बीयर नहीं, आपकी सोच बुरी है!

बीयर पीने से पेट निकलता है, बीयर में एल्कोहल ज्यादा होता है, बीयर के बारे में आपके मन में तमाम भ्रांतियां हैं, लेकिन असल में ऐसा नहीं है, बीयर इतनी भी बुरी नहीं है, बल्कि यह कुछ मामलों में फायदेमंद भी है।

एक्सरसाइज और फिटनेस By Bharat Malhotra / Mar 18, 2017
बीयर इतनी बुरी नहीं

बीयर इतनी बुरी नहीं

बीयर पीना या न पीना आपकी इच्छा पर‍ निर्भर करता है। लेकिन, हम यहां आपको बता रहे हैं कि दस ऐसे कारण जिन्हें पढ़कर आपको ज्ञात होगा कि अगर इसका सेवन संतुलित मात्रा में किया जाए तो बीयर आपके लिए क्यों नुकसानदेह नहीं है। याद रखें, हम आपको बीयर पीने के लिए प्रेरित नहीं कर रहे। अगर आप शराब नहीं पीते या आपको कोई स्वास्थ्य समस्या है, तो आपको इसका सेवन नहीं करना चाहिये। Image Courtesy- getty images

बीयर पीने वाले लंबा जीते हैं

बीयर पीने वाले लंबा जीते हैं

संतुलित मात्रा में बीयर पीना आपकी सेहत के लिए अच्छा होता है। हां, ज्यादा मात्रा जरूर आपकी सेहत बिगाड़ सकती है। अगर आप ज्यादा पीते हैं, तो आपको कैंसर जैसी कई खतरनाक बीमारियां हो सकती हैं, लेकिन अगर आप बिलकुल ही नहीं पीते, तो यह भी आपकी सेहत के लिए अच्छा नहीं। कई शोध यह बता चुके हैं कि संतुलित मात्रा में पीने वाले, ज्यादा पीने वालों या बिलकुल ही न पीने वालों की अपेक्षा अध‍िक लंबा जीवन जीते हैं। बीयर संतुलित मात्रा में पीने के लिए उपयुक्त है। इसमें एल्कोहल की मात्रा वाइन और व्हिस्की आदि की अपेक्षा कम होती है। Image Courtesy- getty images

कुदरती होती है बीयर

कुदरती होती है बीयर

कुछ लोग मानते हैं कि बीयर में कई प्रिजरवेटिव मिलाये जाते हैं। लेकिन, सच्चाई यह है कि बीयर ओरेंज जूस जितनी ही कुदरती होती है। और कई मामलों में उनसे भी ज्यादा। क्योंकि पैक्ड ओरेंज जूस और मिलावटी दूध के नुकसानों के बारे में हम जानते ही हैं। बीयर को प्रिजरवेटिव की जरूरत नहीं होती। इसमें एल्कोहल और होप्स होता है। ये दोनों ही कुदरती प्रिजरवेटिव हैं। बीयर को बनाने की प्रक्रिया ब्रेड जैसी ही है। इसे भी पकाया और किण्वित (fermented) किया जाता है। Image Courtesy- getty images

बीयर कोलेस्ट्रॉल के स्तर में करती है सुधार

बीयर कोलेस्ट्रॉल के स्तर में करती है सुधार

बीयर में कोलेस्ट्रॉल नहीं होता, लेकिन यह आपके शरीर में कोलेस्ट्रॉल का स्तर सुधारती है। संतुलित मात्रा में बीयर का सेवन करना शरीर में गुड और बेड कोलेस्ट्रॉल के स्तर को संतुलित करती है। बीयर शरीर में गुड कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाती है। ताजा शोध के मुताबिक रोजाना एक बीयर पीने से गुड कोलेस्ट्रॉल के स्तर में चार फीसदी की बढ़ोत्तरी होती है। Image Courtesy- getty images

बीयर में विटामिन बी होता है भरपूर

बीयर में विटामिन बी होता है भरपूर

बीयर और खासकर अनफिल्टर या लाइट बीयर, बहुत ज्यादा पौष्ट‍िक होती है। बीयर में विटामिन बी के सभी रूप उच्च स्तर में होते हैं। इसमें फॉलिक एसिड होता है जो हार्ट अटैक से बचाने में मददगार होता है। बीयर में घुलनशील फाइबर होता है, जो आपको रोजमर्रा के काम करने के लिए पर्याप्त ऊर्जा देता है। इसके साथ ही यह फाइबर हमारे शरीर में जमा अतिरिक्त वसा और गंदगी को निकालने में मदद करता है। इसके साथ ही यह शरीर में मैग्नीश‍ियम और पोटैश‍ियम का स्तर भी बढ़ाने में मदद करती है। Image Courtesy- getty images

पानी से अध‍िक सुरक्षित है बीयर

पानी से अध‍िक सुरक्षित है बीयर

अगर आप किसी ऐसे स्थान पर हैं, जहां आपको पानी न पीने की सलाह दी जाती है, तो आप बीयर पी सकते हैं। यह ज्यादा सुरक्ष‍ित विकल्प है। बीयर को उबालकर बनाया जाता है। इसके बाद सीलबंद होने तक इसमें स्वच्छता का पूरा ध्यान रखा जाता है। यदि यह स्वच्छ न होती, तो शायद इसे बेच पाना भी असंभव होता। अगर बीयर बुरी भी हो, तो उसमें कोई जानलेवा बैक्टीरिया नहीं होता। तो, आप बेफिक्र होकर बीयर पी सकते हैं। यहां तक कि बुरी से बुरी बीयर भी पानी से ज्यादा सुरक्षित होती है। Image Courtesy- getty images

हार्ट अटैक से बचाये

हार्ट अटैक से बचाये

अगर आपको विटामिन से अध‍िक लाभ चाहिये तो आपको बीयर का सेवन करना चाहिये। रेड वाइन के अलावा डार्क बीयर में काफी अध‍िक मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट्स होते हैं। अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के मुताबिक, 'इस बात का कोई साक्ष्य नहीं है कि वाइन अन्य एल्कोहोलिक पेय पदार्थों के मुकाबले अध‍िक फायदेमंद है।' ब्रिटिश मेडिकल जर्नल की 1999 में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक रोजाना तीन ड्रिंक पीना दिल की बीमारियों के खतरे को 24.7 फीसदी तक कम कर सकती है। Image Courtesy- getty images

कैंसर से लड़े

कैंसर से लड़े

बीयर का सबसे कमाल का फायदा यह है कि यह कैंसर से लड़ने में मददगार होती है। बीयर बनाने में इस्तेमाल होने वाले पौधे होप्स में एक्सनथोहूमोल (xanthohumol) पाया जाता है, जो कैंसर से लड़ने में मदद करता है। यह एंटी-ऑक्सीडेंट केवल और केवल बीयर में ही मिलता है। यह तत्त्व इतना अच्छा होता है कि जर्मनी के लोगों के इसका स्तर बढ़ाकर एक खास बीयर तैयार की है। Image Courtesy- getty images

बीयर से पेट नहीं निकलता

बीयर से पेट नहीं निकलता

यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ लंदन और इंस्टीट्यूट क्लिनिक के 2003 में किये गए एक प्रयोग में यह बात सामने आयी कि पेट निकलने और बीयर के सेवन के बीच कोई समानता नहीं है।  आमतौर पर माना जाता है कि बीयर पीने वाले, बीयर न पीने वालों की अपेक्षा अध‍िक मोटे होते हैं। लेकिन, शोध में यह बात निकलकर आई कि बीयर और मोटापे के बीच अगर कोई संबंध है भी तो वह बहुत मामूली है। कई शोध तो यह दावा करते हैं कि संतुलित मात्रा में बीयर पीने वाले लोगों का पेट और वजन बीयर न पीने वालों की अपेक्षा कम होता है। Image Courtesy- getty images

कैलोरी की मात्रा होती है कम

कैलोरी की मात्रा होती है कम

बीयर में कैलोरी बहुत कम होती है। इसमें कार्बोहाइड्रेट बहुत कम होता है। वसा या कोलेस्ट्रॉल बिलकुल नहीं होती।  लगभग 12 औंस बीयर में 156 कैलोरी के साथ 14 एमजी सोडि़यम, 0 वसा, 12.6 ग्राम कार्बोहाइड्रेट और 1 प्रतिशत कैल्‍शिम पाया जाता है। Image Courtesy- getty images

किडनी में स्‍टोन नहीं होता

किडनी में स्‍टोन नहीं होता

अमेरिका में हुए शोध के अनुसार बीयर पीने से पथरी होने का खतरा कम हो जाता है। शोध में यह बात निकलकर आई कि 40 % बीयर पीने वाले लोगों में किडनी स्‍टोन होने का खतरा उन लोगों के मुकाबले काफी घट गया था जो बीयर नहीं पीते थे। हालांकि शोधकर्ता यह निर्धारित नहीं कर सके की बीयर में ऐसी कौन सी चीज शामिल थी जिसकी वजह से यह हो सका। Image Courtesy- getty images

हड्डी बने मजबूत

हड्डी बने मजबूत

अगर आप अपनी हड्ड‍ियां मजबूत बनाना चाहते हैं, तो आपको बीयर का सेवन करना चाहिये। बीयर में पाये जाने वाला सिलिकॉन, हड्ड‍ियों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। अलग-अलग बीयर में यह अलग-अलग मात्रा में पाई जाती है। लाइट बीयर में सिलिकॉन की मात्रा कम होती है। Image Courtesy- getty images

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK