• shareIcon

अंडरवियर से जुड़ी ये 7 बातें पुरुषों को जरूर पता होनी चाहिए, कई नुकसान से बच जाएंगे आप

अंडरवियर, जिसे कोई व्यक्ति खास तवज्जो नहीं देता लेकिन तेजी से ग्लैमराइज होते समाज में अंडरवियर के चुनाव व पहनावे में बड़ा बदलाव आया है। हालांकि अंडरवियर कुछ मायनों में स्वास्थ्य से भी जुड़ा हो सकता है, इसके चुनाव में रुची होना गलत भी नहीं है।

पुरुष स्वास्थ्य By अतुल मोदी / Mar 17, 2015

ये अंदर की बात है!

अंडरवियर, जिसे कोई व्यक्ति खास तवज्जो नहीं देता लेकिन तेजी से ग्लैमराइज होते समाज में अंडरवियर के चुनाव व पहनावे में बड़ा बदलाव आया है। हालांकि अंडरवियर कुछ मायनों में स्वास्थ्य से भी जुड़ा हो सकता है, इसके चुनाव में रुची होना गलत भी नहीं है। फिर भी हम अंडरवियर पर बात करने, उससे जुड़े सवाल पूछने और उससे जुड़ी अपनी पसंद की बातों को करने से शर्मिंदा हो जाते हैं लेकिन ऐसे 7 सवाल बेहद जरूरी है, जिससे पुरुषों को जरूर पूछना चाहिए।

अंडरवियर से जुड़े सवाल

अंडरवियर हर रंग, डिजाइन और साइज में आते हैं। इस छोटे से कपड़े का विश्वभर में बड़ा बाजार है। कौन होगा जो अंडरवियर न खरीदता हो? बावजूद इसके हममें से बहुत से लोग इसके बारे में ज्यादा कुछ नहीं जानते। शायद इसलिए, कि हम हमेशा इस विषय पर बात करने से कतराते रहे हैं। आइये इस स्लाइडशो में जानते हैं ऐसे कुछ सवालों को जो अंडरवियर से जुड़े हैं, और जिन्हें आप पूछने से हिचकिचाते हैं।

दो दिन लगातार एक अंडरवियर पहनना है कितना बुरा

दो दिन लगातार एक ही अंडरवियर पहना जा सकता है। इससे सेहत को कोई नुकसान नहीं होता। जब तक आपको देखने में अपना अंडरवियर साफ लग रहा है आप उसको पहन सकते हैं। लेकिन, अगर आपको त्वचा संबंधी कोई समस्या है, या फिर पसीना अधिक आता है तो आपको रोज अंडरवियर बदल लेना चाहिए। नहीं तो आपको इंफेक्शन की समस्या हो सकती है।

क्या फैब्रिक से फर्क पड़ता है

हां, आपके अंडरवियर के फैब्रिक का असर आपकी सेहत पर पड़ता है। आमतौर पर कॉटन के मुलायम कपड़े के अंडरवियर पहनने की सलाह दी जाती है। इससे आपका पसीना सूख जाता है और हवा भी पास होती रहती है। कुछ खिलाड़ियों को सिंथेटिक और पॉलिएस्टर के फैब्रिक के अंडरवियर पहनने से ज्यादा कंफर्ट मिलता है।

क्या थॉन्ग में वर्कआउट करना ठीक है

शायद हां, या शायद नहीं। दरअसल, इस विषय पर कम ही स्टडी हुई हैं कि जिम में थॉन्ग पहनने के सेहत पर क्या असर होते हैं। लेकिन जब आप ट्रेडमिल पर एक्सरसाइज करते हैं और थॉन्ग पहने हुए होते हैं तो आपको थोड़ा ध्यान देने की जरूरत होती है। अगर आपको वैजाइनल और यीस्ट इंफेक्शन होना आम है तो आपके लिए वर्कआउट के दौरान थॉन्ग पहनना ठीक नहीं होगा। थॉन्ग के इधर उधर खिसकने की बहुत संभावना होती है जिससे बैक्टीरिया फैल सकता है और इंफेक्शन का रूप ले सकता है।

बॉक्सर्स या ब्रीफ्स में से क्या है बेहतर

फैशन और कंफर्ट लेवल को एक तरफ रख दें, तो बॉक्सर्स और ब्रीफ्स में असली डिबेट इस पर होती है कि स्पर्म प्रॉडक्शन पर इनका क्या प्रभाव पड़ता है। स्टडी बताती हैं कि स्पर्म प्रॉडक्शन में अधिक तापमान की भूमिका होती है। और अंडरवियर पहनने से ऐसा ही होता है।

अगर अंडरवियर न पहने तो

एक पोल के अनुसार, एक चौथाई अमेरिकन कभी-कभी बिना अंडरवियर पहने भी बाहर निकलते हैं। एक्सरसाइज के दौरान अगर आपके एक्सरसाइज के कपड़े फिटिड हैं और आपको त्वचा संबंधी कोई समस्या नहीं है तो आप अंडरपैंट्स न भी पहने को चलेगा।

कैसे हों अंडरवियर

सारे बिंदुओं पर सोच समझने के बाद कुछ नतीजे निकले हैं। अपने अंडरवियर साफ सुथरे और सूखे रखने पर उसे दूसरे दिन भी पहना जा सकता है। अगर आपको त्वचा संबंधी समस्या है या पसीना बहुत आता है तो आपके लिए सलाह है कि इंफेक्शन से बचने के लिए रोज फ्रेश अंडरवियर पहनें। एक्सरसाइज के दौरान अपने अंडरवियर का चुनाव सोच समझ कर करें।

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK