पेट को स्‍वस्‍थ और दिल को बीमारियों को दूर रखने में मददगार हैं आंत के गुड बैक्‍टीरिया, शोध में हुआ खुलासा

Updated at: Jul 14, 2020
पेट को स्‍वस्‍थ और दिल को बीमारियों को दूर रखने में मददगार हैं आंत के गुड बैक्‍टीरिया, शोध में हुआ खुलासा

अच्छे आंत बैक्टीरिया एक हानिकारक रसायन के उत्पादन को रोककर हृदय स्‍वास्‍थ्‍य को बेहतर बनाने और दिल की बीमारियों के खतरे को कम करने में मदद करते हैं। 

Sheetal Bisht
लेटेस्टWritten by: Sheetal BishtPublished at: Jul 14, 2020

हम सभी जानते हैं कि अच्छे बैक्टीरिया हमारे आंत स्‍वास्‍थ्‍य को बेहतर बनाए रखने में मदद करते हैं, लेकिन इसके अलावा और भी बहुत कुछ है। वैज्ञानिकों ने हाल ही में अच्छे आंत बैक्टीरिया का हृदय स्वास्थ्य के लिए लाभ की खोज की है। जी हां, आंत के बैक्टीरिया दिल की सेहत से जुड़े होते हैं। ये आंत के स्वास्थ्य को सुरक्षित रखने के अलावा आपके दिल को स्‍वस्‍थ रखने में मददगार हैं। अच्‍छे आंत बैक्‍टीरिया हृदय रोगों के जोखिम को कम कर सकते हैं। ये माइक्रोबायोम दिल को नुकसान पहुंचाने वाले कारकों से बचाने में मदद करते हैं। बेहतर रूप से समझने के लिए आप इससे जुड़ी इस रिसर्च को आगे पढ़ें। 

आंत बैक्टीरिया और हृदय स्वास्थ्य के बीच संबंध 

Good Gut Bacteria

ऐसा देखा गया है कि अच्छे आंत बैक्टीरिया एक विशेष रसायन के उत्पादन को कम करने के लिए पाये जाते हैं, जो धमनियों को बंद कर देता है और हृदय स्वास्थ्य के लिए खतरा पैदा करता है। यह रसायन आंत में उत्पन्न होता है और रक्त प्रवाह के माध्यम से यकृत तक जाता है, जहां यह अपना खतरनाक रूप लेता है। इसका मतलब है, आंत के बैक्टीरिया न केवल आंत के स्वास्थ्य में सुधार करते हैं, बल्कि इस रसायन के उत्पादन को रोककर आपके जिगर और हृदय स्वास्थ्य को भी सुरक्षित रखते हैं।

इसे भी पढ़ें: रात को देर से सोना या देर तक जागना बन सकता है टीनएजर्स में अस्‍थमा और एलर्जी का कारण : शोध

क्‍या कहती है ये नई रिसर्च?

ओहियो स्टेट यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं की टीम ने पाया है कि आंत बैक्टीरिया का व्यवहार मानव स्वास्थ्य को बढ़ावा देने वाले प्रोटीन के समान है। Ub यूबैक्टेरियम लिमोसम’नामक एक सूक्ष्म कण एक अच्छा आंत बैक्टीरिया है, जिसके बारे में माना जाता है कि यह चिकित्सीय लाभ रखता है। ऐसा इसलिए, क्योंकि यह आंत में सूजन को कम करता है।

Good Gut Bacteria And Heart Health

इस अध्ययन के वरिष्ठ लेखक और ओहियो स्टेट यूनिवर्सिटी में माइक्रोबायोलॉजी के प्रोफेसर जोसेफ क्रेजी ने कहा: "पिछले एक दशक में, यह स्पष्ट हो गया है कि मानव आंत में बैक्टीरिया हमारे स्वास्थ्य को कई तरह से प्रभावित करते हैं। जिस जीव का हमने अध्ययन किया, वह एक समस्याग्रस्त यौगिक को बदतर होने से रोककर स्वास्थ्य को प्रभावित करता है। यह कहना बहुत जल्द होगा कि क्या इस जीवाणु का चिकित्सीय मूल्य हो सकता है, लेकिन यही हम कर रहे हैं। "

यह शोध जर्नल ऑफ बायोलॉजिकल केमिस्ट्री के अगले संस्करण में प्रकाशित होगा। इस अध्ययन के अनुसार, 'ट्राइमेथिलैमाइन या टीएमए' नाम का रसायन एथेरोस्क्लेरोसिस की विशेषता है और यह धमनियों से जुड़ा होता है। यह तब उत्पन्न होता है, जब खराब बैक्टीरिया एल-कार्निटाइन के लिए कुछ पोषक तत्वों के साथ इंटरैक्‍ट करता है, जो मांस और मांसपेशियों की रिकवरी से जुड़े खाद्य पदार्थों में पाया जाता है।

इसे भी पढ़ें: रात के समय न लें ये खास प्रोटीन, बढ़ा सकता है डायबिटीज और हार्ट अटैक का खतरा

अच्छे आंत बैक्टीरिया में प्रोटीन MtcB के समान कार्य होता है, जो ऊर्जा पैदा करने और जीवित रहने के लिए एक मिथाइल समूह को खत्म करने के लिए डीमेथिलीकरण प्रक्रिया का संचालन करता है।

जोसेफ क्रेजी ने कहा, "जीवाणु अपने लाभ के लिए ऐसा करता है, लेकिन टीएमए की विषाक्तता को कम करने का नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।"  अब तक, एल-कार्निटाइन के साथ एकमात्र ज्ञात आंत माइक्रोबियल प्रतिक्रियाएं शामिल थीं, जो इसे अपने खराब रूप में परिवर्तित कर रही हैं। उन्‍होंने कहा, हमने पाया है कि लाभकारी होने वाला एक जीवाणु मिथाइल समूह को हटा सकता है और परिणामी उत्पाद को प्रक्रिया में कोई अन्य हानिकारक यौगिक बनाए बिना किसी अन्य मार्ग को नीचे भेज सकता है।

यह शोध आंत बैक्टीरिया और प्रोटीन की मदद से हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा देने के नए तरीके खोजने में मदद कर सकता है।

Read More Article On Health News In Hindi 

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK