• shareIcon

चंदन के करामाती फायदे

चंदन का प्रयोग ना सिर्फ सौंदर्य समस्याओं के लिए किया जाता है बल्कि यह कई अन्य स्वास्थ्य समस्याओं से भी निजात दिलाता है।

घरेलू नुस्‍ख By Anubha Tripathi / Mar 19, 2014

चंदन के गुण

चंदन में एंटीबायोटिक तत्व तो होते ही हैं साथ ही ये अपने प्राकृतिक औषधीय गुणों के कारण कई रोगों से निजात दिलाता है। एक तरफ जहां यहां आपकी सौंदर्य समस्याओं का उपचार करता है वहीं दूसरी तरफ इसके प्रयोग से सिरदर्द,तनाव और दांत दर्द आदि से भी छुटकारा पा सकते हैं। आइए जानें चंदन के स्वास्थ्य लाभ के बारे में-

घाव भरने में मददगार

चंदन में एंटीबायोटिक तत्व होते हैं, जो स्किन को किसी भी प्रकार के विषाणु से मुक्त कराता है। किसी भी तरह के फोडे-फुंसी, घाव आदि सभी को चंदन के नियमित प्रयोग से हटाया जा सकता है।

कील-मुहांसे की समस्या

चेहरे पर कील-मुंहासों के बाद दाग-धब्बे रह जाते हैं तो चेहरे पर चंदन के लेप से साफ किया जा सकता है। चंदन का लेप कील-मुंहासों को ही ठीक नहीं करता, बल्कि स्किन को साफ और नमी प्रदान करता है। 1/2 चम्मच हलदी पाउडर, 1 चम्मच चंदन पाउडर मिलाकर पेस्ट तैयार कर लें। इससे कम से कम 15-20 मिनट लगाए रखने से केवल कील-मुंहासे ही कम नहीं होते, इससे आपका चेहरा भी खिल जाता है।

खुजली दूर करे

शरीर के किसी भाग पर खुजली होने पर चंदन पाउडर में हल्दी और 1 चम्मच नींबू का रस मिलाकर लगाने से खुजली तो दूर हो जाएगी साथ में लालपन भी कम होता है। चंदन में कीटाणुनाशक विशेषता होने की वजह से यह हर्बल एंटीसेप्टिक है, इसलिए किसी भी प्रकार के छोटे घाव और खरोंच को ठीक करता है। यह जलने से हुए घाव को भी ठीक कर सकता है।

कालापन दूर करे

शरीर के किसी भाग का रंग काला पड़ गया हो तो 2 चम्मच बादाम का तेल, 5 चम्मच नारियल का तेल और 4 चम्मच चंदन पाउडर मिलाकर उस खुले भाग पर लगाएं। इससे कालापन तो जाएगा ही साथ  ही स्किन चमकदार बनेगी।

शरीर की दुर्गंध

चंदन का प्रयोग शरीर को दुर्गंध को दूर करने के लिए भी प्रयोग किया जाता है। हर रोज तो चंदन पाउडर को में पानी मिला कर शरीर पर लगाने से पसीना कम होगा। इससे आप घंटो तक खुद को तरोताजा महसूस कर सकते हैं।

पाचन क्रिया ठीक रखे

चंदन पाचन क्रिया को ठीक करता है। चंदन का किसी भी रूप में प्रयोग गुणकारी होता है। चाहे आप इसको तेल, पाउडर, लकडी आदि किसी भी रूप में हो, चंदन शरीरिक प्रक्रिया का संतुलन बनाता है। साथ में स्नायुतंत्र और श्वसन प्रक्रिया को मजबूत बनाता है।

सूजन में आराम दिलाए

एंटीसेप्टिक तत्व होने के कारण चंदन का प्रयोग सूजन को कम करने के लिए किया जाता है। शरीर के कुछ खास हिस्सों जैसे गॉल ब्लैडर और जननांग में सूजन होने पर चंदन का प्रयोग करना अच्छा माना जाता है।

बालों को पोषण दें

चंदन को आप कंडीशनर के रूप में भी इस्तेमाल कर सकते हैं। यह बालों को मजबूत  बनाता है साथ ही इसका प्रयोग बालों को चमक व पोषण देता है। नियमित प्रयोग से फर्क आपको खुद महसूस होगा।

तनाव दूर करे

एरोमाथेरेपी के दौरान चंदन के तेल का प्रयोग तनाव और थकान को दूर करने के लिए किया जाता है। तेल में मौजूद गुण मस्तिष्क में सिरोटोनिन का निर्माण करते हैं जिससे सकारात्मकता बढ़ती है और तनाव दूर होता है।  

दांत मजबूत बनाए

चंदन के तेल में मसूड़ों को मजबूत करने वाले तत्व पाए जाते हैं। इसलिए ज्यादातर दंत मंजनों में इसका प्रयोग किया जाता है। इससे दांत से संबंधित समस्याओं से भी बचा जा सकता है।

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK