Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

सकारात्‍मक रहने के लिए रोज करें ये वादे

अच्‍छे दिन की शुरूआत खुद नहीं होती, इसके लिए आपको ही प्रयास करना होता है। आपके द्वारा किये गये काम और आपके विचार ही हर दिन हो खास बना सकते हैं, तो दिन को सकारात्‍मक बनाने के लिए कुछ प्रतिज्ञा लीजिए।

मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य By Nachiketa SharmaAug 30, 2014

हर दिन हो खास

अच्‍छे दिन की शुरूआत अपने आप नहीं हो जाती है, बल्कि इसके लिए आपको ही प्रयास करना होता है। आपके द्वारा किये गये काम और आपके विचार ही हर दिन हो खास बना सकते हैं। अगर आपको यह लगता है कि आपकी दिनचर्या पर सबसे अधिक प्रभाव आपके विचारों का पड़ता है तो दिन को सकारात्‍मक बनाने के लिए हर रोज आप अपने आप से कुछ वादें कर सकते हैं।

image source - getty images

मैं ही निर्माता हूं

खुद को अपने जीवन का निर्माणकर्ता मानिये, आप ही अपने जीवन के वास्‍तूकार हैं, तो कोशिश कीजिये कि इसे खुशहाल बनाने की। इसके लिए आप एक अच्‍छी नींव तैयार कीजिये और उसका दृढ़ता के साथ पालन कीजिए।

image source - getty images

ऊर्जा लायें

अपने दिन को ऊर्जावान बनाने की कोशिश कीजिए। 'आज मैं अपने दिन को ऊर्जा से भर दूंगा, आजका दिन आलस से नहीं खुशियों से भरा होगा' इस तरह के वादे कीजिए।

image source - getty images

स्‍वास्‍थ्‍य को लेकर

अगर आपने अपने शरीर को कमजोर और एनर्जीरहित समझ लिया तो आप सकारात्‍मक महसूस नहीं करेंगे। स्‍वस्‍थ शरीर के लिए यह वादा करें कि - 'आज मेरा शरीर स्‍वस्‍थ है, मेरा मन शानदार है और मेरी आत्‍मा शांत है।'

image source - getty images

नकारात्‍मक विचार

अगर व्‍यक्ति को मन और प्रयास के अनुरूप सफलता न मिले तो उसके मन में नरात्‍मक विचार आते हैं। इन नकारात्‍मक विचारों को दूर करने के लिए यह वादा करें - 'नकारात्‍मक विचारों और नकारात्‍मक कार्यकलापों से मैं ही सर्वोपरि हूं, इनका मुझपर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा और मैं फिर से प्रयास करूंगा।'

image source - getty images

प्रतिभावन हैं आप

हर व्‍यक्ति के अंदर प्रतिभा कूट-कूटकर भरी होती है, जरूरत होती है अपनी प्रतिभा पहचानने की और उसे दिखाने की। आज आप ये वादा कीजिए कि - 'मैं बहुत प्रतिभावान हूं, पहले सफलता नहीं मिली तो क्‍या हुआ, आज वक्‍त है जब मैं अपनी प्रतिभा का लोहा लोगों से मनवाउंगा और आज कुछ अलग करके दिखाउंगा।'

image source - getty images

माफ भी करें

वर्तमान और भविष्‍य में जीने की कोशिश करें, क्‍योंकि जो बीत गया वो आने वाला नहीं है। तो आज यह भी वादा करें - 'जिन्‍होंने मुझे दुख पहुंचाया है, जिन्‍होंने मेरा नुकसान किया है, जिन्‍होंने मुझे धोखा दिया है उन सबको मैं माफ करता हूं, और आगे मैं उन्‍हें किसी तरह का नुकसान भी नहीं पहुंचाउंगा।'

image source - getty images

क्रोध नहीं करुंगा

क्रोध और अहंकार व्‍यक्ति का सबसे बड़ा दुश्‍मन होता है, अगर आपने क्रोध पर काबू पा लिया तो समझिये कि बहुत बड़ी जंग जीत ली है। क्रोध को कम करने के लिए प्रतिज्ञा कीजिए कि - 'मैं नदीं की तरह निर्मल बनुंगा जिसमें करुणा है और जो सरल है, खुदपर क्रोध को कभी हावी नहीं होने दूंगा।'

image source - getty images

स्‍वयं बनें मार्गदर्शक

लोग आपको सलाह दे सकते हैं, लेकिन आपके द्वारा लिये गये निर्णय ही आपको सफल बनाते हैं, तो खुद ही अपना मार्गदर्शक बनें। यह प्रतिज्ञा लीजिए कि - 'मैं ही अपना मार्गदर्शक हूं और मेरे द्वारा लिया गया हर निर्णय मेरे द्वारा ही निर्देशित होगा।'

image source - getty images

संबंधों को लेकर

आपसी संबंध तभी बेहतर हो सकते हैं जब आपका रवैया इसके प्रति सकारात्‍मक हो और आप सामने वाले की भावनाओं को अच्‍छे से समझते हों, चाहे वह आपका पार्टनर हो या फिर आपका साथी। आज प्रतिज्ञा कीजिए कि - 'मेरे संबंध सभी के साथ सकारात्‍मक होंगे, मेरे द्वारा इन संबंधों में कोई खटास नहीं आयेगी और मैं कभी भी अपने संबंधों को निभाने से पीछे नहीं हटूंगा।'

image source - getty images

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK