• shareIcon

9 घंटे से ज्यादा की नींद है खतरनाक, हो सकती हैं ये 5 गंभीर बीमारियां

तन मन By Anurag Gupta , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Jun 25, 2018
9 घंटे से ज्यादा की नींद है खतरनाक, हो सकती हैं ये 5 गंभीर बीमारियां

जिस तरह 5 घंटे से कम की नींद आपको स्वास्थ्य संबंधी कई परेशानी दे सकती है, वैसे ही 9-10 घंटे से ज्यादा की नींद का भी आपकी सेहत पर बुरा असर पड़ता है। आइये आपको बताते हैं कि जरूरत से ज्यादा सोने से क्या हो सकते हैं नुकसान।

आपने अक्सर सुना होगा कि कम सोने से कई तरह की बीमारियां होती हैं मगर क्या आप जानते हैं कि ज्यादा सोना भी आपकी सेहत के लिए खतरनाक हो सकता है। हमारे शरीर और दिमाग में ताल-मेल और संतुलन बनाए रखने के लिए सोना जरूरी है। जिस तरह 5 घंटे से कम की नींद आपको स्वास्थ्य संबंधी कई परेशानी दे सकती है, वैसे ही 9-10 घंटे से ज्यादा की नींद का भी आपकी सेहत पर बुरा असर पड़ता है। आइये आपको बताते हैं कि जरूरत से ज्यादा सोने से क्या हो सकते हैं नुकसान।

हार्ट संबंधी बीमारियां

जो लोग 9 से 11 घंटे की नींद लेते हैं उन्हें हार्ट अटैक की संभावना ज्यादा होती है। दिल हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है इसलिए इसका स्वस्थ रहना बहुत जरूरी है। हालांकि अभी तक नींद का हृदय से क्या कनेक्शन है इस बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है, लेकिन इससे कर्डियोवस्‍कुलर बीमारियों का संबंध रहता है। इसलिए दिल को स्‍वस्‍थ रखने के लिए अधिक देर तक न सोयें।

इसे भी पढ़ें:- गर्मी में दिनभर रहते हैं एसी में तो इन 5 बीमारियों के लिए रहें तैयार

डायबिटीज का खतरा

ज्यादा नींद लेने वालों में मधुमेह की समस्या होने की संभावना ज्यादा होती है। अगर आप स्लीप ड्रंकनेस का शिकार हो जाते हैं तब आपका मन जागते हुए भी सोई हुई अवस्था में रहता है। इसी वजह से अधिक सोना आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है।

डिप्रेशन की स्थिति

ज्यादा नींद की वजह भी अवसाद होता है और अवसाद की वजह भी ज्यादा नींद होती है। इस बारे में एक बार डॉक्‍टर से सलाह जरूर करें। अवसाद के कई कारण होते हैं। कई बार अकेलेपन की वजह से लोग अवसाद से घिर जाते हैं और सिर्फ सोना ही पंसद करते हैं।

इसे भी पढ़ें:- इन 5 कारणों से सोने से पहले पैरों के नीचे प्याज रखना सेहत के लिए है फायदेमंद

कमजोर दिमाग

अधिक सोने का सीधा असर आपके मस्तिष्क पर होता है और इससे सोचने-समझने की शक्ति, सीखने की क्षमता व तर्क शक्ति प्रभावित होती है। कई शोधों में यह बात साबित हो चुकी है कि यदि आप हर रात छह घंटे से कम अवधि की नींद लेते हैं तो यह बहुत कम है। इसी तरह यदि आप हर रात आठ घंटे से ज्यादा समय तक सोते हैं तो इसका मतलब है कि आप बहुत ज्यादा नींद ले रहे हैं। ऐसा करने से बचें।

वजन तेजी से बढ़ता है

अधिक नींद के कारण आप ज्यादातर समय सुस्त महसूस रहते हैं तथा आपके शरीर की उर्जा वसा में तब्दील हो जाती है। शोध के अनुसार असक्रियता 21 फीसदी मोटापे को बढ़ाता है और आपका मोटापा अन्य बीमारियों को खुला न्यौता देता है। इसलिए 8 घंटे से अधिक ना सोएं।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Healthy Living in Hindi

 
Disclaimer:

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।