• Follow Us

महिलाएं जरूर जानें सप्लीमेंट के ये 7 जोखिम

ओवर दि काउंटर मिलने वाले हर्बल और डाइटरी सप्लीमेंट दिनों दिन ज्यादा पॉपुलर होते जा रहे हैं। विज्ञापनों में देखकर कई महिलाएं इन्हें लेकर इनका सेवन शुरू कर देती हैं। इसके लिए वो अपने डॉक्टर से कंसल्ट करना भी जरूरी नहीं समझती। अ

महिला स्‍वास्थ्‍य By Shabnam Khan / Mar 26, 2015
 सप्लीमेंट्स से हो सकते हैं नुकसान भी

सप्लीमेंट्स से हो सकते हैं नुकसान भी

सप्लीमेंट्स का इस्तेमाल बहुत सी महिलाएं करती हैं। ओवर दि काउंटर मिलने वाले हर्बल और डाइटरी सप्लीमेंट दिनों दिन ज्यादा पॉपुलर होते जा रहे हैं। विज्ञापनों में देखकर कई महिलाएं इन्हें लेकर इनका सेवन शुरू कर देती हैं। इसके लिए वो अपने डॉक्टर से कंसल्ट करना भी जरूरी नहीं समझती। अगर आप भी सप्लीमेंट का सेवन कर रही हैं तो आपको इससे होने वाले खतरों के बारे में जानकारी जरूर होनी चाहिए। आइये जानते हैं कि वो कौन से 7 जोखिम हैं जो सप्लिमेंट लेने वाली महिलाओं को मालूम होने चाहिए।

Image Source - Getty Images

विटामिन डी सप्लीमेंट

विटामिन डी सप्लीमेंट

विटामिन डी एक फैट सॉल्युबल विटामिन है। एकसपर्ट्स के मुताबिक ज्यादा मात्रा में विटामिन डी लेने से किडनी को नुकसान पहुंच सकता है। इससे किडनी में पथरी उल्टी आने और मांसपेशियों के कमजोर होने जैसी समस्याएं होने लगती हैं। इसके अलावा एक स्टडी में बताया गया है कि जिन लोगों के खून में विटामिन डी ज्यादा होता है उनमे हार्टअटैक का खतरा 2.8 फीसदी ज्यादा होता है।

Image Source - Getty Images

 

कैल्शियम सप्लीमेंट

कैल्शियम सप्लीमेंट

अच्छी सेहत और मजबूत हड्डियों के लिए कैल्शियम लेना बहुत ही जरूरी है। अकसर महिलाएं अतिरिक्त कैल्शियम के लिए अलग से सप्लीमेंट भी लेती हैं। लेकिन ऐसा करने से उन्हें नुकसान पहुंच सकता है। ज्‍यादा कैल्‍शियम आपकी हड्डियों के लिये अच्‍छा नहीं है, इसका उल्‍टा असर हो सकता है। ज्‍यादा कैल्‍शियम हड्डी को बिगाड़ देती हैं और उन्‍हें जल्‍द बूढा़ बना देती हैं। अधिक कैल्‍शियम लेने से पेट संबधी बीमारी भी हो सकती है जैसे, कब्‍ज, भूख ना लगना और पेट के निचले भाग में दर्द आदि।

Image Source - Getty Images

 

मल्टी-विटामिन सप्लीमेंट

मल्टी-विटामिन सप्लीमेंट

अक्सर हम ये सोचकर विटामिन सप्लीमेंट लेते हैं कि विटामिन्स तो हमारी सेहत के लिए अच्छे ही हैं लेकिन बिना डॉक्टरी परामर्श के इनसे हाइपरविटामिनोसिस (शरीर में विटामिन की अधिकता से होने वाला रोग), पेट से संबंधित समस्याएं, डायरिया जैसी दिक्कतें हो सकती हैं। मसलन, विटामिन सी या जिंक की अधिकता से डायरिया, क्रैंप, गैस्ट्रिक, थकान और घबराहट जैसी दिक्कतें हो सकती हैं। अच्छी हेल्दी डाइट और घर के बने खाने का कोई विकल्प नहीं है।

Image Source - Getty Images

 

फिश ऑयल सप्लीमेंट

फिश ऑयल सप्लीमेंट

जो लोग विटामिन ई की कमी को पूरा करने के लिए सप्लीमेंट लेते हैं, उन्हें बीपी और सिरदर्द की शिकायत रहती है। एक स्टडी के मुताबिक कुछ लोग जो विटामिन ई की गोलियां लेते हैं, उन्हें तीन-चार साल बाद सिर दर्द की समस्या शुरू हो जाती है। इस विटामिन को ज्यादा खाने पर आंखों की रोशनी के कम होने का खतरा बना रहता है। अमेरिकन हार्ट असोसिएशन के मुताबिक इसकी ओवरडोज जान का जोखिम बढ़ा सकती है, इसलिए डॉक्टर की सलाह से ही इसका सेवन करें।

Image Source - Getty Images

 

विटामिन सी सप्लीमेंट

विटामिन सी सप्लीमेंट

विटामिन सी का काम शरीर को एनर्जी देता है। मसल्स बिल्डिंग के लिए ये विटामिन बहुत जरूरी होता है। साथ ही, रोगों के प्रति सुरक्षा के लिए भी इसे जरूरी माना जाता है। लेकिन अक्सर लोग बिना किसी डॉक्टर की सलाह से विटामिन सी की टेबलेट्स खाने लगते हैं। विटामिन सी की ओवरडोज उल्टी, दस्त, गुर्दे की पथरी और पेट में ऐंठन पैदा कर सकती है।

Image Source - Getty Images

विटामिन बी सप्लीमेंट

विटामिन बी सप्लीमेंट

शरीर को विटामिन बी की जरूरत होती है मगर इसकी ओवरडोज नसों की समस्या पैदा कर सकती है। बी 12 और विटामिन बी ज्यादातर खाने में पाई जाती है। एक्सपर्ट्स के मुताबकि विटामिन बी-6 ज्यादा मात्रा में खाने से नहीं मिलता है। इसलिए लोग इसकी कमी को सप्लीमेंट के जरिए पूरा करते हैं। मगर इसका ओवरडोज भी बॉडी को नुकसान पहुंचा सकता है।

Image Source - Getty Images

 

विटामिन के सप्लीमेंट

विटामिन के सप्लीमेंट

विटामिन के कम स्रोतों से प्राप्त होता है इसलिए लोग अक्सर इसके सप्लीमेंट लेते हैं। यदि आप बिना जरूरत सप्लीमेंट ले रहे हैं तो इसे ज्यादा लेने से बॉडी में ब्लीडिंग का खतरा बढ़ जाता है। जब विटामिन के को हाई लेवल पर खाया जाए तो यह खून को कम कर देता है।

Image Source - Getty Images

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK