getty images

सोडा ड्रिंक

सोडा ड्रिंक का इस्‍तेमाल से शरीर को फायदा नहीं बल्‍िक नुकसान होता है। इससे हमें किसी भी तरह की एनर्जी नहीं मिलती है, लेकिन हम सोडा ड्रिंक के स्‍वाद का आनंद लेते हैं। शरीर की इम्‍यूनिटी के लिए मीठे सोडा ड्रिंक बहुत घातक होते है। इसके अत्‍यधिक सेवन से आंतों पर बुरा असर पड़ता हैं यहां तक कि आपकी आतें खराब भी हो सकती है। image courtesy : getty images

कैफीन और एल्‍कोहल

कैफीन और एल्‍कोहल का का सेवन भी आपकी इम्‍यूनिटी को नुकसान पहुंचाता है। इसके सेवन से शरीर का दैनिक चक्र भी बिगड़ जाता है और शरीर की इम्‍यूनिटी पर बुरा असर पड़ता है। जिन लोगों को अत्याधिक मात्रा में एल्कोहल पीने की आदत होती है तो उनका शरीर संक्रमण से लड़ पाने में असमर्थ हो जाता है। एल्कोहल नमी सोखने वाला होता है, जो कोशिकाओं से नमी खींचकर उन्हें समाप्त करने का काम करता है। अधिक मात्रा में शराब पीने से न केवल इम्यून सिस्टम संक्रमण से लड़ नहीं पाता। image courtesy : getty images

एसिड युक्‍त खाद्य पदार्थ

आहार जिनमें एसिड पाया जाता है जैसे- मार्केट में मिलने वाला अचार और मसाले आदि, ऐसी खाद्य सामग्री का सेवन करने से बचें। क्‍योंकि इससे पेट में एसिड ज्‍यादा बनता है और आपको जलन की समस्‍या हो सकती है जो बाद में आपकी इम्‍यूनिटी पर बुरा असर डालती है। साथ ही एसिड युक्त आहार के सेवन से पाचन क्रिया भी खराब हो जाती है। image courtesy : getty images

नट्स

कई लोग मानते है कि नट्स को खाने से शरीर को ताकत मिलती है। यह बात काफी हद तक सही भी हैं, लेकिन अगर आप एक सीमा से ज्‍यादा नट्स खाएंगे तो आपकी इम्‍यूनिटी कम हो जाएगी, क्‍योंकि आपका शरीर नट्स से मिली ऊर्जा पर निर्भर हो जाता है। image courtesy : getty images

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK