International Yoga Day: कमर दर्द से लेकर बेहतर नींद में मददगार है हलासन, जानें इस योगासन के आसान स्‍टेप्‍स

Updated at: Jun 10, 2020
International Yoga Day: कमर दर्द से लेकर बेहतर नींद में मददगार है हलासन, जानें इस योगासन के आसान स्‍टेप्‍स

Plow Pose: योग आपके समस्‍त स्‍वास्‍थ्‍य के लिए फायदेमंद होता है। आइए यहां हलासन के बारे में विस्‍तार से जानें। 

Sheetal Bisht
योगाWritten by: Sheetal BishtPublished at: Jun 10, 2020

शरीर को फिट और तंदरूस्‍त रखने के लिए व्‍यायाम और योग सबसे अच्‍छा तरीका है। यह आपको उम्र के बढ़ते पड़ाव में स्‍वस्‍थ और रोगमुक्‍त रहने में मदद करते हैं। आपके तन-मन दोनों के लिए योग बेहद फायदेमंद है। योग में विभिन्‍न योगाभ्‍यास शामिल हैं, जो आपकी अलग-अलग समस्‍याओं से लड़ने में मदद कर सकते हें। कहा जा सकता है कि योग विभिन्न अभ्यासों का एक सेट है, जो शरीर के किसी विशेष भाग में अलग-अलग लक्ष्य के साथ किया जाता है। योग में कई अभ्‍यास ऐसे हैं, जो दवा से बढ़कर काम करते हैं और शरीर को कई स्‍वास्‍थ्‍य लाभ प्रदान करते हैं। ऐसे ही योगासनों में से एक है हलासन, जिसे Plow Pose भी कहा जाता है। हलासन का नाम खेती में उपयोग किए जाने वाले एक उपकरण हल से ही मिला है। इस आसन को सुबह खाली पेट करना सबसे बेहतर माना जाता है। अगर आप किसी कारण ऐसा न कर सकें, तो आप शाम को भी इस आसन को कर सकते हैं। आइए सबसे पहले यहां हम आपको बताते हैं कि हलासन क्‍या है और यह कैसे किया जाता है। 

हलासन क्‍या है? (What Is Halasana)

Halasna Yaga

हलासन, योग के विभिन्‍न अभ्‍यासों में से एक है, जो आपके शरी को कई फायदे देता है। इस आसन को रोजाना करने से पाचन में सुधार के साथ-साथ शरीर के लचीलेपन को बढ़ाने के मदद मिलती है। यह योग मुद्रा एक नहीं, बल्कि असंख्य फायदों से भरपूर है। जैसा कि हमने आपको ऊपर भी बताया है कि इस योग का नाम 'हल' से लिया गया है क्योंकि यह खेत में जुताई के समान दिखता है। यह आसन शरीर की सभी मांसपेशियों को सक्रिय करने में भी मददगार है। हालांकि, आपको शुरुआत में हलासन को करने में कठिनाई और दर्द महसूस हो सकता है। लेकिन धीरे-धीरे अभ्‍यास करते हुए आपको ये आसन आसान लगने लगेगा। योग बड़ों के लिए ही नहीं बच्‍चों के लिए भी फायदेमंद है। आइए यहां हम आपको इस आसन को करने के कई फायदों के बारे में बताते हैं लेकिन सबसे पहले, हलासन को करने के स्‍टेप्‍स जान लें। 

हलासन करने का तरीका (How To Do Halasana)

  • सबसे पहले आपको किसी भी आसन को करने के लिए योगा मैट होना जरूरी है। योगा मैट न हो, तो आप किसी चटाई को अपनी योगा मैट बना सकते हैं।  
  • आसन को करने के लिए आप जमीन के सामने अपने हाथों और हथेलियों के साथ 180 डिग्री पर अपने शरीर के साथ चटाई पर लेटें। 
  • गहरी सांस लें और अपने दोनों पैरों को 90 डिग्री पर पर ले जाएं। यानि आपको अपने पैरों को ऊपर की ओर उठाते हुए सिर के पीछे की ओर ले जाना है। जैसा यहां तस्‍वीर में दिखाया गया है। 
  • याद रखें आपकी पीठ और कूल्‍हे सीधे एक रेखा में होने चाहिए। हालांकि शुरूआत में ऐसा करना मुश्किल हो सकता है। 
  • 10 सेकंड के लिए इस स्थिति में रहें, धीरे-धीरे सांस अंदर लें और छोंड़ें, फिर धीरे-धीरे वापस सामान्‍य स्थिति में आ जाएं। 

हलासन को करने के लिए टिप्‍स (Tips For Doing Halasana)

  • हलासन को करते समय आप अपने हाथों से अपनी पीठ को सहारा दें, जिससे कि आपको स़तुलन बनाने में मदद मिलगी। 
  • अपने पैर की उंगलियों से जमीन को छूने की कोशिश करें।
  • एक बार आपके पैर की उंगलियां जमीन को छूनें लगें, तो आप अपने हाथों को उनकी प्रारंभिक स्थिति में लाएं।
  • जितनी देर आप बिना तकलीफ के इस मुद्रा में रह सकते हैं, तब तक इस स्थिति में रहें।
  • अब, सांस लेते हुए धीरे-धीरे प्रारंभिक स्थिति में लौट आएं।
  • यह हलासन का एक पूरा चक्र है। आप ऐसा ऐसा दिन में कम से कम 4 से 5 बार करें।

हलासन के फायदे (Health Benefits of Halasana)

बेहतर नींद के लिए 

Halasna For Better Sleep

हलासन आपके स्‍लीप साइकिल को नियंत्रित करता है। खराब नींद आपके कामों के साथ आपकी सेहत को भी प्रभावित करती है। पूरे दिन सक्रिय और ऊर्जावान बने रहने के लिए, आपको 7-8 घंटे की शांतिपूर्ण नींद की आवश्यकता होती है। इन दिनों ज्यादातर लोग तनाव, अनिद्रा या अन्य समस्याओं के कारण पर्याप्त नींद नहीं ले पा रहे हैं। यह योग मुद्रा आपके नींद चक्र को विनियमित करती है और अनिद्रा में भी सहायता करती है।

कमर व पीठ दर्द में आराम 

हलासन को आपकी पीठ व कमर के दर्द में आराम दिलाने के लिए भी फायदेमंद माना जाता है। यह आसन करने से आपकी रीढ़ की हड्डी में लचीलीपन बढ़ता है और कमर व पीठ दर्द से राहत मिलती है। इतना ही नहीं , इस आसन को करने से आपकी पीठ और कंधें की मांसपेशियों को अच्‍छा खिंचाव मिलता है और मसल्‍स स्‍ट्रेस कम होता है। 

ब्‍लड शुगर को करे कंट्रोल 

हलासन शरीर में इंसुलिन की गतिविधि को बढ़ाने के लिए सिद्ध माना जाता है, जो ब्‍लड शुगर को बनाए रखने में मदद करता है।  यह आसन डायबिटीज के मरीज को सीधे प्रभावित करता है और उन्हें स्वस्थ जीवन जीने में मदद करता है। इसके साथ ही, इस योग को नियमित रूप से करने से स्वस्थ लोगों में टाइप -2 डायबिटीज का खतरा भी कम हो सकता है। यह शरीर में ग्लूकोज के स्तर को नियंत्रण में रखकर, इस अभ्यास से डायबिटीज प्रबंधन और इससे दूर रखने में मदद मिल सकती है।

इसे भी पढ़ें: अगर आप भी कर रही हैं बेबी प्‍लानिंग तो जरूर करें ये 5 योगासन, गर्भधारण में मिलगी मदद

Plow Pose For Control Your Blood Sugar

पाचन में सुधार करता है

अगला महत्वपूर्ण स्वास्थ्य पहलू पाचन है। एक स्वस्थ पेट बेहतर स्वास्थ्य की कुंजी है। यह आसन पाचन तंत्र के मुद्दों का इलाज करता है और पाचन को बढ़ावा देता है। इसलिए, जो लोग पेट की समस्याओं से परेशान हैं, वे इस आसन को अपने व्यायाम शासन में शामिल करें।

Read More Article On Yoga In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK