वायु प्रदूषण के दुष्प्रभावों से आपके फेफड़ों और शरीर को बचाएंगी ये सब्जियां और हर्ब्स, रोज करें सेवन

Updated at: Nov 30, 2020
वायु प्रदूषण के दुष्प्रभावों से आपके फेफड़ों और शरीर को बचाएंगी ये सब्जियां और हर्ब्स, रोज करें सेवन

बढ़ते प्रदूषण के कारण फेफड़ों और शरीर पर बुरा असर होता है। जानें ऐसी 5 सब्जियां जो आपके शरीर को प्रदूषण के दुष्प्रभावों से बचाएंगी।

Monika Agarwal
स्वस्थ आहारWritten by: Monika AgarwalPublished at: Nov 30, 2020

वायु प्रदूषण दिन ब दिन बढ़ता ही जा रहा है और यह वातावरण के साथ साथ हमारे लिए भी एक खतरा है। भारत में बहुत से बड़े महानगर दुनिया के सबसे अधिक प्रदूषित शहरों की लिस्ट में आते हैं। हमारे वातावरण में जब इतना प्रदूषण है तो हम स्वयं को सुरक्षित कैसे मान सकते हैं? क्या इससे बचने के लिए हम कुछ कर सकते हैं? इस सवाल का उत्तर है हां। यदि हम अपनी डाइट को हेल्दी रखेंगे और घर से बाहर निकलते समय मुंह पर मास्क लगाएंगे, तो हम इस प्रदूषण का प्रभाव शरीर और फेफड़ों पर कम कर सकते हैं। कुछ ऐसी सब्जियां और हर्ब्स हैं, जो आपके फेफड़ों में जमा गंदगी को साफ करने में मदद करती हैं। बढ़ते प्रदूषण के समय में अपने खाने में आपको इन सब्जियों को रोज शामिल करना चाहिए।

pollution diet

चौलाई

चौलाई का साग विटामिन सी व बीटा कैरोटीन से भरपूर माना जाता है। विटामिन सी हमारे शरीर के लिए बहुत आवश्यक तत्त्व  है। हमारे फेफड़े स्मॉग से प्रभावित पाचन तंत्र और फेफड़े से संबंधित स्वास्थ्य स्थितियों का मुकाबला करने के लिए सबसे शक्तिशाली विटामिन स्रोत- विटामिन सी है। इसलिए अपने खाने में चौलाई, पालक, एवाकाडो, टमाटर और हरी पत्तेदार सब्जियां शामिल करें।

इसे भी पढ़ें: प्रदूषण से फेफड़ों को बचाने के लिए आहार में शामिल करें ये 3 विटामिन

धनिया की पत्तियां

हमारी लगभग सभी सब्जियों में धनिया की पत्तियों का प्रयोग होता है और इसकी वजह है, धनिया भी मौजूद विटामिन सी। हमारे फेफड़ों को हेल्दी रखने के लिए हमारे लिए सबसे मुख्य व आवश्यक तत्त्व विटामिन सी है। आप इन दिनों सब्जियों में धनिया डालने के साथ-साथ धनिया की चटनी भी बना कर खा सकते हैं।

foods to prevent pollution toxins

तुलसी

तुलसी प्रकृति द्वारा मानव को दिया गया एक बहुत ही शक्तिशाली तोहफा है। तुलसी को भारत में प्राकृतिक रूप से खांसी व जुखाम को ठीक करने के लिए पुराने समय से प्रयोग किया जाता आ रहा है। तुलसी हमारे रेस्पिरेटरी सिस्टम के लिए भी बहुत लाभदायक जड़ी बूटी मानी जाती है। अतः हमें इसका सेवन अवश्य करना चाहिए। इसकी पत्तियों को हम चाय में भी डाल सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: प्रदूषण के हानिकारक प्रभाव से आपके फेफड़ों को बचाएंगी ये आसान ब्रीदिंग एक्सरसाइज, जानें करने का तरीका

मेथी

मेथी का साग सर्दियों में खाया जाने वाला एक बेहतरीन खाद्य है, जिसकी सब्जी भी बना सकते हैं और चटनी, रायता, पराठा आदि भी बना सकते हैं। मेथी में बीटा कैरोटीन और कई एंटीऑक्सिडेंट्स होते है। ये एंटी ऑक्सिडेंट हमारे शरीर में इन्फ्लेमेशन को कम करते हैं और हमारे शरीर को बीमारियों से बचाता है।  मेथी का प्रयोग खाने में किसी भी प्रकार किया जा सकता है।

broccoli for vitamin c

ब्रोकली

ब्रोकली एक हरी सब्जी होती है जो हमारे शरीर के लिए बहुत सेहतमंद है। परंतु क्या आप जानते हैं कि ब्रोकली आप को प्रदूषण से भी बचा सकती है? लगभग 50 ग्राम ब्रोकली में 44.5 ग्राम विटामिन सी होता है। इतना विटामिन सी तो खट्टे फलों मे भी नहीं पाया जाता है। अतः ब्रोकली विटामिन सी का एक सबसे बढ़िया  स्त्रोत है। विटामिन सी हमारे शरीर को विटामिन ई जेनरेट करने में भी मदद करता है जो कि हमें किसी भी लगने वाली चोट से हमारे टिश्यू आदि को डेमेज होने से बचाता है। अतः इसे भी अपनी डाइट में जरूर शामिल करें।

इसके अलावा, हल्दी, पालक , अजमोद यानी पार्सले जैसे प्रतिरक्षा-बढ़ाने वाले पदार्थों का सेवन आपके शरीर को बीमारियों से बचाने में हमेशा महत्वपूर्ण भूमिका तय करता है। विशेषज्ञ भी घर के अंदर रहने की सलाह देते हैं और आवश्यकता पड़ने पर ही घर से  बाहर जाने की सलाह देते हैं।

Read More Articles on Healthy Diet in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK