Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

इन 5 कारणों से होता है कैंसर का सबसे ज्यादा खतरा, जानें बचाव के तरीके

कैंसर एक जानलेवा बीमारी है। दुनिया भर में लाखों लोग इस बीमारी के विभिन्‍न रूपों के कारण अपनी जान गंवाते हैं। लेकिन, आखिर यह बीमारी होती क्‍यों है, यह जानना जरूरी है।

कैंसर By Rashmi UpadhyayDec 17, 2018

किसी भी कारण से हो सकता है कैंसर

आपको किसी भी चीज से कैंसर हो सकता है। यहां तक सूरज की रोशनी भी कैंसर का कारण हो सकता है। काफी कुछ इस बात पर निर्भर करता है कि आपका इम्‍यून सिस्‍टम इस सबको कितना बर्दाश्‍त कर सकता है। फिर भी कुछ ऐसी चीजें हैं जिन्हें आप कैंसर की प्रमुख वजह मान सकते हैं-

image source - getty images

ऑक्‍सीजन से भी कैंसर!

हालांकि कैंसर के वास्‍तविक कारणों के बारे में जानकारी नहीं है, लेकिन कई ऐसी चीजें हैं जिनके कारण आपको कैंसर हो सकता है। उदाहरण के लिए यह तो आप जानते हैं कि हम ऑक्‍सीजन के बिना जीवित नहीं रह सकते, लेकिन फ्री रेडिकल्‍स के रूप में मौजूद ऑक्‍सीजन कैंसर का एक अहम कारण हो सकती है।

image source - getty images

उम्र

अधिकतर कैंसर 65 वर्ष की आयु के बाद के लोगों को होते हैं। जैसे-जैसे हमारी उम्र बढ़ती है हमारी कोशिकाओं के पुर्ननिर्माण की प्रक्रिया खत्‍म होने लगती है। और इन परिस्थितियों में हमें कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है।

image source - getty images

शारीरिक गतिविधियों का अभाव

जो लोग बहुत ज्‍यादा शारीरिक गति‍विधियां नहीं करते, या फिर जिनका वजन ज्‍यादा होता है उन्‍हें कई प्रकार के कैंसर होने का खतरा सामान्‍य लोगों से अधिक होता है।

image source - getty images

अनुवांशिक

अधिकतर कैंसर हमारे गुणसूत्रों की निर्माण प्रक्रिया पर निर्भर करते हैं। गुणसूत्रों यानी जीन्‍स में होने वाले ये बदलाव कई बार अनुवांशिक भी हो सकते हैं। अत्‍यंत दुर्लभ मामलों में मेलानोमा और स्‍तन कैंसर, ओवरी कैंसर, प्रोस्‍टेट और कोलन कैंसर एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी में जा सकते हैं। इसका अर्थ यह नहीं कि अगर आपके माता-पिता में से किसी को कैंसर था, तो आपको भी यह रोग अवश्‍य होगा।

image source - getty images

हॉर्मोंस

कई बार किसी हॉर्मोन असंतुलन के कारण भी कैंसर हो सकता है। शोध में यह साबित हुआ है कि जो महिलायें विभिन्‍न हॉर्मोन थेरेपी के दौरान एस्‍ट्रोजन लेती हैं, या उनमें यह हॉर्मोन मौजूद होता है, उन्‍हें कैंसर होने का खतरा अधिक होता है। कुछ शोध गर्भनिरोधक गोलियों को भी इसका कारण माना जाता है। हालांकि इस बारे में डाटा काफी अपुष्‍ट है।

image source - getty images

तंबाकू

टार और निकोटिन कैंसर-पूर्व परिस्थितियों और कैंसर का भी कारण हो सकती हैं। धूम्रपान कैंसर से होने वाली मौतों की सबसे बड़ी वजह है। कैंसर से होने वाली मौतों में से हर तीसरी मौत का कारण यही धूम्रपान होता है। धूम्रपान के अलावा तंबाकू का किसी भी अन्‍य प्रकार से सेवन करना भी मुंह के कैंसर की बड़ी वजह हो सकता है।

image source - getty images

विकिरण

जमीन और वातावरण में मौजूद कॉस्मिक किरणें रेडि‍एशन का अहम कारण है। कॉस्मिक किरणें रेडन गैस, रेडिएक्टिव स्राव, एक्‍स-रे और परमाणु हथियारों में से हो निकलती हैं। इस विकिरण से कोशिकाओं को नुकसान होता है और इससे आपको कैंसर हो सकता है। न्‍यूक्‍लीयर पॉवर प्‍लांट के आसपास रहने वाले या उसमें काम करने वाले लोगों को इस प्रकार के विकिरण से खतरा हो सकता है।

image source - getty images

प्रदूषण

प्रदूषण भी कैंसर का एक अहम कारण है। रोजमर्रा की जिंदगी में प्रदूषण के कारण हम ऐसे कई तत्‍वों के संपर्क में आते हैं, जो कैंसर का कारक हो सकते हैं। पेंट रिमूवर, ग्रीस रिमूवर, पेंट थिनर आदि को कैंसर का कारण माना जाता है।

image source - getty images

अल्‍कोहल

यह कैंसर का एक अन्‍य कारण है। यदि आप धूम्रपान भी करते हैं और इसके साथ ही शराब का भी अत्‍यधिक सेवन करते हैं, तो आप कैंसर और अन्‍य बीमारियों को खुला न्‍योता दे रहे हैं। इससे मुंह, गले, ऑसोफोरस, वोकल कोर्ड, लिवर और स्‍तन कैंसर होने का खतरा काफी अधिक होता है।

image source - getty images

वायरस और बैक्‍टीरिया

कुछ प्रकार के वायरस और बैक्‍टीरिया भी कैंसर का कारण हो सकते हैं। एचपीवी (ह्यूमन पेपिलोमावायरस), एचआईवी और अन्‍य कुछ बैक्‍टीरिया भी कैंसर को जन्‍म दे सकते हैं।

image source - getty images

दवायें

कुछ कीमोथेरेपी ड्रग्‍स के कारण दूसरी बार कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है। मरीज में इम्‍यून सिस्‍टम मजबूत बनाने के लिए दी जाने वाली दवायें कैंसर का खतरा बढ़ा देती हैं। इन दवाओं से लिम्‍फोमा होने का खतरा अधिक होता है।

image source - getty images

आहार

कुछ शोध में यह बात सामने आयी है कि जो लोग अधिक मात्रा में रेड मीट, संरक्षित मीट, नमक से संरक्षित मीट आदि का सेवन करते हैं, उन्‍हें पेट, कोलन, यूट्रेरस और प्रोस्‍टेट कैंसर होने का खतरा अधिक होता है।

image source - getty images

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK