Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

अक्‍सर संबंधों में दरार डाल देती हैं ये 9 आदतें

कई बार हमारी कुछ आदतें जाने-अंजाने रिश्तों में दरार पैदा कर देती हैं, क्योंकि हम रिश्तों को अपनी जागीर समझ बैठते हैं और जरूरत से ज्यादा अपेक्षा करने लगते हैं।

डेटिंग टिप्स By Rahul SharmaMar 19, 2015

संबंधों में दरार के कारण

हम सभी दिल से यही चाहते हैं कि हमारे रिश्ते मजबूत रहें और रिश्तों में प्रेम बना रहे। लेकिन कई बार हमारी कुछ आदतें जाने-अंजाने रिश्तों में दरार पैदा कर देती हैं। अकसर हम रिश्तों को अपनी जागीर समझ बैठते हैं और जरूरत से ज्यादा अपेक्षा करने लगते हैं। देखा जाए तो आमतौर पर रिश्ते में सभी जोड़ों के बीच थोड़ी बहुत नोंक-झोंक होती ही हैं। बल्कि कुछ मामलों को छोड़कर असल में वहीं अधिक नोंक झोंक और रिश्ते टूटने की घटनाएं होती हैं जहां प्यार अधिक होता है। ज्यादातर इसका कारण पति-पत्नी का एक दूसरे से जरूरत से अधिक अपेक्षा रखना होता है। तो चलिये संबंधों में दरार डालने वाली ऐसी अन्य समान्य आदतों के बारे में विस्तार से जानते हैं और जानने का प्रयास करते हैं कि ये छोटी महसूस होने वाली आदतें कैसे रिश्ते को टूटने की कगार पर ले आती हैं।
Images courtesy: © Getty Images

एक दूसरे का खयाल न रखना

पहले आप एक-दूसरे की छोटी सी छोटी बात का भी खयाल रखते थे, जैसे क्या खाया क्या नहीं, तबियत कैसी है या ऑफिस कैसा रहा आदि। लेकिन समय बीतने के साथ अब ये सब बातें फालतू लगने लगी हों और एक दूसरे से ठीक से बात तक न होती हो।
Images courtesy: © Getty Images

छोटी-छोटी बातों पर लड़ाई-झगड़े

छोटी-छोटी बातों पर लड़ाई-झगड़ा होना किसी भी रिश्ते के लिए अच्छा नहीं होता है। खासतौर पर लाइफ पार्टनर्स के बीच, क्योंकि आपको एक पूरी जिंदगी साथ एक दूसरे का सहारा बनकर गुजारनी होती है। पर अगर आप बात-बात पर झगड़ने लगते हैं, और ऐसा होता ही जा रहा है तो समझ लीजिये रिश्ते में कुछ गलत जरूर होने वाला है। झगड़े की वजहें कई हो सकती हैं लेकिन परिणाम तलाक तक भी पहुंच सकता है। तो बेहतर होगा कि झगड़े की बजाय असहमति वाले मुद्दों पर बात करें, इससे कोई न कोई रास्ता निकलेगा।  
Images courtesy: © Getty Images

बेवफाई

रिश्ता टूटने या तलाक की एक सबसे बड़ी वजह पार्टनर की बेवफाई होती है। आज लोग जिस तरह की जिंदगी जीने लगे हैं वहां विवाहेतर संबंध बहुत आम सी बात होती जा रही है। लेकिन भले ही विचारों में कितना भी खुलापन आ जाए, नियमों के बिना एक न एक दिन इस तरह के रिश्ते टूट ही जाते हैं।  
Images courtesy: © Getty Images

जरूरत से ज्यादा उम्मीदें

लड़कियों या महिलाओं के साथ एक समस्या ये भी है कि वे अपने साथी से कुछ ज्यादा ही उम्मीदें लगा बैठती हैं (हालांकि अब पुरुष भी इस श्रेणी में आते हैं) और कई बार वे सपनों के राजकुमार या राजकुमारी वाली कल्पनाओं से बाहर नहीं आ पाते हैं। लेकिन यहां पर आप गलत हैं। जिंदगी कोई सपना नहीं, यहां हर किसी को संघर्ष करना पड़ता है, इस बात को समझें और वास्तविकता के पटल पर रख कर सोचें।
Images courtesy: © Getty Images

हिंसा करना

आपका पार्टनर आपके साथ दुर्व्यवहार या मारपीट करता हो तो यह आपके लिए बहुत खतरनाक हो सकता है। इस तरह की घटनाएं शुरू होने केसाथ ही विरोध करना चाहिये। अगर पार्टनर किसी भी तरह ना माने तो अलग हो जाना भी बुरा नहीं। क्योंकि हिंसा करने के बाद अब समझौते का समय नहीं बचा है।
Images courtesy: © Getty Images

कम उम्र में या जबरदस्ती शादी

कई जोड़े कम उम्र में ही लव मैरेज कर लेते हैं, लेकिन उसके बाद की जिंदगी की जिम्मेदारियां उन्हें मजबूर करने लगती हैं। और फिर उनके सपनों का घर और दुनिया उनको नहीं मिल पाते हैं। और कई बार उन्हें बाद में लगता है कि उनका फैसला ही ही गलत था। इसके अलवा जबरदस्ती शादी कराई गई शादियों में भी दिक्कतें आती हैं।
Images courtesy: © Getty Images

विचारों में असहमती और टकराव

संभव है कि आपका पार्टनर और आप अलग-अलग परिवेश से आते हों। ऐसे में बहुत सी चीजें नहीं मिल पाती हैं। खासतौर पर कर पाती हैं आप दोनों के विचार जीवनशैली बिल्कुल मेल नहीं खा पाते हैं। ऐसे में विचारों में खुलापन व कुशलता न होने पर आपके जीवन में टकराव की स्थिति बन सकती है।  
Images courtesy: © Getty Images

पार्टनर के घरवालों का दखल

अकसर शादी के बाद दो लोगों का रिश्ता सिर्फ दो लोगों का नहीं रह पाता है। अब यह दो परिवारों का रिश्ता बन जाता है। ऐसे में किसी भी एक के परिवार के ज्यादा दखल से भी आप दोनों के रिश्तों में दिक्कतें आ सकती हैं। ऐसे में आप दोनों को ही पार्टनर के घर वालों को से खुल कर बात करनी चाहिये। उनके कारण रिश्ते में कोई दिक्कत आ रही हो तो उनसे आराम से बैठ कर बात करें।  
Images courtesy: © Getty Images

आपकी नौकरी

अधिकतर जब साथी अच्छा कमाने वाला हो तो वह चाहता है कि आप जॉब ना करे। बल्कि उसका और उसके घर का ध्यान रखें। तो यह आपकी परीक्षा की घड़ी होती है। ऐसे में आपको बेहद समझदारी से काम लेना होता है। यदि आप जॉब करन चाहती हैं तो पार्टनर को आराम से समझाएं कि आपका काम आपके लिए कितना जरूरी है। आपको ना अपनी जॉब छोड़नी है ना ही अपना रिश्ता खोना है, तो उसी हिसाब से बात करें।
Images courtesy: © Getty Images

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK