Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

चमकदार फलों का सेहत पर असर और इससे बचने के उपाय

चमकदार फलों का सेवन आपकी सेहत बनाने की जगह बिगाड़ सकता है क्योंकि इसे रसायन के जरिए चमकदार बनाया जाता है। जानिए इसका आपकी सेहत पर क्या असर होता है।

स्वस्थ आहार By Anubha TripathiSep 16, 2014

चमकदार फलों से बचें

बाजार में चमकदार फल बरबस ही आपका ध्‍यान खींचते हैं। इनमें से अधिकतर कुदरती रूप से इतने चमकदार नहीं होते, बल्कि उन्‍हें ऐसा बनाया जाता है। लोगों को लगता है कि चमकदार फल ताजे होते हैं। लेकिन यह सही नहीं है। फलों में चमक लाने के लिए वार्निश जैसे रसायनों का इस्तेमाल खुलेआम हो रहा है। कई  लोग तो मोम लगाकर भी फलों को चमकाने का काम करते हैं। साथ ही कार्बाइड पाउडर का भी व्यापारी धड़ल्ले से उपयोग कर रहे हैं। डॉक्टरों की मानें, तो इससे मानव शरीर में टॉक्सिन की मात्रा बढ़ती जाती है और यह लीवर व किडनी को भी नुकसान पहुंचाता है। image Courtesy- getty images

क्यों होती पॉलिशिंग

फलों के अंदर जितने अधिक समय तक नमी बनी रहती है, वह उतने समय तक ताजा दिखते हैं। इसलिए दुकानदारों द्वारा फल के ऊपरी भाग पर मोम की परत चढ़ा दी जाती है। जिससे फलों के पोर बंद हो जाते हैं और नमी बाहर नहीं निकल पाती। ऐसा उन फलों के साथ ज्यादा किया जाता है, जो जल्दी खराब होते हैं। इनमें अंगूर, सेब आदि शामिल है। image Courtesy- getty images

फलों को जहरीला बनाता है

फलों का सेवन शरीर में जरूरी विटामिन और मिनरल की कमी को पूरा करते हैं। लेकिन फलों की बिक्री बढ़ाने के लिए उसे चमकाने के लिए पॉलिश का प्रयोग करना फलों को जहरीला बना रहा है। अगर इसे बिना धोये खाया गया तो खाने वाले की सेहत बनने के बजाय बिगड़ेगी। image Courtesy- getty images

पाचन संबंधी समस्या

चमकदार फलों के सेवन से व्यक्ति पहले पीलिया या फिर आंत्रशोथ की चपेट में आता है। हालांकि तत्काल उपचार से वह ठीक तो हो जाता है, लेकिन बाद में वह पेट संबंधी अन्य बीमारियों के चपेट में आ जाता है। image Courtesy- getty images

अंगों पर डालता है असर

चमकदार फलों के खाने से इसमें मौजूद केमिकल शरीर के अंदर जाकर शरीर के अंगों को खराब कर सकते हैं। खासकर सबसे ज्यादा केमिकल युक्त फलों के सेवन से लीवर खराब हो जाता है। बाद में इसका प्रभाव शरीर के और हिस्सों मे पड़ने लगता है। image Courtesy- getty images

बिना धोएं ना खाएं

फलों को खाने से पहले खूब अच्छी तरह से धोएं और उसके बाद ही इसका सेवन करें। बिना धोए फलों को खाने से उस पर लगा हुआ वार्निश या अन्य हानिकारक तत्व शरीर में जाकर अंदरूनी अंगों को क्षति पहुंचा सकते हैं। फल खरीदते समय इस बात का विशेष ध्यान रखें कि कार्बाइड से पके फल न खरीदें। ऐसे फलों की ऊपरी लेयर के साथ इसके अंदर के तत्व भी नुकसानदेह होते हैं। image Courtesy- getty images

मौसमी फल ही खाएं

चमकदार फलों के सेवन से बचने के लिए जरूरी है कि आप मौसमी फलों का ही सेवन करें। अक्सर दुकानदार बासी फलों को वैक्स के जरिए चमकाते हैं जिससे ग्राहक उसे ताजा समझकर उसे खरीदें। इसलिए अगर आप मौसमी फल खरीदेंगे को वो आपनेआप ही ताजा और मीठे होते हैं कि उसे किसी रसायन की जरूरत नहीं होती है। image Courtesy- getty images

छीलकर खाएं फल

आमतौर पर लोगों की धारणा यह रहती है कि फलों के छिलके में ही स्वास्थ्यवर्धक तत्व होते हैं। ऐसे में छिलका नहीं निकालना चाहिए। कुछ डायटीशियनों का मानना है कि सेब, नाशपत्ती जैसे फलों को छीलकर ही खाना चाहिए वरना अल्सर या पाचन संबंधी कई बीमारियों के चपेट में आ सकते हैं। image Courtesy- getty images

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK