• shareIcon

दिल की सेहत दुरुस्‍त रखने के लिए कभी न करें ये 10 चीजें

रोजमर्रा की जिंदगी में आप कुछ ऐसी छोटी-छोटी गलतियां करते हैं जिसके चलते दिल की बड़ी-बड़ी बीमारियां हो सकती है और अगर आप भी चाहते हैं कि आपका दिल सही तरीके से धड़कता रहे तो आपको आपको इन चीजों से दूर रहना चाहिए।

हृदय स्‍वास्‍थ्‍य By Pooja Sinha / Apr 24, 2015
दिल के लिए अच्‍छी नहीं ये चीजें

दिल के लिए अच्‍छी नहीं ये चीजें

दिल की धड़कन अगर सही रहे तो आपका स्‍वास्‍थ्‍य भी सही रहता है, यानी दिल स्‍वस्‍थ तो पूरा शरीर स्‍वस्‍थ, इसलिए आपको अपने दिल का विशेष ध्‍यान रखना चाहिए। लेकिन रोजमर्रा की जिंदगी में आप कुछ ऐसी छोटी-छोटी गलतियां करते हैं जिसके चलते दिल की बड़ी-बड़ी बीमारियां हो सकती है। और अगर आप भी चाहते हैं कि आपका दिल सही तरीके से धड़कता रहे तो आपको आपको इन चीजों से दूर रहना चाहिए। आइए ऐसी ही कुछ चीजों के बारे में जानते हैं जो आपके दिल को नुकसान पहुंचा रही है।  
Image Source : Getty

दिल का सबसे बड़ा दुश्‍मन है आलस

दिल का सबसे बड़ा दुश्‍मन है आलस

आलस करने से मोटापा बढ़ता है और मोटापे से हृदय रोग का खतरा दोगुना हो जाता है। क्योंकि वजन बढ़ने से आपका हृदय शरीर के बाकी हिस्सों में सही ढंग से ब्लड सप्लाई नहीं कर पाता है। जिससे दिल का दौरा होने की संभावना होती है। इसके अलावा मोटापे से हृदय के आसपास की धमनियों में चर्बी जमा हो जाती है। और शरीर में फैट की मात्रा अधिक होने पर सोडियम इकट्ठा हो जाता है, इससे रक्त का दबाव बढ़ जाता है। यह दिल के लिए काफी नुकसानदेह होता है। जिससे हृदय की बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है।
Image Source : Getty

धुंआ भी है खतरनाक

धुंआ भी है खतरनाक

वैज्ञानिकों द्वारा यह बात सिद्ध की जा चुकी है कि धूम्रपान करने वाले व्यक्तियों में दिल का दौरा या आकस्मिक हृदय रोग से मृत्यु होने की संभावना आम व्यक्तियों की तुलना में दोगुनी होती है। धूम्रपान छोड़ देने के 10 वर्षो के अंदर इन बीमारियों का खतरा कम हो जाता है। तो आप अभी से ही धूम्रपान से मुक्त होने के लिए कदम क्यों नहीं उठातीं।
Image Source : Getty

तनावग्रस्‍त रहना

तनावग्रस्‍त रहना

तनावग्रस्‍त रहना स्वस्थ जीवन का मार्ग नहीं है। कल्पना कीजिए जैसे कि आप अत्यधिक चीजों को एकसाथ नहीं संभाल पाते हैं वैसी ही स्थिति आपके हृदय के साथ भी हो सकती है। रोज का अत्यधिक तनाव ब्लड प्रेशर को बढ़ाता तो है ही साथ ही यह हृदय की पेशियों को भी प्रभावित करता है। इसलिए तनावमुक्त रहने का प्रयत्‍‌न करें, पर्याप्त नींद लें और साथ ही आराम के लिए भी समय रखें। यह आपके लिए लाभदायक होगा।
Image Source : Getty

भरपूर नींद न लेना

भरपूर नींद न लेना

आप रात को देर से सोने जाते हैं और सुबह जल्‍दी उठ जाते हैं। सारी रात भी आपकी करवटें बदलते हुए गुजरती हैं, तो यकीन जानिये आप अपनी सेहत के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। अच्‍छी नींद न लेने से आपके दिल पर बुरा असर पड़ता है। अच्‍छी नींद से रक्‍तचाप सही रहता है, और दिल की धड़कन भी नियंत्रित रहती है। जो लोग अच्‍छी नींद लेते हैं उन्‍हें दिल का दौरा पड़ने और हार्ट फैल्‍योर की आशंका कम होती है। अगर आप रात को छह से आठ घंटे की नींद नहीं ले पा रहे हैं, तो इस बारे में डॉक्‍टर से संपर्क करें।
Image Source : Getty

अधिक नमक का सेवन

अधिक नमक का सेवन

शरीर में सोडियम की मात्रा सही अनुपात में बनाये रखने के लिए भोजन में नमक की कुछ मात्रा होना जरूरी है, पर ज्यादा तेज नमक हाई ब्लड प्रेशर और हृदय रोग का कारण भी बन सकता है। अपने भोजन में ज्यादा नमक न लें और ज्यादा नमकीन नाश्तों का सेवन भी कम करें। पोटेशियम के लिए फल व सब्जियां अच्छे स्त्रोत हैं जो प्राकृतिक रूप से आपके शरीर में सोडियम की मात्रा बनाए रखने में सहायक होते हैं।
Image Source : Getty

फैट का सेवन

फैट का सेवन

यह हमेशा कहा जाता रहा है कि अपने भोजन में अधिक वसायुक्त पदार्थ न लें। पशुओं से प्राप्त पदार्थो जैसे मांस, मक्खन, चीज में वसा अधिक पाई जाती है, साथ ही पकाए गए बिस्कुट या केक में भी यह अधिक होता है। इनसे शरीर में कोलस्ट्रॉल की मात्रा तो बढ़ती ही है साथ ही हृदय भी अस्वस्थ होता है।
Image Source : Getty

अल्‍कोहल भी है दिल का दुश्‍मन

अल्‍कोहल भी है दिल का दुश्‍मन

अधिक अल्‍कोहल का सेवन उच्‍च रक्‍तचाप का कारण बन सकता है। यदि इस समस्‍या को समय रहते काबू न किया जाए, तो आगे चलकर यह हार्ट फैल्‍योर का कारण भी बन सकती है। कई शोध भी इस बात की पुष्टि करते हैं कि शराब का सेवन करने वाले लोगों में हृदय रोग का खतरा सामान्‍य लोगों की अपेक्षा अधिक होता है।
Image Source : Getty

उच्‍च मात्रा में कार्बोहाइड्रेट का सेवन

उच्‍च मात्रा में कार्बोहाइड्रेट का सेवन

कनाडा की ओहियो स्टेट यूनिवर्सिटी में हुए एक शोध के अनुसार, किसी भी व्‍यक्ति के आहार में संतृप्त वसा की मात्रा में वृद्धि से रक्त का स्तर नहीं बढ़ता। लेकिन आहार में उच्‍च मात्रा में कार्बोहाइड्रेट के सेवन से रक्‍त में फैटी एसिड का स्‍तर बढ़ने लगता है। और इसकी वृद्धि मधुमेह और हृदय रोग का कारण बन सकती है।
Image Source : Getty

खानपान की बुरी आदतें

खानपान की बुरी आदतें

एक शोध में यह बात सामने आयी कि खानपान की बुरी आदतों के कारण दिल बीमार होता है और अगर आपने बाद में स्‍वस्‍थ खाना शुरू भी कर दिया तो इसके कारण दिल की सेहत में सुधार होने की गुंजाइश कम होती है। अस्‍वस्‍थ खाने के कारण जींस प्रभावित होता है और यह हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली पर भी असर डालता है। और इन आदतों के कारण ही कार्डियोवस्‍कुलर बीमारियों के होने का खतरा भी बढ़ जाता है।
Image Source : Getty

फल और सब्जियों कम सेवन

फल और सब्जियों कम सेवन

फल, सब्‍जी और साबुत अनाज में फाइबर की पर्याप्‍त मात्रा होती है। फाइबर युक्‍त भोजन करने से हृदय संबंधी बीमारियों की आशंका कम होती है। हाल ही में हुए एक अध्‍ययन से भी साफ हो चुका है कि फल और हरी पत्‍तेदार सब्‍जियों के साथ ही विटामिन सी से भरपूर फल व सब्जियों का सेवन हृदय रोग से बचाने में कारगर होता है। इसके साथ ही खाने में ऑलिव ऑयल का प्रयोग भी हृदय रोगों से बचाता है।
Image Source : Getty

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK