Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

दूध से नफरत करने वाले लें ये आहार

अगर आपको दूध पीना पसंद नहीं है तो कोई बात नहीं। आप कुछ अन्य खाद्य पदार्थों के जरिए भी दूध की कमी को पूरा कर सकते हैं। जानिए कैसे।

स्वस्थ आहार By Anubha TripathiJun 12, 2014

दूध के अलावा कैल्शियम के विकल्प

दूध कैल्श‍ियम से भरपूर होता है। लेकिन, कुछ लोग दूध और इससे बने उत्पादों से दूर रहते हैं। कुछ को इनका स्वाद पसंद नहीं होता, तो कुछ चिकित्सीय कारणों से ऐसा करते हैं। तो क्या ऐसे लोग कैल्श‍ियम से महरूम रह जाएंगे। जी, नहीं ऐसा नहीं है। कुदरत हमें कई विकल्प देती है। हमें उन्हें पहचानने की जरूरत होती है। दूध के अलावा भी कई ऐसे खाद्य पदार्थ हैं, जिनमें भरपूर मात्रा में कैल्श‍ियम होता है। आइए जानें उन पदार्थों के बारे में -

हरी पत्तेदार सब्जियां

अगर आप दूध नहीं पीना चाहते, तो फिक्र की कोई बात नहीं। अपने आहार में हरी पत्तेदार सब्जियों को जगह दीजिये। इनमें कैल्‍श‍ियम भरपूर मात्रा में होता है। सरसों, चॉय, ब्रोकली, पालक, गोभी आदि सब्जियां आपको जरूरी पोषण मुहैया कराती हैं।

नट्स

अखरोट, बादाम, पिस्ता, चिलगोजा और काजू- ये सब खाने में तो स्वाद होते ही हैं साथ ही इनमें जरूरी कैल्शियम भी होता है। इनका नियमित सेवन आपकी हड्‍डियों को जरूरी ताकत देता है। हां क्योंकि इनमें वसा की अध‍िकता होती है, इसलिए इनका अध‍िक सेवन न करें।

मछली

हल्की कांटेदार मछली कैल्श‍ियम और अन्य पोषक तत्वों से भरपूर होती है। सालमन और सार्डिन मछली आपके रोजमर्रा के कैल्श‍ियम कोटे को पूरा करने में मददगार होती हैं। कांटों से डरें नहीं। याद रखें कांटों में ही फूल खिलते हैं।

बीन्स

बीन्स को तो पोषक तत्वों का भण्डार कहा जाना चाहिये। इनमें प्रोटीन, फाइबर और अन्य कई जरूरी पोषक तत्वों के अलावा कैल्‍शियम भी होता है। आप,
चने, काली मटर, पिंटो सेम को अपने आहार का हिस्सा बनाइए।

अंजीर

अंजीर का स्वाद कभी चखा है आपने। यह खाने में जितना स्वादिष्ट होता है, इसमें पोषक तत्व भी उतने ही अध‍िक होते हैं। आप चाहें तो सूखा अंजीर भी खा सकते हैं। अंजीर में शहद और मेवे मिलाकर खाने से इसकी पौष्ट‍िकता और स्वाद दोनों बढ़ जाते हैं।

गुड़

अब यह सुनकर तो आपका हैरान होना बनता है। गुड़ और कैल्श‍ियम... लेकिन यह बात सही है। गुड़ में भरपूर मात्रा में कैल्श‍ियम होता है। लेकिन, इसका अर्थ यह नहीं कि कैल्‍श‍ियम की पूर्ति के नाम पर आप गपागप गुड़ गटकने लगें। लेकिन, फिर भी भोजन के बाद थोड़ा बहुत गुड़ तो खाया ही जा सकता है।

पपीता

पपीते में कैल्शियम अच्छी मात्रा में होता है, जो रक्त एवं तंतुओं के निर्माण एवं हृदय, नाड़ियों तथा पेशियों की क्रिया ठीक रहने में सहायक होता है। कैल्शियम नेत्रों के लिए भी आवश्यक माना जाता है। नियमित रुप से पपीते का सेवन शरीर में कैल्शियम की कमी पूरा कर सकता है।

मटर मसूर की दाल

दालों को प्रोटीन का उच्च स्रोत माना जाता है। दालें हमारे भोजन का अहम हिस्सा हैं। मटर और मसूर की दाल भी कैल्शियम से भरपूर होती हैं। यह बनाने में भी आसान होती है, साथ ही इसका स्वाद भी अच्छा होता है।

बीज

बीज तो किसी भी आहार का मूल होते हैं। उनमें पोषक तत्व अवश्य पाये जाते हैं। तिल और सूरजमुखी के बीजों में कैल्श‍ियम जरूर होता है। तिल का सेवन वैसे भी शरीर के लिए अच्छा माना जाता है। हालांकि इसकी गर्म तासीर के कारण कुछ लोग गर्मियों में इसके अध‍िक सेवन की सलाह नहीं देते।

टोफू

टोफू जिस तरह का होगा उससे ही उसकी कैल्शियम की मात्रा उसी प्रकार की होती है, जैसे फर्म टोफू में 230 मिलीग्राम, सिल्कन टोफू 130मिलीग्राम पाया जाता है। टोफू को इस्तेमाल करने से पहले उसमें से सारा पानी निकाल लें और हो सके तो काम से काम तेल का इस्तेमाल करें क्यों कि टोफू बहुत अधिक तेल पीता है।

भिंडी

भिंडी में कैल्शियम और अन्य पोषक तत्व पाये जाते हैं। और अगर इसे ताज़ी खाई जाए तो यह और भी स्वादिष्ट लगेगी। 100 ग्राम भिंडी में 81 मिलीग्राम कैल्शियम होता है।

संतरे का रस

संतरे में मौजूद कैल्शियम हमारी हड्डियों को मजबूत करता है। कैल्शियम से भरपूर संतरे के नियमिन सेवन से हड्डी और दांत के स्वास्थ को बढ़ावा मिलता है।

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK