• shareIcon

सोने से पहले इन 10 उच्च कैलोरी खाद्य पदार्थों का सेवन न करें

रात को सोने से पहले इन उच्‍च कैलोरी वाले आहार का सेवन करने से बचना चाहिए, इस स्‍लाइडशो में उन खाद्य-पदार्थों के बारे में जानिए।

एक्सरसाइज और फिटनेस By Nachiketa Sharma / Dec 31, 2013

सोने से पहले इनको न खायें

डिनर का खाना हल्‍का और कम कैलोरी वाला होना चाहिए, ऐसी सलाह चिकित्‍सक भी देते हैं। क्‍योंकि इसका सीधा असर हमारे पाचन तंत्र पर पड़ता है। यदि आपने सोने से पूर्व उच्च कैलोरी युक्त आहार लेंगे तो हार्टबर्न जैसी समस्या भी हो सकती है। यदि आप वास्तव में ऐसा खाना चाहते हैं तो सेाने से 2 या 3 घंटे पहले खायें।

पास्ता न खायें

पास्ते में सबसे अधिक उच्च कैलोरी होती है, इसका सेवन सोने से पहले बिलकुल नहीं करना चाहिए। हालांकि इसे बनाने में बहुत कम समय लगता है, इसलिए लोग इसे अधिक खाते हैं। परंतु ध्यान रखें कि पास्ता में कार्बोहाइड्रेट बहुत अधिक मात्रा में होता है जो वसा में बदल जाता है। इसके अलावा इसमें चीज और तेल बहुत अधिक मात्रा में होता है साथ ही इसका ग्लासिमिक सूचकांक बहुत उच्च होता है। अत: सोने से पहले इस उच्च वसा युक्त पदार्थ से दूर रहने की कोशिश कीजिए।

पिज्‍जा से बचें

पिज्‍जा जैसे फास्‍ट फूड को सभी पसंद करते हैं, बहुत लोग रात में डिनर के दौरान पिज्‍जा खाना पसंद करते हैं। हालांकि यह एक हल्का खाद्य पदार्थ नहीं है और इसे पचाने के लिए आपके पाचन तंत्र को बहुत अधिक मेहनत करनी पड़ती है। इसके अलावा पिज्‍जा में चिकनाई बहुत अधिक होती है तथा इसमें जो घटक होते हैं उनमें बहुत अधिक मात्रा में अम्लीयता होती है जिसके कारण हार्टबर्न का खतरा बढ़ जाता है।

कैंडी न खायें

रात में सोने से पहले कैंडी खाने से बचना चाहिए। क्‍योंकि कैंडी जैसे वसा युक्त तथा मीठे खाद्य-पदार्थ आपके मस्तिषक की तरंगों पर प्रभाव डालते हैं तथा इनके कारण आपको बुरे सपने भी आ सकते हैं। यदि आप रात की नींद शांत और आरामदायक चाहते हैं तो जंक फूड न खाएं तथा इसके स्थान पर ओटमील जैसे पदार्थ खाएं जो हल्के होते हैं और जिनमें कैलोरीज कम होती हैं।

रेड मीट न खायें

रेड मीट हर समय टालने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि यह प्रोटीन और आयरन का अच्‍छा स्रोत है। परंतु इसकी अधिक मात्रा आपको शांत और आरामदायक नींद लेने से रोकती है जिसकी आवश्यकता हमें दिन भर की कड़ी मेहनत के बाद होती है। इस तरह की गहरी नींद के लिए आपके शरीर को शांत रहना आवश्यक है, इसलिए रेड मीट को सोने से पहले खाने से बचना चाहिए।

डॉर्क चॉकलेट न खायें

रात में सोने से पहले डार्क चॉकलेट न खायें। क्‍योंकि इसमें बहुत अधिक मात्रा में कैफीन तथा अन्य उत्तेजक पदार्थ होते हैं जो आपके हृदय को आराम देने के बजाय कार्यशील रखते हैं तथा आपके मस्तिष्क को शांत रखने के बजाय केंद्रित रखते हैं। इसके कारण आपकी नींद में खलल पड़ सकता है।

कुछ सब्जियां

हालांकि सब्जियां स्वादिष्ट, पोषक तत्वों से भरपूर आहार है। परंतु कुछ सब्जियां ऐसी भी हैं जिनको रात में सोने से पहले खाने से बचना चाहिए। सब्जियां जैसे प्याज, ब्रोकोली या पत्तागोभी में अघुलनशील फाइबर की मात्रा बहुत अधिक होती है जिसके कारण आप बहुत अधिक समय तक पेट भरा हुआ महसूस करते हैं। इसे आप दिन में खा सकते हैं परंतु रात में सोने के दौरान आपके पाचन तंत्र में फाइबर की गति बहुत कम होती है जिसके कारण पेट फूलने जैसी समस्या हो सकती है।

एल्‍कोहल न पियें

रात को सोने से ठीक पहले किसी भी प्रकार का मद्यपान यानी अल्कोहल का सेवन न करें। इसके कारण नींद नहीं आती तथा इसकी वजह से रात को पसीना आ सकता है। एल्‍कोहल के कारण रात को बार-बार जागना भी पड़ सकता है। अल्कोहल (विशेष रूप से वाइन) न केवल नींद की गुणवत्ता को खराब करती है बल्कि इसके कारण रात की नींद का समय भी कम हो जाता है यानी इसके कारण आपकी नींद जल्‍दी खुल सकती है तथा इसमें कैलोरी भी बहुत अधिक मात्रा में होती है।

चीज बर्गर

अन्य वसा युक्त या उच्च कैलोरी युक्त खाद्य पदार्थों की तरह ही रात को सोने से पहले चीज बर्गर नहीं खाना चाहिए क्योंकि वे पेट में प्राकृतिक एसिड के उत्पादन को उत्तेजित करते हैं जिसके कारण रात के समय हार्टबर्न जैसी समस्या आ सकती है। इसलिए रात में सोने से पूर्व चीज बर्गर खाने से परहेज करें।

चिली सॉस

जब मिर्ची को अन्य विशेष घटकों के साथ मिलाया जाता तो यह निश्चित तौर पर एक एक बहुत स्वास्थ्यप्रद और लाभकारी होती है। लेकिन रात में सोने से पहले चिली सॉस आपकी नींद में खलल डाल सकता है। यह एक उच्च कैलोरी युक्त खाद्य पदार्थ होता है जो प्रोटीन से भरा होता है तथा इसमें धीरे धीरे जलने वाले कार्बोहाइड्रेट होते हैं।

स्नैक्स और चिप्स

रात में सोने से पहले स्‍नैक्‍स और चिप्‍स नहीं खाना चाहिए। प्रोसेस्ड स्नैक फूड केवल सोने से पहले ही नहीं बल्कि हमेशा टालने चाहिए क्योंकि इनमें बहुत अधिक मात्रा में मोनोसोडियम ग्लूटामेट होता है जिसके कारण नींद से संबंधित विभिन्न प्रकार की समस्याएं आ सकती हैं।

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK