चेहरे और बालों की खूबसूरती बढ़ा सकता है सौंफ, जानें इसके इस्तेमाल का बेमिसाल घरेलू नुस्खा

Updated at: Jun 25, 2020
चेहरे और बालों की खूबसूरती बढ़ा सकता है सौंफ, जानें इसके इस्तेमाल का बेमिसाल घरेलू नुस्खा

सौंफ का इस्तेमाल लोग पेट से जुड़ी बीमारियों के लिए घरेलू नुस्खों के रूप में करते हैं, पर आज हम आपको सौंफ के ब्यूटी बेनिफिट्स बताएंगे।

 
Pallavi Kumari
घरेलू नुस्‍खWritten by: Pallavi KumariPublished at: Jun 25, 2020

सौंफ एक सुगंधित जड़ी बूटी है, जिसे आम तौर पर हर भोजन के अंत में अपना मुंह ताजा करने के लिए खाया जाता हैं। लेकिन बहुत से लोग नहीं जानते हैं कि सौंफ के बीज जिंक, पोटेशियम, कैल्शियम, जस्ता, मैंगनीज और लोहे में समृद्ध हैं। ये एंटी-ऑक्सीडेंट से भी भरपूर होते हैं। इसके चिकित्सीय और हीलिंग गुण इसे आपकी स्किनकेयर शासन में इस्तेमाल करने के लिए एकदम सही सामग्री बनाते हैं। अपने ग्रूमिंग रूटीन में सौंफ के बीज का उपयोग मुंहासे, सेल, काले धब्बे और झुर्रियों को रोकने में मदद कर सकता है। वहीं बालों के लिए भी ये बेहद फायदेमंद है, तो आइए जानते हैं कि सौंफ का इस्तेमाल करके आप अपने स्किन और बालों को कैसे खूबसूरत बना सकते हैं।

insidefennelseeds

स्किनकेयर के लिए सौंफ का इस्तेमाल

सौंफ के अर्क के साथ एंटी-एजिंग डर्मेटोलॉजिकल स्किन केयर क्रीम तैयार की जाती हैं, जो त्वचा को फ्री रैडिकल डैमेज से बचाने में मदद करता है। ये स्किन सेल्स का विकास भी करते हैं और इसते हेल्दी ग्रोथ में मददगार हैं।

त्वचा की टोनिंग में मददगार

अपनी त्वचा को टोन करने के लिए, आप मुट्ठी भर सौंफ के बीज ले सकते हैं और उन्हें उबलते पानी में जोड़ लें। फिर उसे ठंडा होने दें। मिश्रण में सौंफ आवश्यक तेल की कुछ बूंदें डालें और इसे छान लें। दिन भर में जितनी बार हो सके कॉटन बॉल की मदद से इसे अपने चेहरे पर मलें। आपकी त्वचा कीव टोनिंग को बेहतर बनाएगा और आपको ताजा महसूस करवाएगा।

insidesaufskinacre

त्वचा के पोर्स को करता है साफ

बढ़ी हुई त्वचा की बनावट के लिए आप सौंफ के बीज के स्टीम फेशियल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। उबलते पानी के एक लीटर में सौंफ के बीज का एक बड़ा चमचा जोड़ें। इसके ऊपर झुकें और 5 मिनट के लिए अपने सिर और गर्दन को तौलिए से ढक लें। छिद्रों को साफ करने और आपकी त्वचा को चमकदार बनाने के लिए सप्ताह में दो बार ऐसा करें। ये

फेस मास्क बनाकर करें चेहरे की मसाज

सौंफ का इस्तेमाल करके आप फेस मास्क भी बना सकते हैं। आधा कप उबलते पानी में एक बड़ा चम्मच मिलाकर इसे पतला करके पीस लें। 30 मिनट तक प्रतीक्षा करें और इसमें एक बड़ा चम्मच ओटमील और शहद मिलाएं। एक चिकनी पेस्ट बनाएं और इसे अपने चेहरे पर लगाएं। इसे 20 मिनट के लिए छोड़ दें। गुनगुने पानी से धो लें। ये आपके फेस की चमक बढ़ाने के साथ टैनिंग और दाग-धब्बों की भी सफाई करेगा।

insidesaufforhairs

इसे भी पढ़ें : Bathing With Neem: नीम के पानी से नहाना है स्‍वास्‍थ्‍य के लिए कई तरीके से फायदेमंद, जानें कैसे करें उपयोग

बालों के सौंफ का इस्तेमाल

सौंफ के बीजों में एंटीऑक्सीडेंट और रोगाणुरोधी गुण बालों की बीमारियों के उपचार में मदद कर सकते हैं। ये रूसी, खोपड़ी की खुजली, बालों के टूटने और बालों के झड़ने के इलाज में मदद कर सकते हैं। बालों के झड़ने और टूटने को कम करने के लिए आप सौंफ का इस्तेमाल ऐसे कर सकते हैं।

सौंफ को उबाल कर बालों में लें भांप

आप सौंफ लें और उसमें दो कप पानी उबालें। फिर इसे अचछे से उबालने के बाद एक तौलिया लें और मुंह ढ़ंकते हैं बालों में भांप लें। ये भांप बालों के जड़ों में जाकर उसे खाले देगा इससे आपके बालों की ग्रोथ बड़ी तेजी से बढ़ेगी।

सौंफ को पीस कर बालों में लगाएं

सौंफ को पीस कर पाउडर बना लें और उसमें दही और नींबू डाल कर अच्छा सा घोल तैयार करें। इसे लगभग 15 मिनट के लिए बालों में लगाकर छोड़ दें। अपने बालों को शैम्पू करने से पहले बालों की जड़ों की मसाज करें और बालों को धो लें। यह बालों के स्वास्थ्य को बढ़ावा दे सकता है और बालों के टूटने और बालों के झड़ने को रोक सकता है।

इसे भी पढ़ें : बालों को हमेशा स्वस्थ रखने के लिए फायदेमंद है भृृंगराज का तेल, जानें घर पर तैयार करने का तरीका

खुजली के लिए सिरका से साथ मिलाकर सौंफ का करें इस्तेमाल

स्कैल्प खुजली को ठीक करने के लिए आप  सौंफ के पाउडर और सिरका के घोल का भी उपयोग कर सकते हैं। इसके लिए पहले एक कप पानी उबालें और इसमें एक चम्मच सौंफ का पाउडर मिला लें। अब 30 मिनट तक प्रतीक्षा करें। अब इसमें ग्लिसरीन और एप्पल साइडर सिरका का एक चम्मच मिला लें। अब इसे छान लें। अब इस मिश्रण को अपने स्कैल्प और बालों में लगाकर कुछ देर के लिए छोड़ दें। फिर इसे धो लें। इससे आपके बालों का डैंड्रस और खुजली की परेशानी कम हो जाएगी।

Read more articles on Home-Remedies in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK