Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

इन 7 तरह के दोस्‍तों से हमेशा रहें बचकर

कुछ दोस्‍त ऐसे भी होते हैं जो आपसे दोस्‍ती केवल अपने फायदे के लिए करते हैं और जैसे ही उनका मतलब निकल जाता है, वे आपसे दूर हो जाते हैं, ऐसे धोखा देने वालो दोस्‍तों से रहें बचके।

एक्सरसाइज और फिटनेस By Nachiketa SharmaJan 15, 2015

ऐसे दोस्‍तों से रहें बचके

दोस्‍ती का मतलब ही होता है छल, प्रपंच, धोखा, चालाकी जैसे शब्‍दों से परे एक रिश्‍ता। यह रिश्‍ता हर कदम पर आपका साथ देता है, आपको खुशी और गम भी इसी रिश्‍ते से मिलता है। लेकिन इस रिश्‍ते में कई तरह के लोग आपसे जुड़ते हैं। सारे आपको प्रभावित नहीं कर सकते और न ही आपको सीख दे सकते हैं। इसलिए इस तरह के दोस्‍तों से आपको बचकर रहना चाहिए, इनके लिए आप कुछ फिल्‍मों के उदाहरण देख सकते हैं। जिनकी दोस्‍ती दो लाजवाब है लेकिन उनसे उनको नुकसान होता है।

गलत काम में साथ

'मुन्‍नाभाई एमबीबीएस' फिल्‍म के सर्किट को कौन भूल सकता है, इस फिल्‍म में सर्किट और मुन्‍ना की दोस्‍ती की मिसाल दी जाती है। लेकिन सर्किट मुन्‍ना को गलत तरीके से पास कराने में साथ देता है। जबकि ऐसा नहीं होना चाहिए, दोस्‍त ऐसा हो जो आपको गलत कामों के लिए रोकें और मेहनत करने के लिए उत्‍साहित करे।

नशे की लत वाला

नशा करना एक बुरी लत है इससे स्‍वास्‍थ्‍य को नुकसान होता है। शराब, शुम्रपान, तंबाकू आदि के सेवन से कई तरह की बीमारियां हो सकती हैं और इसके कारण कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी भी हो सकती है, इसलिए इससे बचकर रहना बहुत जरूरी है। लेकिन अगर आपका खास दोस्‍त नशे का आदी हो तो आप इससे कब तक बच पायेंगे। 'फैशन' फिल्‍म में आपने कंगना रनाउत को देखा होगा कि किस तरह से उसके संपर्क में आने के बाद पियंका को भी नशे की लत लग जाती है।

धोखेबाज दोस्‍त से

ऐसे दोस्‍त जो धोखेबाज होते हैं उनसे बचकर रहने की जरूरत है। क्‍योंकि वे आपको कभी भी धोखा दे सकते हैं। सलमान खान की फिल्‍म 'तुमको न भूल पायेंगे' इसका उदाहरण है। जिसमें सलमान से दोस्‍ती करने वाला इनसान उसे धोखा देता है। ऐसे दोस्‍तों से की पहचान करें और उनसे दूर रहने की कोशिश कीजिए।

बेवकूफी की मिसाल

दोस्‍तों से ही आप सीखते हैं और उनके रास्‍ते पर भी आप चलते हैं। लेकिन कुछ दोस्‍त बेवकूफी वाली बाते करते हैं, ऐसे दोस्‍तों से अच्‍छी बातों की उम्‍मीद न ललगायें। 'हाउसफुल' फिल्‍म भी इसका उदाहरण है जिसमें हीरो (अक्षय कुमार) हमेशा बेवकूफी वाली हरकतें करता है। इसके कारण उसके दोस्‍त (रितेश देशमुख) को परेशानी होती है और उसकी शादीशुदा जिंदगी में समस्‍या होती है।

फायदा उठाने वाला

आपने बहुत मेहनत की है, आपको लगता है कि इस मेहनत के कारण आप अपने जीवन के उद्देश्‍य को पूरा करेंगे, लेकिन तभी आपकी इस मेहनत का फायदा आपका सबसे करीबी दोस्‍त उठा ले जाता है। 'गरम मसाला' ऐसी ही दोस्‍ती का उदाहरण है जिसमें अक्षय कुमार का दोस्‍त जॉन अब्राहम किसी और की तस्‍वीर अपने नाम से देकर इन तस्‍वीरों के दम पर उसकी नौकरी तक छीन लेता है।

अपनी सेखी बघारने वाला

ऐसा दोस्‍त जो आपको उकसाये, उलझाये और गुस्‍सा होने पर मजबूर करे, फिर जब आप कोई अच्‍छा काम करें तो उसे अपना नाम दे दे। ऐसी ही कहानी है, 'मुझसे शादी करोगी' फिल्‍म में अक्षय कुमार और सलमान खान की। जिसमें काम सलमान खान करते हैं लेकिन सेखी बघारने और काम को अपना नाम देने में आगे अक्षय कुमार रहते हैं। ऐसे दोस्‍तों से दूर रहने की जरूरत है।

मतलबी दोस्‍त

जीवन में सभी अपने लिए जीते हैं और अपना काम निकलने के बाद उसे छोड़ भी देते हैं, ऐसे दोस्‍तों को मतलबी दोस्‍तों की श्रेणी में रखा जाता है। इस तरह के दोस्‍ती की मिसाल आपको 'रांझणा' फिल्‍म से मिल जायेगी। जिसमें सोनम ने धनुष से दोस्‍ती केवल अपने मतलब के लिए की थी और अपना मतलब निकलने के बाद उसे छोड़ भी देती है।

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK