• shareIcon

नीम के बीज से होने वाले 8 अद्भुत लाभ

नीम की पत्तियों से लेकर उसकी छाल और बीज का इस्‍तेमाल बहुत अधिक मात्रा में किया जाता है। नीम के बीज से बने तेल में इतने उपयोगी गुण हैं जो आपकी सेहत और सौंदर्य दोनों को ही फायदा पहुंचा सकते हैं।

घरेलू नुस्‍ख By Pooja Sinha / Apr 27, 2015

नीम के बीज के फायदे

नीम की पत्तियों से होने वाले स्‍वास्‍थ्‍य लाभों के बारे में हम सभी जानते हैं। पत्तियों का उपयोग विभिन्न प्रकार की औषधियों के रूप में किया जाता है। हृदय से संबंधित समस्याओं, संक्रामक बीमारियों, आंखों से संबंधित बीमारियों तथा आंत की बीमारियों आदि के उपचार में इनका उपयोग किया जाता है। लेकिन क्‍या आप नीम के बीज से होने वाले फायदों के बारे में जानते हैं। जी हां नीम की तरह नीम का बीज भी आपके बहुत फायदेमंद होते है। आइए नीम के बीज से होने वाले लाभों के बारे में जानकारी लेते हैं।
Image Source : squarespace.com

मलेरिया की रोकथाम करें

मलेरिया के प्रभावी उपचार में नीम के बीज का उपयोग किया जाता है। शोधकर्ताओं के अनुसार, नीम के पीसे हुए बीजों की दुर्गन्‍ध से मच्‍छरों को दूर रखने में मदद मिलती है। इसके अलावा नीम के बीजों से निकले तेल का उपयोग मच्‍छरों को अंडे देने से रोकता है जिससे म‍लेरिया की रोकथाम में मदद मिलती है।
Image Source : Getty

त्वचा संबंधी रोगों को दूर करें

नीम के बीज के तेल का उपयोग हर्बल उत्‍पादों के घटक के रूप में किया जाता है। नीम के बीज के तेल से आपकी त्वचा नर्म, चिकनी और चमकदार बनती है। इससे त्वचा स्वस्थ और दाग धब्बों से मुक्त रहती है। नीम के बीज से बने तेल में मौजूद प्राकृतिक एंटीफंगल और एंटीसेप्टिक गुणों के कारण इसको उपयोग त्‍वचा संबंधी विभिन्‍न समस्‍याओं जैसे सोरेसिस, एक्जिमा, मुहांसों आदि में किया जाता है। नीम के तेल को साबुन, लोशन, फेस वॉश आदि में भी मिलाया जाता है।
Image Source : Getty

पालतू जानवरों को कीटाणुओं से दूर करने में सहायक

अपने पालतू जानवर के कीटाणुओं से संक्रमित होने पर हम परेशान हो जाते हैं कि उसके लिए ऐसा कौन सा उपाय करें जो उसके स्‍वास्‍थ्‍य और सुरक्षा की दृष्टि से अच्‍छा हो। इसके लिए परेशान न हो क्‍योंकि नीम का तेल आपके पालतू जानवर के लिए भी बहुत उपयोगी होता है। उनके बालों में नीम के बीज से बना तेल लगाये। इससे उनके बालों में मौजूद कीटाणु दूर होने के साथ-साथ बाल भी चमकीले हो जायेगें। इस उपचार से जानवर को किसी तरह का नुकसान भी नहीं होता।
Image Source : Getty

बालों को स्‍वस्‍थ और सुंदर बनाये

बाल झड़ने, डैंड्रफ जैसी समस्याओं से परेशान हैं तो नीम के बीज से बने तेल के इस्तेमाल से आपको फायदा मिल सकता है। नीम में एंटीबैक्टीरियल, एंटी फंगल, एंटी पैरासिटिक गुणों के अलावा, विटामिन सी, प्रोटीन और कैरोटीन प्रचुर मात्रा में है जो न केवल बालों को संक्रमण से मुक्त रखता है और जुएं जैसी समस्याओं से बचाता है बल्कि बालों को लंबे समय तक घना और काला बनाए रखने में मदद करता है। स्वस्थ और चमकीले बालों के लिए आप नीम के तेल का उपयोग कर सकते हैं।
Image Source : Getty

किडनी और प्रोस्‍टेट के उपचार में सहायक

नीम के बीजों और पत्‍तों से बनी चाय भी आपके स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत लाभदायक होती है। यह किडनी, मूत्राशय और प्रोस्टेट से संबंधित बीमारियों के उपचार में बहुत प्रभावी है। यह उपचार दशकों से चला आ रहा है परंतु आज भी लोकप्रिय है। हालांकि यह बहुत अधिक कड़वा होता है और इन्‍हें पीना बहुत मुश्किल होता है।
Image Source : Getty

आंखों और कानों के लिए फायदेमंद

नीम के बीज के सत्व का उपयोग आंखों और कानों के लिए मरहम बनाने में किया जाता है। इनमें मौजूद एंटीबैक्टीरियल गुणों के कारण यह आंखों और कानों में संक्रमण पैदा करने वाले बैक्टीरिया से लड़ने में सहायक होता है। विशेषज्ञों के अनुसार आंखों और कानों में कीटाणुओं और जीवाणुओं के कारण होने वाले संक्रमण के उपचार में नीम के बीज के सत्व से बनी मरहम का उपयोग बहुत प्रभावी तरीके से किया जा सकता है।
Image Source : Getty

एथलीट्स के पैरों के लिए भी होता है फायदेमंद

आमतौर पर एथलीट्स के पैरों में फंगल इंफेक्शन बहुत अधिक होता हैं। और नीम के बीज से बने तेल में एंटी-फंगल तत्व पाए जाते हैं, जोकि फंगस से लड़ने में मददगार होते है। फंगस ट्रीटमेंट में नीम का तेल इस्तेमाल करने के लिए, आप थोड़े से नीम के तेल में थोड़ा-सा नारियल का तेल मिलाकर उसे प्रभावित हिस्से पर लगाएं, फायदा होगा।
Image Source : Getty

बढ़ती उम्र को रोकें

नीम में पाये जाने वाले तत्व ऑक्सीकरण रोधक होते हैं जो चेहरे में होने वाले परिवर्तनों को रोक देते हैं। नीम के बीज से बने तेल लगाने से चेहरे की झुर्रियां कम होती है। और आपकी बढ़ती हुई उम्र रूक जाती है।
Image Source : Getty

बनाएं दांतों को सुरक्षित

नीम का उपयोग प्राचीन काल से ही दांत साफ करने के लिए किया जाता रहा है। नीम में दांतों को सफेद बनाने व बैक्टीरिया को खत्म करने के गुण पाए जाते हैं। यह प्राकृतिक एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-सेप्टिक तत्‍व विद्यमान होते है। नीम का तेल मसूड़े की सूजन और दांत की सड़न को दूर करने का काम करता है। इसके अलावा यह दांतों में होने वाली समस्याओं जैसे दांतों के दर्द, दांतों का कैंसर, दांतों में सड़न आदि में राहत देता है।
Image Source : Getty

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK