Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

अपने कंप्यूटर, इंटरनेट और इससे जुड़े खतरों के बारे में जानें

कंप्यूटर और इंटरनेट ने सब कुछ आसान बना दिया है, जेसै मानों पूरी दुनिया को समेट कर आपकी टेबल पर रख दिया हो। लेकिन हर चीज के कुछ नुकसान और फायदे होते हैं, इसी तरह कंप्यूटर और इंटरनेट से भी कुछ जोखिम जुड़े होते हैं।

विभिन्न By Rahul SharmaJul 19, 2014

कंप्यूटर और सावधानी

आपके दफ्तर का कंप्यूटर, स्मार्ट फोन और लैपटॉप, सभी किसी ना किसी तरह आपस में जुड़े होते हैं। स्मार्ट फोन के रहते हर समय आप ऑनलाइन रहते हैं। आपके फेसबुक अकाउंट का पासवर्ड हो या फिर बैंक अकाउंट का, हैकरों के पास सारी जानकारी है। इसलिए  इनसे सही जानकारी रखें और इनसे बचकर रहें।
Image courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

साइट को करें ब्लॉक

यदि आप अपने बच्चों के इंटरनेट प्रयोग पर नजर नहीं रख पाते तो विडों के इंटरनेट एक्प्लोरर 5, 6, 7, 8 के साथ एक्स्प्लोरर के सभी वर्जनों में सुरक्षा और प्राइवेसी के ऑप्शन दिए होते है, जिनका प्रयोग करके आप किसी भी बेबसाइट को ब्लॉक कर सकते हैं। एक बार ब्लोक कर देने के बादद यदि कोई भी इन्हें नहीं खोल पाएगा।
Image courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

कैसे करें ब्लॉक

कंप्यूटर में कोई भी साइट ब्लॉक करने के लिए यदि आपके कंप्यूटर में इंटरनेट एक्स्प्लोरर नहीं पड़ा है तो उसे डाउनलोड कर लें। फिर पेज के ऊपर दिए गए टूल के ऑप्शन पर क्लिक करें और टूल के ऑप्शन में जाकर इंटनेट ऑप्शन का चुनें। इसके बाद इंटरनेट ऑप्शन में जाकर प्राइवेसी सेंटिंग पर क्लिक करें और फिर प्राइवेसी में जाकर ब्लॉक करने वाली वेबसाइट का एड्रैस डालें और ओके पर क्लिक करें। आप जितनी भी साइट ऐड करेंगे वह ब्लॉक हो जाएंगी।
Image courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

ईमेल आई डी सुरक्षा

आमतौर पर अकाउंट हैक होने का सबसे प्रमुख कारण साइबर कैफे या दफ्तर में अपने ईमेल अकाउंट मे लॉगइन करते समय Remember Me पर चेक कर देना होता है। इससे दूसरा कोई व्यक्ति भी उस कंप्यूटर पर आपके अकाउंट को खोल सकता है। इसलिए कभी भी इस विकल्प को चेक करके न छोड़ें।
Image courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

मैलवेयर से रहें सावधान

मैलवेयर शब्द में वे सभी दुर्भावनापूर्ण सॉफ़्टवेयर शामिल हैं जो कंप्यूटर या नेटवर्क को नुकसान पहुंचाने के लिए बनाए जाते हैं। कई बार खुद को आवश्यक बताने वाले कपटपूर्ण लिंक या डाउनलोड द्वारा, मैलवेयर आपकी जानकारी के बिना ही आपकी मशीन में इंस्टॉल हो जाते हैं। हालांकि गूगल आपको इसके लिए सावधान करेगा। यदि आपके कंप्यूटर में मैलवेयर या कोई ऐसा सोफ्टवेयर है जो इन्टरनेट कनेक्शन को नुकसान पहुंचा रहा हो तो अब आप गूगल में सर्च करते हुए एक चेतावनी का सन्देश देखेंगे।
Image courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

की लॉगर का प्रयोग

कई बार key logger सॉफ्टवेर ऑनकरके कंप्यूटर पर सभी दबाये जाने वाली कुंजियां रिकॉर्ड हो जाती हैं। इससे बचने के लिए आमतौर पर आप कुछ नहीं कर सकते। इसलिए अगर कभी लगता है कि किसी विशेष व्यक्ति के कंप्यूटर पर कम करने से आपके अकाउंट की सुरक्षा को खतरा हो सकता है तो उस कंप्यूटर पर काम ना ही करें।
Image courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

आसान पासवर्ड

हैकिंग का एक बड़ा कारण होता है किसी बहुत आसन से शब्द को अपना पासवर्ड बना लेना। आज बाजार में कई ऐसे सॉफ्टवेर उपलब्ध हैं जो पासवर्ड क्रेक्किंग के लिए उपयोग किये जाते हैं। इसलिए अपना पासवर्ड ऐसा बनाएं कताकि आसानी से कोई उसे ब्रेक न कर पाए।
Image courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

सेफ इंटनेट बैंकिंग

बैंक द्वारा दिये गए पासवर्ड के एक बार इस्तेमालके बाद खुद-ब-खुद फर्स्ट यूस के बाद ऑनलाइन अकाउंट एक्टिवेट हो जाता है इसलिए इसे बदलकर नया पासवर्ड बना लें। अपना पासवर्ड किसी को भी ना बताएं, यहां तक की आपका पासवर्ड बैंक के कर्मचारी, मेनेजर या कस्टमर केयर आदि किसी को भी न बताएं।
Image courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

सुरक्षित ई बैंकिंग भुगतान

ई बैंकिंग का भुगतान जिस भी वेबसाइट को कर रहे हैं, सुनिष्चित कर लें कि वह सुरक्षित हो। अधिकतर वेबसाइट किसी 128 bit SSL Gateway (or 256 bit) का प्रयोग करती हैं। इन Gateways को प्रमाणित करने हेतु सर्टिफिकेट पर भी विशेष ध्यान दें।
Image courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

लोगिन पासवर्ड ल करें शेयर

ध्यान रहे बैंक कभी भी ग्राहक को लोगिन पासवर्ड या प्राइवेट जानकारी से सम्बन्धित ई मेल नहीं भेजता। यदि आपको कोई ऐसा मेल मिले जो आपकी ई बैंकिंग जानकारी के बारे में पूछता हो तो आप तुरंत उसे डिलीट कर दें। इसी लिए बैंक द्वारा भी समय-समय पर आपको ईमेल के माध्यम से अवगत कराया जाता है की कोई कितना भी पूछे, आई-डी व पासवर्ड कभी शेयर न करें।
Image courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK