• shareIcon

आहार जो अनिद्रा की समस्या के लिए हैं जिम्मेदार

तनाव और अवसाद By Anubha Tripathi , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Jun 11, 2014
आहार जो अनिद्रा की समस्या के लिए हैं जिम्मेदार

नींद ना आने की समस्या सुनने में जितनी सामान्य लगती है उतनी है नहीं। पहले रात को नींद ना आने के कारणों को जानें और फिर देखें कि कहीं आप भी तो सोने के पहले ये नहीं करते।

नींद ना आना सुनने में काफी सामन्य सा लगता है लेकिन इसे सामान्य समझने की गलतकी ना करें यह इंसोमेनिया या स्लीपिंग डिसॉर्डर भी हो सकता है। आजकल की दौड़ती-भागती लाइफस्टाइल के बीच कई ऐसे कारण होते हैं जिनकी वजह से रातों की नींद गायब हो जाती है।

हर किसी के शरीर के लिए नींद की जरूरत अलग होती है। स्कूल जाने वाले छोटे बच्चों को 8 से 10 घंटे, किशोरावस्था में 8-9 घंटे की नींद जरूरी है, जबकि युवाओं और बुजुर्गों के लिए 7-8 घंटे की नींद पर्याप्त रहती है। एक स्वस्थ व्यक्ति को 10 से 15 मिनट में अच्छी नींद आ जाती है, इसके लिए उसे प्रयास नहीं करना पड़ता।

sleep disorder

क्या है इन्सोमनिया

इन्सोमनिया के कई मामले सामने आते हैं। यह कई तरीके का हो सकता है। जैसे बिस्तर पर जाने के काफी देर बाद नींद आना, दिन में नींद के झटके आते रहना, रात में ज्यादा सपने आना, बार-बार नींद का टूटना, मुंह सूखना, पानी पीने या पेशाब के लिए बार-बार उठना, खर्राटे लेना, रातों में टांगों का छटपटाना, नींद में चलना आदि।

अक्‍सर नींद को लोग थकावट या फिर दिमागी तनाव से जोड़ कर सोचते हैं और अच्छी नींद लेने के लिए खुद ही कोई नींद की गोली खा लेते हैं। इस तरह बिना कारण जाने नींद की गोलियां लेने से बीमारी और बढ़ सकती है। हो सकता है कि नींद न आने के सिर्फ ये कारण न हों, कोई अन्य हो। कई बार कार्य करने के घंटों में फेरबदल होने से भी नींद नहीं आती। सोते समय सांस लेने में तकलीफ भी हो सकती है या अन्य कोई समस्या जिस कारण पूरी रात नींद नहीं आती है।

कई बार सोने से पहले लिए जाने वाले आहार भी नींद ना आने का कारण हो सकते हैं। आइए जानें उन आहार के बारे में जो नींद में खलल डाल सकते हैं।


आइसक्रीम

सोने से पहले आइसक्रीम न खाएं। आइसक्रीम में फैट और शुगर की मात्रा ज्‍यादा होती है जो शरीर में जाकर एकदम से हिट करती है और ऊर्जा का संचार होने लगता है, इस वजह से नींद का गायब होना स्‍वाभाविक है।


शराब

रात में शराब पीने की आदत बहुत लोगों की होती है, उन्‍हे ऐसा लगता है इससे उन्‍हे अच्‍छी नींद आती है, लेकिन यह गलत है। शराब पीने से उनकी नींद आने की नैचुरल प्रक्रिया पर नकारात्‍मक असर पड़ता है। शराब पीकर सोने पर आपको वह सुबह उठकर सामान्‍य दिनों जैसी स्‍फूर्ति और ताजगी नहीं मिलती है। वहीं कई बार शराब के नशे में होश नहीं रहता है जिसे लोग बढि़या नींद समझ बैठते हैं।

insomnia in hindi

डार्क चॉकलेट

डार्क चॉकलेट में कैफीन की मात्रा बहुत ज्‍यादा होती है, जो आपके शरीर को एकदम से बूस्‍ट अप कर देती हैं। वहीं कई बार डार्क चॉकलेट में थियोब्रोमाइन भी मिला होता है जो दिल को तेजी से धड़काने का काम और शरीर को ऊर्जा भी प्रदान करता है, ऐसे में सोना थोड़ा मुश्किल होता है।


भारी भोजन न लें

सोने से पहले अगर आप वेज फूड भी खाते हैं तो हल्‍का और आसानी से पचने वाला खाना खाएं। जैसे - गेंहू के आटा के फुल्‍के, खिचड़ी। ज्‍यादा भारी भोजन करने से आपको ही पेट सम्‍बन्धित समस्‍याएं हो सकती हैं।


कैफीनयुक्त पदार्थ

कभी भी रात को सोने से पहले कॉफी ना पिएं। इससे आपकी नींद में खलल पड़ सकता है। इसे पीने से पहले तो नींद समय पर आएगी ही नहीं और अगर आ भी जाएगी, तो बार- बार डिस्टर्ब होगी। दरअसल, कैफीन आपकी नींद उड़ाने का काम करेगी।

 

इन उपायों की मदद से आप अनिद्रा की समस्या को दूर करने से बच सकते हैं। अगर इसके बाद भी आपको ठीक से नींद नहीं आती है तो डॉक्टर से संपंर्क करने में ना हिचकें।

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK