Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

सनस्‍ट्रोक से बचाता है शहतूत, ये है 5 आश्‍चर्यजनक फायदे

शहतूत (mulberry) एक स्वाद से भरा व पौष्टिक फल है. शहतूत की मुख्य 3 किस्में हैं, सफेद शहतूत, लाल शहतूत और काला शहतूत। शहतूत का फल जितना रसीला और मीठा होता है, उतनी ही ज्यादा मात्रा में इस में एंटीआक्सीडेंट पाया जाता है। गरमी के मौसम में शरीर को ज्यादा

एक्सरसाइज और फिटनेस By Atul ModiMay 11, 2017

सनस्‍ट्रोक से बचाव

रस से भरे शहतूत सनस्‍ट्रोक से बचाते हैं, एक्‍सपर्ट भी गर्मी के दिनों में शहतूत के रस में चीनी मिलाकर पीने की सलाह देते हैं। क्‍योंकि शहतूत की तासीर ठंडी होती है

आंखों के लिए

औषधीय गुणों से भरपूर शहतूत का सेवन करने वाले व्‍यक्तियों की आंखों की रोशनी हमेशा तेज रहती है। इसका शरबत बनाकर पीने से कैंसर जैसी बीमारी दूर रहती है।

दिल का रखे ख्‍याल

शहतूत दिल के रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। शहतूत का रस पीने से ह्रदय स्‍वस्‍थ रहता है, कोलेस्‍ट्रॉल लेवल कंट्रोल में रहता है।

थकान दूर करता है

शहतूत खाने से शरीर की थकान दूर होती है, पहाड़ों पर ट्रैकिंग करने वालों के लिए शहतूत एक बेहतरीन एनर्जी फूड माना जाता है।

मुहासे दूर करता है

जो लोग मुहासे से परेशान हैं उनके लिए यह रामबाण है। शहतूत की छाल और नीम की छाल को पीसकर मुहासे पर लगाने से जल्‍दी आराम मिलता है।

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK