• shareIcon

आंखों की सूजन, दर्द और कालेपन को सही करते हैं ये 7 घरेलू नुस्खे

आंखों के आसपास कालापन,सूजन और दर्द की समस्या से घरेलू नुस्खों से निजात पाया जा सकता है। इन नुस्खों की मदद से सूजन और दर्द आसानी से खत्म हो सकता है।

घरेलू नुस्‍ख By Rashmi Upadhyay / Sep 14, 2018

आंखों की चोट दूर करें

आंखों के नीचे और आसपास की जगहों पर कालापन ( ब्लैक आई)  एक प्रकार की समस्या होती है। यह कई कारणों से हो सकती है जैसे नाक पर या चेहरे पर लगी चोट, जबड़े की सर्जरी, आंखों के पास स्किन इंफेक्शन या किसी प्रकार के एलर्जिक रिएक्शन हो सकता है। यह बहुत ही तकलीफ देह होने के साथ देखने की क्षमता पर भी असर डालता है। आइए जानें इससे निजात पाने के घरेलू नुस्खों के बारे में- Image Courtsey-Getty images

आइस पैक

आंखों के आसपास सूजन पर कालापन होने पर आइस पैक की मदद लें। यह सूजन में आराम दिलाएगा साथ ही रक्त धमनियों को में रुकावट पैदा करता है जिससे इंटरनल ब्लीडिंग बंद हो जाएगी। यह दर्द में बहुत जल्द ही आराम दिलाएगा। बर्फ को किसी कपड़े में बांध कर ही सिकाई करें।  Image Courtsey-Getty images

गर्म पानी से सिंकाई

चोट लगने के एक या दो दिन बाद आंखों के आसपास कालापन दिखाई देता है। ऐसे में गर्म सेंक भी बहुत फायदेमंद हो सकती है। इससे आंखों के आस पास के ऊतकों में रक्त प्रवाह बढ़ता है जिससे चोट को ठीक होने में मदद मिलती है। इसके लिए एक साफ कपड़े को गर्म पानी में भीगोएं फिर उसे अच्छे से निचोड़ ले जिससे उसमें पानी ना रहे फिर इसे चोट वाली जगह पर तब तक रखें जब तक कपड़ा ठंडा ना हो जाए। इससे दिन में कई बार कर सकते हैं। Image Courtsey-Getty images

विटामिन सी

अगर आप इस समस्या से ग्रस्त हैं तों अपने आहार में विटामिन सी को जरूर शामिल करें। कई सारे खाद्य पदार्थ ऐसे होते हैं जिनमें विटामिन सी की पर्याप्त मात्रा पायी जाती है जैसे अमरूद, आंवला, संतरा, नींबू, ब्रोकली, मीठे आलू और आम आदि। विटामिन सी के सेवन से रक्त धमनियों की दीवार मोटी होती है जिससे चोट को जल्द ठीक होने में मदद मिलती है। Image Courtsey-Getty images

अननास

अननास के से ब्लैक आई की समस्या से निजात पाना आसान हो जाता है। अननास एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है जिसकी वजह से यह त्वचा के रंग में आए बदलाव को ठीक करता है। इसमें मौजूद विशेष प्रकार एंजाइम त्वचा को मुलायम कर जल्द ही ठीक करता है। अननास के एक टुकड़े को प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं या इसका जूस भी पी सकते हैं।Image Courtsey-Getty images

विटामिन के

विटामि के सेवन से सूजन में कमी आती है। अगर विटामिन के की गोलियां या आहार का सेवन किया जाए तो चोट के कारण होने वाली सूजन में बहुत कमी देखी जा सकती है। विटामिन के से भरपूर आहार में आप पालक, अजमोद, ब्रोकली, शलजम, स्प्राउट्स आदि का सेवन कर सकते हैं।   Image Courtsey-Getty images

लाल मिर्च पाउडर व वैस्लीन

ज्यादातर लोग ब्लैक आई से बचने के लिए लाल मिर्च पाउडर को वैस्लीन में मिलाकर लगाते हैं। लेकिन इसे लगाते वक्त बहुत सर्तक रहने की जरूरत है मिश्रण को प्रभावित क्षेत्र पर ही लगाएं ध्यान रहे यह आंखों में ना जाए। कुछ घंटे बाद इसे टिश्यू या कपड़े से अच्छे से साफ कर लें। दिन में तीन बार इस मिश्रण को चोट वाली जगह पर लगाएं। Image Courtsey-Getty images 

अर्निका

अर्निका एक प्रकार का हर्ब है जो सूजन को कम करता है। इसके साथ ही यह आंखों की मांसपेशियों और अन्य ऊतकों पर लगी चोट को ठीक करता है। जल्द से जल्द अर्निका का प्रयोग करने से चोट को गंभीर होने से बचाया जा सकता है। अर्निका क्रीम व तेल दोनों रुप में बाजार में उपलब्ध होता है। Image Courtsey-Getty images

प्राकृतिक तेल

प्राकृतिक तेल की मदद से ब्लैक आई से छुटकारा पाना आसान हो जाता है। प्राकृतिक तेल की मदद से सूजन और दर्द में आराम मिलता है। आप चाहें तो नारियल तेल, अरंडी का तेल का प्रयोग कर सकते हैं। इस प्राकृतिक तेल का प्रयोग दिन में दो तीन बार भी कर सकते हैं। इसके कोई साइड इफेक्ट नहीं होते हैं।  Image Courtsey-Getty images

आलू

आलू में दर्द खींचने की क्षमता होती हैं। इसके साथ ही यह सूजन को भी कम करता है। आलू के स्लाइस को फ्रीज में दो-तीन घंटे के लिए रखें। उसके बाद ठंडी हुई आलू की स्लाइ स को प्रभावित क्षेत्र पर आधे घंटे के लिए रखें। आप चाहें तो आलू के रस का भी प्रयोग कर सकते हैं।  Image Courtsey-Getty images

खीरा

खीरे के कटे हुए टुकड़ों के ब्लैक आई पर रखने से सूजन और दर्द की समस्या में काफी आराम मिलता है। जब तक दर्द पूरी तरह से ठीक ना हो जाए हर रोज खीरे का प्रयोग करें। खीरे को फ्रीज में रखने के बाद ही आंखो पर लगाएं। इसके ठंडेपन चोट से होने वाला दर्द काफी कम हो सकता है।

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK