Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

आपकी राशि का स्वास्थ्य पर पड़ता है गहरा प्रभाव

क्या आपको पता है कि आपकी राशि, ग्रहों की दशा और तारों की स्थिति आदि आपके स्वास्थ्य को प्रभावित करते हैं?

एक्सरसाइज और फिटनेस By Rahul SharmaJun 09, 2014

राशियों और रोगों का संबंध

आपके स्वास्थ्य का संबंध आपकी राशि से भी होता है। राशि, ग्रहों की दशा और तारों की स्थिति आदि स्वास्थ्य को प्रभावित करते हैं। अलग-अलग राशियां शरीर के किसी न किसी अंग और उससे जुड़े रोगों को प्रदर्शित करती हैं। यही नहीं राशियों का किसी व्यक्ति के खाने-पीने की खास आदतों पर भी प्रभाव होता है, जो उसके स्वास्थ्य से सीधे तौर पर संबंधित होता है। चलिये जानते हैं कि राशि के मुताबिक, किसे कौन-सा रोग होने की संभावना अधिक है, ताकि उचित सावधानी बरती जा सके।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

मेष राशि

मेष राशि के लोगों को दिमाग, पीयूष ग्रथि (पिट्युटरी ग्लैंड), सेरेब्रम, सेरेबेलम, चेहरे की हड्डियों और ऊपरी जबड़े से जुड़े रोग होने की संभावना होती है। वहीं इन्हें चोट लगना, बुखार, जल्दी गुस्सा आना, इन्फ्लमेट्री डिसऑर्डर, नींद से जुड़ी समस्याएं, सिरदर्द, पायरिया और इनसोमेनिया, रक्त की अशुद्धी के कारण होने वाले रोग आदि हो सकते हैं। मेष राशि के लोग उतावले स्वभाव के होते हैं और हमेशा जल्दबाजी में रहते हैं। चाय, कॉफी जैसे पेय इन्हें काफी पसंद होते हैं। आमतौर पर उनकी खाने-पीने की आदतें अनियमित होती हैं जिस वजह से इनका पाचन तंत्र भी गड़बड़ रहता है।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

वृष राशि

वृष राशि के लोगों का गला काफी संवेदनशील होता है। इन्हें भोजन-नली, गले की हड्डियों, कान, थायरॉइड ग्लैंड और निचले जबड़े से जुड़े रोग और समस्या होने की संभावना रहती है। साथ ही इन्हें गिल्‍हड़ (गोइट्रे), कमजोर वीनस सिस्टम और मोटापा आदि होने का जोखिम होता है। वृष राशि के लोगों को पारम्परिक और ऊर्जावान भोजन जैसे चावल, आलू और कार्बोहायड्रेट वाले अन्य खाद्य पदार्थ पसंद होता है।  
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

मिथुन राशि

मिथुन राशि के अधिकांश लोगों संवेदनशील त्वचा वाले होते हैं। इस राशि के लोगों को त्वचा से जुड़े रोग हो सकते हैं। वहीं इन लोगों को श्वास नली, फेफड़े, नर्वस सिस्टम, कंधों की हड्डियों, बाजू और शरीर के ऊपरी हिस्से की पसलियों से जुड़ी समस्याएं भी होने की संभावना रहती है। जहां तक बात रही इनकी रुचिपूर्ण भोजन की तो इन्हें थोड़ा-थोड़ा करके खाना पसंद होता है और ये स्नैक्स और ऐपेटाइज़र अधिक खआते हैं। मिथुन राशि के लोग खाने के साथ टीवी देखने व किताब पढ़ने जैसे दूसरे काम भी करते हैं।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

कर्क राशि

कर्क राशि के लोगों का पाचन तंत्र कमजोर होता है जिस कारण ये सीमित चीजें ही खाते हैं। हालांकि ये शराब और वाइन आदि पसंद करते हैं। इन लोगों को मीठा भी पेहद पसंद होता है, लेकिन इनकी डायट में आमतौर पर कैल्शियम की कमी रहती है। इस राशि के लोगों को ब्रेस्ट, चेस्ट, हार्ट, पेट व पाचन-तंत्र से जुड़े रोग होने की आशंका रहती है। इसके अलावा, कर्क राशि के लोगों को कैंसर, चेचक, ड्रॉप्सी और मानसिक रोगों भी हो सकते हैं।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

सिंह राशि

सिंह राशि के लोगों को लीवर और दिल से जु़डे रोग तथा रीढ़ की हड्डी, पाचक-ग्रंथि और रक्त से जुड़े रोग होने की संभावना रहती है। वहीं इस राशि के लोग डायबीटीज, कमजोर इच्छाशक्ति और बार-बार बेहोश होने जैसी समस्याओं के प्रति भी अधिक संवेदनशील होते हैं। ये लोग खाने के मामले में बड़े ही नियमि व अनुशासित होते हैं। अपने हाई मेटाबॉलिक रेट के चलते इन्हें जल्दी-जल्दी भूख लगती है और ये पानी भी अधिक पीते हैं (जो स्वास्थ्य के लिए अच्छा है)। दिल की सेहत का ख्याल रखने के लिए सिंह राशि वालों को तला और मसालेदार कम खाना चाहिए।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

कन्या राशि

कन्या राशि में जन्मे लोगों को पेट से जुड़े रोग जैसे अपेन्डिसाइटिस, कब्ज, नर्वस और सेक्शुअल बीमारियां होने की संभावना होती है। इन्हें नाभि और आंतों से जुड़े रोग भी परेशान कर सकते हैं। हालांकि ये काफी स्वास्थ्य के प्रति काफी जागरूक होते हैं, ये पौष्टिक आहार लेना पसंद करते हैं। लेकिन मेटाबॉलिज़म धीमा होने के कारण इनका वज़न तेज़ी से बढ़ सकता है। इन्हें फैटी भोजन और ओवरईटिंग से बचना चाहिए। यदि ये लोग अपने खाने में दूध, दही, क्रीम जैसे डेरी प्रॉडक्ट्स को शामिल करें तो अच्छा होगा।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

तुला राशि

तुला राशि के लोग अपने वजन को लेकर ये काफी सचेत होते हैं। लेकिन मीठा इन लोगों की कमजोरी होता है। खाने की खुशबू से इन्हें खास लगाव होता है। इनका इम्यूनॉलजिकल सिस्टम खाने की खराब आदतों से बिगड़ सकता है। जहां तक बात है बीमारियों की संभावना की तो इन्हें त्वचा-संबंधी, किडनी, अण्डाशय, स्पर्म डक्ट, एपिडर्मिस आदि रोग होने की संभावना अधिक रहती है।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

वृश्चिक राशि

वृश्चिक राशि के लोगों को यूरिनरी सिस्टम, सेक्शुअल ऑर्गन, ऐनस, ब्लैडर, नासिका-संबंधी, पेल्विक बोन और मलाशय से जुड़े रोग होने की संभावना होती है। ये लोग स्ट्रेस में अधिक खा जाते हैं। वृश्चिक राशि वालों को शराब पीने से परहेज करना चाहिए और एक बार में अधिक खाने के बजाय इन्हें थोड़ा-थोड़ा खाना चाहिए।

courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

धनु राशि

धनु राशि में जन्में लोग अपनी सेहत को लेकर काफी जागरूक रहते हैं। जल्दी में रहने के स्वभाव के चलते इस राशि के लोगों में ओवरवेट होने की काफी संभावना होती हैं। धनु राशि के लोगों को नितंब, जांघों और नर्व्स के अलावा धमिनयों से जुड़े रोग हो सकते हैं। इन्हें त्वचा व लिवर के रोग होने की संभावना भी अधिक होती है इसलिए इन्हें शराब से बचना चाहिए व दूध और दूसरी प्रोटीन युक्त चीजें अधिक चाहिए।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

मकर राशि

मकर राशि के लोगों को हड्डियों से जुड़े रोग तथा घुटनों और जोड़ों में दर्द आदि हो सकते हैं। इन लोगों में बालों और नाखूनों से जुड़े रोगों भी हो सकते हैं। इनके लिए खाने की गुणवत्ता उसकी मात्रा से अधिक मायने रखती है। सादा खाना इन्हें ज्यादा पसंद होता है। खाते समय कोई और काम करना इन्हें पसंद नहीं होता। यदि ये लोग अपनी डायट में प्रोटीन और कैल्शियम शामिल करें तो हमेशा स्वस्थ रहेंगे।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

कुंभ राशि

कुंभ राशि के लोगों को पैर, एडियों और ब्लड सर्कुलेशन से जुड़े रोगों के साथ-साथ कैंसर, नर्वस सिस्टम से जुड़े रोग और पांव का फ्रैक्चर होने आदि की संभावना रहती है। दाइट की बात की जाए तो आमतौर पर ये हल्का-फुल्का और लो कैलरी भोजन लेने ही पसंद करते हैं। खाने में इनकी ज्यादा रुचि नहीं होती। ये कॉफी और चाय के बेहद शौकीन होते हैं।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

मीन राशि

मीन राशि के लोगों को पांव और पैरों की उंगलियों से जुड़े रोग तथा गठिया, जोड़ों का दर्द, ट्यूमर, अत्यधिक म्यूकस आदि रोग हो सकते हैं। इनकी खाने-पीने की आदतें परिस्थितियों के मुताबिक बदलती रहती हैं। अपने मेन्यु में वरायटी देखकर ये काफी खुश होते हैं। इनका पाचन तंत्र खराब रहता है इसलिए इन्हें ज्यादा नमक और ऐल्कॉहॉल का सेवन करने से बचना चाहिए। पानी और आयरन इन्हें जितना हो सके लेना चाहिए।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK