• shareIcon

पार्टनर से बात करने में कहीं न हो जाये देर

शादी के बाद आपस में बेहतर तालमेल बनाये रखने के लिए जरूरी है कि शादी के पहले कुछ मुद्दों पर बात जरूर करें, पैसा, बच्‍चे, बाहर घूमना, करियर, दोस्‍त आदि जरूरी मुद्दों पर बात कीजिए।

डेटिंग टिप्स By Nachiketa Sharma / Dec 01, 2014

पार्टनर से करें बात

शादी के बाद आपस में सही तालमेल होना बहुत जरूरी है, नहीं तो कई छोटे-छोटे मुद्दे ऐसे हैं जिनके कारण रिश्‍तों में दरार आती है। इसलिए जब भी घर का कोई महत्‍वपूर्ण मामला जैसे - आर्थिक, परिवार नियोजन या दूसरे अन्‍य मामलें हों तो पार्टनर से सलाह-मशविरा करना बहुत जरूरी है। तो जरूरी है कि ऐसे मुद्दे जो बाद में कलह का कारण बनते हैं, उनपर पार्टनर से बात करना बहुत जरूरी है।

image source - getty images

पैसे को लेकर

वर्तमान में ज्‍यादातर घरों में पुरुष और महिला दोनों आत्‍म निर्भर हो गये हैं, पुरुष और महिला दोनों कामकाजी हो गये हैं। इसलिए आर्थिक तंगी की शिकायत कम ही देखने को मिलती है। लेकिन पैसा ऐसा मुद्दा है जो पार्टनर के बीच बहस का मुद्दा हो सकता है। इसलिए अपने पार्टनर से पैसे को लेकर बात जरूर कीजिए। भविष्‍य में होने वाले खर्चों और पैसे को बचाने वाले मुद्दों पर आपसी सहमति से योजना बनाइये।

image source - getty images

बच्‍चों को लेकर

बच्‍चे एक ऐसे विषय हैं जो बहुत ही संवेदनशील हैं, इसलिए इनके बारे में भावनाओं और संवेदनाओं को साथ में रखकर ही कोई निर्णय लें। एकल परिवार में बच्‍चों की देखभाल को लेकर विवाद होता है, क्‍योंकि कामकाजी पुरुष और कामकाजी महिला के पास बच्‍चों की देखभाल का समय नहीं होता है। पुरुष समझते हैं कि बच्‍चों की देखभाल मां की जिम्‍मेदारी है। जबकि वास्‍तव में बच्‍चों की जिम्‍मेदारी पति और पत्‍नी दोनों पर एक समान होती है।

image source - getty images

करियर को लेकर

सुनहरे करियर का ख्‍वाब देखने का हक केवल पुरुषों को ही नहीं महिलाओं को भी है। नौकरी करना केवल पुरुषों की जिम्‍मेदारी है और महिलायें घर को संभाले यह बीते जमाने की बात हो गई। वर्तमान में करियर के मामले में पुरुषों से अधिक महिलायें आगे बढ़ रही हैं। इसलिए शादी के बाद करियर को लेकर बात कर लीजिए, ताकि बाद में स मुद्दे को लेकर कोई समस्‍या न हो।

image source - getty images

ससुराल के लोग

शादी के बाद घर के लोग भी मुद्दा बनते हैं, इसलिए शादी से पहले इस बात पर चर्चा करना बेहतर है। अगर भविष्‍य में आपके बूढ़े मां-बाप आपके साथ रहने के लिए आयें तो आपके पति या पत्‍नी को कोई समस्‍या न हो। अगर आप अपने घरवालों के साथ नहीं रहना चाहते हैं तो इस बारे में अपने पार्टनर से बात करें और अगर आपके घरवाले आपके साथ रहेंगे तो इस मुद्दे को भी पार्टनर से शेयर कीजिए।

image source - getty images

दोस्‍त

शादी से पहले दोस्‍ती के मायने अगल थे और दोस्‍ती का नजरिया भी अलग था। लेकिन शादी के बाद परिस्थितियां बदल जाती हैं और दोस्‍तों से मिलना जुलना भी कम हो जाता है। शादी के बाद अधिक समय आप अपने पार्टनर के साथ बिताते हैं। लेकिन शादी का मतलब यह नहीं कि आप दोस्‍ती नहीं रख सकते हैं। लेकिन शादी के बाद दोस्‍तों के साथ अपने व्‍यवहार के बारे में पार्टनर से बात करें।

image source - getty images

सेक्‍स को लेकर

यह एक ऐसा मुद्दा है जिसे लेकर आज भी बहुत सारे कपल्‍स बात करने में हिचकते हैं। जीवन को खुशहाल बनाने के लिए सेक्‍स लाइफ के बारे में बातें करना बहुत जरूरी है। आप अपने पार्टनर से सेक्‍स को लेकर कितनी अपेक्षा रखते हैं इसकी चर्चा जरूर करें।

image source - getty images

दूसरे शहरों में जाना

अगर आपकी जॉब ऐसी है कि हर साल आपका तबादला एक शहर से दूसरे शहर में होता है। यह आपके लिए भले ही एक सामान्‍य सी बात हो लेकिन पार्टनर को इसमें समस्‍या हो सकती है। इसलिए शादी से पहले अपने पार्टनर से इस मुद्दे पर बात कीजिए, उन्‍हें बताइये कि आपकी नौकरी के साथ ऐसी स्थितियां जुड़ी हैं। हालांकि हर बार नये शहर में रहना अच्‍छा अनुभव हो सकता है और लोग इसे मस्‍ती के साथ भी लेते हैं। लेकिन अगर आपका पार्टनर भी जॉब करता है तो आपके साथ समस्‍या हो सकती है।

image source - getty images

सोशल मीडिया

सोशल नेटवर्किंग साइट से आज लगभग सभी लोग जुड़े हैं और लोग घंटों अपना समय फेसबुक, ट्विटर जैसी सोशल नेटवर्किंग साइट को देते हैं। कुछ लोग अपने पल-पल की खबर अपने दोस्‍तों और सहकर्मियों से इन साइटों के जरिये ही साझा करते हैं। लेकिन शादी के बाद आपकी यह आदत आपके पार्टनर को नागवार लग सकती है। इसलिए आप जितना समय इन साइट को देते हैं उसके बारे में अपने पार्टनर को पहले ही जानकारी दीजिए।

image source - getty images

दूसरों के प्रति व्‍यवहार

आप व्‍यवहार कुशल हैं और हर तरह के लोगों के साथ दोस्‍ती करना और मस्‍ती करना आपकी प्रकृति है। आप विपरीत सेक्‍स के साथ भी खुद को बड़ी जल्‍दी सहज बना देते हैं। लेकिन शादी के बाद अगर आप अपनी महिला/पुरुष दोस्‍त से अधिक मस्‍ती करते हैं और आपका पार्टनर साथ है तो यह उसे नागवार लग सकता है। इसलिए शादी से पहले अपनी प्रकृति के बारे में अपने पार्टनर को अवगत करायें।

image source - getty images

समस्‍यायें भी हैं

ऐसा हो ही नहीं सकता कि आपके पास समस्‍यायें न हों, बल्कि हकीकत यह है कि हम रोज नयी समस्‍याओं और मुसीबतों से सामना करते हैं। ऐसी बातों को अपने पार्टनर से छुपाना क्‍या। अगर आप पार्टनर से खुशियां साझा कर रहे हैं तो अपने दुखों और समस्‍याओं के बारे में भी उन्‍हें बतायें। क्‍या पता उनके पास आपकी समस्‍या का आसान हल हो और उन्‍हें बताने के बाद आपकी समस्‍या का समाधान हो जाये।

image source - getty images

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK