• shareIcon

आहार और व्‍यायाम के जरिये करें मधुमेह को काबू

मधुमेह रोग देश ही नहीं पूरी दुनिया के लिए एक बड़ी समस्या बना हुआ है। इससे निपटने के लिए सही खान-पान और नियमित व्यायाम बेहद जरूरी होता है।

डायबिटीज़ By Rahul Sharma / Nov 06, 2014

डायबिटीज के लिए आहार व एक्सरसाइज

मधुमेह रोग देश ही नहीं पूरी दुनिया के लिए एक बड़ी समस्या बना हुआ है। इससे निपटने के लिए सही खान-पान और व्यायाम की बेहद जरूरत होती है। एक्सरसाइज करने से मधुमेह रोगी का हार्ट रेट बेहतर होता है। वहीं सही खान-पान पूरे शरीर की सेहत को बेहतर बनाए रखता है। तो यदि आप निम्न व्यायाम नियमित रूप से करें और भोजन का सावधानी से चुनाव करें तो आप डायबिटाज का डट कर मुकाबला कर सकते हैं।  
Image courtesy: © Getty Images

क्यों है मधुमेह में एक्सरासाइज फायदेमंद

बेहतर होगा कि आप इनडोर एक्सरासाइज को चुनें। बाहर के लिए आप नियमित सैर पर जाएं और ताजी हवा लें। इनडोर एक्सरसाइज को रोज सैर पर जाने से हृदय दर तो सही रहती ही है, साथ ही रकत् शर्करा भी ठीक रहती है। मधुमेह रोगी को पानी भी पीते रहना चाहिए। आप पुश अप कर सकते हैं, मधुमेह के लिए यह भी एक बेहतरीन एक्सरसाइज है। या फिर आप ट्राइसेप्स डिप्स या स्टेंड रनिंग आदि भी कर सकते हैं।
Image courtesy: © Getty Images

नियमित योग अभ्यास करें

हम साब जानते हैं कि नियमित योग अभ्यास के कई फायदे होते हैं। खासतौर पर डायबिटीज में योग करने से ब्लड शुगर लेवल कम होने के साथ-साथ रक्तचाप कम होता है, वज़न नियंत्रित होता है और शरीर की प्रतिरोधी क्षमता भी बढ़ती है। डायबिटीज में आप प्राणायाम, सेतुबंधासन, बलासन, वज्रासन, सर्वांगासन, हलासन, धनुरासन तथा चक्रासन व पश्चिमोतासन आदि कर सकते हैं।
Image courtesy: © Getty Images

घरेलू काम करें

मधुमेह में जितना हो सके एक्टिव रहना चाहिए। इसके लिए आप घर के काम ये मधुमेह रोगियों के लिए सबसे अच्छी एक्सरसाइज है। घर की झाड़-पोंछ, वैक्युमिंग करना और अपने कपड़े धोना, ये कुछ ऐसे एक्सरसाइज हैं, जो बाकी एक्सरसाइज जितने ही फायदेमंद होते हैं। इसलिए बेहतर होगा कि कुछ घरेलू काम करके स्वास्थ लाभ लेते रहें।
Image courtesy: © Getty Images

एरोबिक एक्सरसाइज

हफ्ते में तीन से चार दिन एरोबिक एक्सरसाइज करना भी डायबितीज में फायदेमंद होता है। लेकिन इसके लिए ट्रेड मिल न खरीदें।वॉकिंग करें, ये कहीं ज्यादा फायदेमंद होता है। एरोबिक एक्सरसाइज मधुमेह के लिए यह सर्वश्रेष्ठ एक्सरसाइज में से एक है।
Image courtesy: © Getty Images

पर सावधान भी रहें

मधुमेह ग्रस्त होने पर कोई भी एक्सरसाइज करने से पहले फिजिशियन से परामर्श जरूर कर लें। खासतौर से इंसुलिन लेने वाले रोगियों को विशेष सतर्कता रखना जरूरत है। अर्थात यदि वे एक्सरसाइज योजना बना रहें हैं तो विशेष सावधानी बरतें, जैसे सुनिश्चित कर लें कि आप खाली पेट कोई भी एक्सरसाइज न करें, ज्यादा से ज्यादा पानी पिएं आदि।
Image courtesy: © Getty Images

फाइबर युक्त आहार खाएं और कैल्शियम भी लें

फाइबर युक्त आहार ब्लड शुगर को नियंत्रित करता है। अवशोषित फाइबर ब्लड में शुगर की अधिक मात्रा को अवशोषित कर लेता है और फिर इन्सुलिन को सामान्य कर मधुमेह को नियंत्रित करता है। इसके अलावा कैल्शियम युक्त आहार भी लें। कैल्शियम से भी काफी हद तक मधुमेह होने की संभावना कम होती है।
Image courtesy: © Getty Images

ताजे फल व सब्जियां खाएं

फल आपकी मिनरल्स और विटामिन्स की कमी को पूरा करते हैं। इसके लिए केला सबसे अच्छा विकल्प है । वहीं ताज़ा सब्जियों में आयरन, जिंक, पोटेशियम, कैल्शियम तथा अन्य कई आवश्यक पोषक तत्व होते हैं। जो शरीर को पोषक तत्व प्रदान करते है और हमारा हृदय और नर्वस सिस्टम स्वस्थ रहता है। इससे शरीर आवश्यक इंसुलिन बनाता रहता है।
Image courtesy: © Getty Images

ग्रीन टी

रोजाना एक कप बिना शक्कर की हरी चाय पीने से शरीर की गंदगी साफ होती है। ग्रीन टी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट आपके ब्लड शुगर को भी सामान्य रखते हैं। आप चाहें तो कभी-कभी नियमित मात्रा में कॉफी भी पी सकते हैं।
Image courtesy: © Getty Images

अच्छी नींद लें और तनाव मुक्त रहें

कई अध्ययनों से पता चलाता है की एक वयस्क इन्सान को रोज कम से कम 7 से 8 घंटों की नींद लेनी चाहिए। इसे उनमें डायबिटीज होना का खतरा कम रहता है बनिस्पद उन लोगों से जो कम सोते हैं। क्योंकि नींद मस्तिष्क को शांत और हर्मोनोस को संतुलित रखती है। वहीं कम नींद लेने से हार्मोनल संतुलन बिगड़ जाता है।
Image courtesy: © Getty Images

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK