Health Benefits of Guava: सर्दियों में अमृत के समान है अमरूद का सेवन, जानें इसके फायदे, नुकसान और प्रयोग

Updated at: Nov 27, 2019
Health Benefits of Guava: सर्दियों में अमृत के समान है अमरूद का सेवन, जानें इसके फायदे, नुकसान और प्रयोग

अमरूद के अंदर विटामिन, मिनरल और फाइबर प्रचुर मात्रा में पाये जाते हैं। अमरूद को सर्दियों में फलों को राजा भी कहा जाता है।

Atul Modi
स्वस्थ आहारWritten by: Atul ModiPublished at: Sep 01, 2011

Health Benefits of Guava in Hindi: अमरूद (Guava) एक प्रकार का फल है। अमरूद का उत्‍पादन भारती मात्रा में भारत, चीन के अलावा ब्राजील, कोलंबिया, वेनेजुएला और मैक्सिको आदि देशों में होता है। यह फल आमतौर पर ताजा खाया जाता है। इसका जूस, जाम और अन्य खाद्य पदार्थों में इस्‍तेमाल किया जाता है। इसके अलावा अमरूद का फल, पत्ती और फलों के रस का उपयोग औषधि के रूप में किया जाता है।

अमरूद को उच्च रक्तचाप, दस्त, मधुमेह, खांसी, और कैंसर सहित कई स्थितियों में लोग अमरूद का सेवन करते हैं। अमरूद कब्ज और पेट के रोगों के लिए बहुत फायदेमंद है। यह सर्दियों का फल है। इस मौसम में खाना काफी फायदेमंद होता है। अमरूद यानी अमृत-सा मीठा फल। ऐसा फल जो डायबिटीज जैसी गंभीर बीमारियों में ब्‍लड शुगर को नियंत्रित रखने में मददगार है।

इन सभी गुणों के अतिरिक्‍त भी अमरूद में कई ऐसे गुण हैं, जिनके बार हर कोई नहीं जानता है। यहां हम आपको विस्‍तार से बता रहे हैं।

guava-in-hindi

यह कैसे काम करता है?

अमरुद विटामिन सी, फाइबर और अन्य पदार्थों का एक स्रोत है जो एंटीऑक्सिडेंट की तरह काम करते हैं। एंटीऑक्सिडेंट ऑक्सीकरण के हानिकारक प्रभावों को धीमा या बंद कर देते हैं। ऑक्सीकरण एक रासायनिक प्रतिक्रिया है जिसमें ऑक्सीजन को रासायनिक तत्व या यौगिक में जोड़ा जाता है। अमरुद के छिलके में एंटीऑक्सीडेंट और अन्य प्रभावों के साथ रसायन भी होते हैं। हालांकि, यह ज्ञात नहीं है कि अमरूद चिकित्सा स्थितियों के लिए कैसे काम करता है।

अमरूद के फायदे- Benefits Of Guava 

  • उच्च रक्त चाप: प्रारंभिक शोध से पता चलता है कि 12 सप्ताह तक उच्च वसा वाले खाद्य पदार्थों के स्थान पर रोजाना बड़ी मात्रा में अमरूद खाने से उच्च रक्तचाप वाले लोगों में रक्तचाप कम होता है।
  • पेट का दर्द
  • दस्त
  • मधुमेह
  • खांसी
  • मोतियाबिंद
  • उच्च कोलेस्ट्रॉल
  • दिल की बीमारी
  • कैंसर
  • दर्द
  • वजन प्रबंधन

अमरूद के नुकसान- Side Effects of Guava

गर्भावस्था और स्तनपान: अमरूद खाने के रूप में सुरक्षित है, लेकिन यह जानने के लिए पर्याप्त जानकारी नहीं है कि यह बड़ी मात्रा में सुरक्षित है या नहीं, खासकर जो लोग इसे दवा के रूप में उपयोग करते हैं। यदि आप गर्भवती हैं या स्तनपान कर रही हैं, तो अधिक मात्रा में इसके सेवन से बचना चाहिए। 

इसे भी पढ़ें: बालों का झड़ना रोक देती हैं अमरूद की पत्तियां, ऐसे करें प्रयोग

कितनी मात्रा में करें अमरूद का सेवन 

अमरूद की उपयुक्त खुराक कई कारकों पर निर्भर करती है जैसे कि उपयोगकर्ता की आयु, स्वास्थ्य और कई अन्य स्थितियां। इस समय अमरूद के लिए उचित मात्रा में खुराक निर्धारित करने के लिए पर्याप्त वैज्ञानिक जानकारी नहीं है। ध्यान रखें कि प्राकृतिक उत्पाद हमेशा सुरक्षित नहीं होते हैं और खुराक महत्वपूर्ण हो सकते हैं। सामान्‍य स्थितियों में आप अमरूद का सेवन कर सकते हैं। यदि आप किसी रोग के इलाज के तौर पर ले रहे हैं तो डॉक्‍टर की सलाह जरूर लें।

इसे भी पढ़ें: नींद की कमी को तुरंत दूर करता है अमरूद का ऐसा प्रयोग, तुरंत होगा फायदा

अमरूद खाने के अन्‍य फायदे

  • अमरूद में मौजूद पौष्टिक तत्व शरीर को फिट और स्वस्थ रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है।
  • अमरूद में मौजूद फाइबर हमारे मेटाबॉलिज्म को ठीक रखता है इसलिए कब्ज पीडि़त लोगों को अमरूद खाना चाहिए।
  • स्वस्थ आंखों के लिए अमरूद में मौजूद विटामिन ए लाभकारी है।
  • सिर्फ अमरूद ही नहीं बल्कि अमरूद की पत्तियों को चबाने से सांसों में ताजगी और मसूड़ों में मजबूती आती है।
  • अमरूद में मौजूद तत्वों के कारण वजन ठीक रहता है। इतना ही नहीं अमरूद में पाए जाने वाले विटामिन ए, बी, सी और पोटैशियम त्वचा में निखार लाते है। साथ ही त्वचा को दाग-धब्बों और मुंहासों से भी बचाते  है।
  • जिन लोगों में विटामिन सी की कमी होती है उन्हें अमरूद खाना चाहिए। इतना ही नहीं जिन लोगों का ब्लड प्रेशर और कॉलेस्ट्रोकल अधिक होता है, उसे अमरूद के सेवन से नियं‍त्रि‍त किया जा सकता है।
  • अमरूद खाकर मोटापा कम किया जा सकता है साथ ही एसीडिटी, अस्थमा, दांत और मसूढ़ों के दर्द, हृदय से संबंधित बीमारी, इत्यादि को नियंत्रित किया जा सकता है।

Read More Articles On Healthy Diet In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK