Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

महिला के लिए कभी न करें ये 7 काम, चाहें प्यार में ही क्यों न हों

अक्सर ऐसा देखा जाता है कि इस रिश्ते में पुरूष पार्टनर महिला पार्टनर के लिए कुछ ऐसी चीजें करने के लिए तैयार हो जाता है जो उसे नहीं करनी चाहिए।

डेटिंग टिप्स By Shabnam Khan Jan 21, 2015

महिला पार्टनर के लिए न करें ये सब

प्यार एक ऐसा रिश्ता है जिसे बनाने के लिए दो लोगों की पसंद का होना और चलाने के लिए उन दो लोगों के बीच आपसी समझ होना जरूरी है। लेकिन अक्सर ऐसा देखा जाता है कि इस रिश्ते में पुरूष पार्टनर महिला पार्टनर के लिए कुछ ऐसी चीजें करने के लिए तैयार हो जाता है जो उसे नहीं करनी चाहिए। दरअसल, पुरूष ऐसा दो सूरतों में करते हैं। पहला, अपनी पार्टनर को खुश रखने के लिए, और दूसरा इस वजह से कि उन्हें डर होता है कि अगर वो जैसे हैं, वैसे उनके पार्टनर को पसंद न आए तो वह उनको छोड़कर जा सकती है। लेकिन दोनों ही सूरतों में पुरुष ऐसा करके अपने रिश्ते को कमजोर बना लेते हैं। आइये जाने वो कौन से काम है जो पुरुष को अपनी महिला पार्टनर के लिए नहीं नहीं करना चाहिए।

Image Source - Getty Images

अपनी असली पहचान को खोना

आपकी पार्टनर ने आपको पसंद किया है, आपकी कमियों और खूबियों के साथ। ऐसे में इस रिश्ते को आगे ले जाने और निभाने के लिए अगर वह चाहे कि आप अपनी पहचान को भूलकर उसकी परछाई बन कर रहें, तो उसकी इस मांग को सिरे से नकार देना ही आपके भविष्य के लिए सही है। अपने रिश्ते की मजबूती के लिए उसमें देना सीखें, लेकिन खुद को इस्तेमाल होने से बचाएं। अपने पार्टनर की पसंद-नापसंद को तरजीह दें, लेकिन उसके अनुसार अपने स्वरूप को पूरी तरह बदल डालने से बचें।

Image Source - Getty Images

अपने दोस्तों से मुंह मोड़ना

आपकी गर्लफ्रेंड मिलने से पहले आपके दोस्त और अन्य रिश्तों ने ही आपकी जिंदगी को खुशियों से संवारा है। पुराने दोस्त और अन्य रिश्ते आपके नए रिश्ते की पहली बली न चढें, इसका हमेशा खयाल रखें। एक नए रिश्ते को निभाने के लिए पुराने रिश्तों को भुला देने का सौदा यकीनन आपको खुशी नहीं दे सकता। अगर आपकी पार्टनर आपके दोस्तों या अन्य रिश्तों से आपके संबंध की कद्र नहीं करती, तो कहीं न कहीं यह रिश्तों के प्रति उसके नकारात्मक रवैये को दर्शाता है।

Image Source - Getty Images

अपनी सोच और विचारधारा

जिंदगी जीने का हर व्यक्ति का अपना एक फलसफा और नजरिया होता है। अपने पार्टनर की विचारधारा और सोच के साथ तालमेल बिठाने की कोशिश जरूरी है, लेकिन इसके लिए अपनी सोच और सिद्धांतों को न छोड़ें। अपनी पूरी जिंदगी किसी दूसरे की सोच के हिसाब से बिताना बेहद मुश्किल है। लिहाजा, अपने साथी के नजरिए को जानें-समझें, लेकिन अपनी भीतरी आवाज को भी नजरअंदाज न करें। कोशिश करें कि अपनी विचारधारा अपनी पार्टनर को समझाएं, अगर वो आपको चाहती होगी तो आपकी विचारधारा का भी सम्मान करेगी।

Image Source - Getty Images

निर्णय लेने का अधिकार

अपनी गर्लफ्रेंड की खुशी के लिए अपनी हर पसंद-नापसंद को भूलकर हमेशा उसके निर्णयों को ही सहमति न दें। उसी तरह आप अपनी पसंद, नापसंद उस पर ना थोपें और ना ही उससे यह अपेक्षा करें कि वह आपको पाने के लिए पूरी तरह आपकी हां में हां मिलाएं। रिश्तों में ब्रीदिंग स्पेस बेहद जरूरी है।

Image Source - Getty Images

आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर रहें

आपकी गर्लफ्रेंड भले ही आर्थिक रूप से कितनी भी संपन्न क्यों न हो, उससे जुड़ने के बाद अपनी आर्थिक आत्मनिर्भरता खोने की भूल कभी न करें। अगर आप दबाव में ऐसा करते हैं तो भविष्य में आपको आत्म सम्मान से समझौता करना पड़ सकता है।

Image Source - Getty Images

अपनी खुशी

अपनी खुशियों की चाबी किसी दूसरे के हाथ में सौंप देना समझदारी नहीं, भले ही वह आपका हमसफर ही क्यों न हो। किसी भी सच्चे रिश्ते में दूसरे पर अधिकार जताने की कोई जगह नहीं होती। अच्छा और मजबूत रिश्ता प्यार और आपसी सम्मान पर टिका होता है। आपकी छोटी-छोटी खुशियां आपके लिए बहुत जरूरी हैं, भले ही वे आपके साथी को अटपटी लगें। मसलन, आपको परिवार के साथ वीकेंड पर आउटिंग पसंद है, लेकिन आपकी गर्लफ्रेंड आपके हर वीकेंड पर अपना अधिकार जताती है, ऐसे में आप अपनी खुशी छोड़ कर अपनी गर्लफ्रेंड को खुश करने में लग जाते हैं जो कि गलत है। अपने पार्टनर और अपनी खुशी के बीच संतुलन बिठाएं। वे चीजें करें जो आपको खुशी देती हैं, उनका खुलकर मजा लीजिए। बिना ये सोचे कि वे आपके पार्टनर को पसंद हैं या नहीं।

Image Source - Getty Images

अपने आत्मसम्मान को परे करना

कई बार रिश्ते की शुरुआत में पुरुष अपने पार्टनर की हर बात को मान लेते हैं। ऐसा वो उनका विश्वास जीतने के लिए और उनसे ज्यादा प्यार की चाह में करते हैं। इस दौरान कई बार पुरुष पार्टनर अपने आत्मसम्मान को भी दरकिनार कर देता है। शुरू-शुरू में तो आप इन बातों पर ज्यादा नहीं सोचते लेकिन फिर बाद में छोटी-छोटी बातें अखरने लगती हैं। रिश्ते में हमेशा अपना बेस्ट देने की कोशिश करें लेकिन, कभी अपने आत्मसम्मान को टूटने न दें।  

Image Source - Getty Images

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK