• shareIcon

जिम जाने वाले जरूर खाएं बीन्‍स की सब्‍जी, मसल्‍स और हड्डियां होती हैं मजबूत

स्वस्थ आहार By Atul Modi , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Feb 27, 2019
जिम जाने वाले जरूर खाएं बीन्‍स की सब्‍जी, मसल्‍स और हड्डियां होती हैं मजबूत

हरी बीन्स को स्ट्रिंग बीन्स के रूप में भी जाना जाता है और यह आसानी से मार्केट उपलब्ध होता है। इसकी पोषक सामग्री में फाइबर, विटामिन, खनिज और बहुत कम कार्बोहाइड्रेट शामिल हैं। 

हरी बीन्स को स्ट्रिंग बीन्स के रूप में भी जाना जाता है और यह आसानी से मार्केट उपलब्ध होता है। इसकी पोषक सामग्री में फाइबर, विटामिन, खनिज और बहुत कम कार्बोहाइड्रेट शामिल हैं। इनमें प्रोटीन, कैल्शियम, आहार फाइबर, आयरन और कई अन्य आवश्यक पोषक तत्व भी होते हैं। हरी बीन्स में एंटीऑक्सिडेंट की प्रभावशाली मात्रा होती है और यहां तक कि हृदय संबंधी लाभ भी प्रदान करते हैं। हरी बीन्स ओमेगा -3 वसा का भी एक समृद्ध स्रोत हैं। हरी बीन्स के कैरोटीनॉयड और फ्लेवोनोइड सामग्री एंटी इंफ्लामेशन का लाभ प्रदान करते हैं।

हरी बीन्स खाने के ये हैं बेहतरीन फायदे 

मसल्‍स को बनाए मजबूत 

इसमें मौजूद प्रोटीन, काबोहाइड्रेट और आयरन जैसे पोषक तत्‍व मसल्‍स को तेजी से बढ़ाते हैं और उन्‍हें मजबूत बनाते हैं। जो लोग जिम करते हैं उनके लिए हरी बीन्‍स बहुत फायदेमंद हो सकता है। आप इसकी सब्‍जी बनाकर खा सकते हैं। 

हड्डियों की मजबूती के लिए 

बीन्स में कैल्शियम पाया जाता है, जो हड्डियों के क्षरण को रोकता है। इसके अलावा इसमें मौजूद विटामिन ए, के और सिलिकॉन भी हड्डियों के लिए फायदेमंद होते हैं। इन पोषक तत्वों की कमी होने पर हड्डिायां कमजोर हो जाती हैं। 

डायबिटीज रोकने में 

हरी बीन्स में कई ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो डायबिटीज को बढ़ने से रोकते हैं। इसमें पर्याप्त मात्रा में डायट्री फाइबर्स और कार्बोहाइड्रेट्स पाए जाते हैं। मधुमेह के मरीजों के लिए इसे आदर्श सब्जी माना जाता है। 

इसे भी पढ़ें: ह्रदय रोगों के लिए बेस्‍ट फ्रूट है एवोकाडो, मोटापा भी करता है दूर

इम्यून सिस्टम के लिए

हरी बीन्स में पर्याप्त मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जिससे इम्यून सिस्टम बेहतर बनता है। ये कोशिकाओं की क्षति को ठीक करके नई कोशिकाओं के बनने को प्रोत्साहित करता है। 

कैंसर से बचाव के लिए

हर रोज हरी बीन्स के सेवन से एक खास किस्म के कोलोन कैंसर के होने का खतरा कम हो जाता है। 

इसे भी पढ़ें: 70% डाइट और 30% वर्कआउट का कॉम्बिनेशन है फिट बॉडी का फॉर्मूला, जानें क्यों?

पेट का रखे ख्‍याल 

बीन्स के नियमित सेवन से पेट भी स्वस्थ रहता है। इनके सेवन से पाचन संबंधी समस्याएं होने का खतरा कम हो जाता है और गैस, कब्ज और मरोड़ की परेशानी नहीं होती है! 

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Diet & Nutrition In Hindi

 
Disclaimer:

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।