• shareIcon

Breast Cancer: हर महिला के लिए जरूरी है ब्रेस्‍ट कैंसर से जुड़े इन 4 तथ्‍यों के बारे में जानना

कैंसर By शीतल बिष्‍ट , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Nov 01, 2019
Breast Cancer: हर महिला के लिए जरूरी है ब्रेस्‍ट कैंसर से जुड़े इन 4 तथ्‍यों के बारे में जानना

Breast Cancer: कैंसर के कई रूपों में में से एक है, स्तन कैंसर यानि कि ब्रेस्‍ट कैंसर। आज हम आपको ब्रेस्‍ट कैंसर से जुड़े ऐसे तथ्‍यों के बारे में बता रहे हैं, जिनके बारे में या तो लोगों को पता नहीं हैं या वे उन्हें सच नहीं मानते हैं।

ब्रेस्‍ट कैंसर महिलाओं में होने वाला सबसे आम कैंसर है। हर साल, ब्रेस्‍ट कैंसर के लगभग दस लाख मामले डॉक्टरों के पास आते हैं, जो एक खतरनाक बात है। ब्रेस्‍ट कैंसर महिलाओं में और पुरुषों दोनों में हो सकता है। हालांकि पुरूषों में इसकी संभावना काफी कम होती है। लेकिन यह एक घातक बीमारी है, यदि समय पर बीमारी का पता लग जाए और उचित इलाज मिले, तो इसका आसानी से इलाज किया जा सकता है। कुछ साल पहले, कैंसर के उपचार के विकल्प भी काफी मंहगे और सीमित थे, लेकिन अब समय बदल गया है। हालांकि यहां हम आपको ब्रेस्‍ट कैंसर के बारे में कुछ तथ्य बता रहे हैं, जो आप शायद नहीं जानते।

1. कुछ ही मामले अनुवांशिक होते हैं

आम धारणा के विपरीत, केवल 5-10% मामले ही आनुवांशिक होते हैं। अधिकांश मामले परिवारों में नहीं चलते हैं और उसी के अन्य कारण हैं। दोषपूर्ण बीआरसीए 1 और बीआरसीए 2 जीन का संक्रमण ब्रेस्‍ट कैंसर का आनुवंशिक कारण है। इन्हें परिवार के पिता की ओर से भी विरासत में प्राप्त किया जा सकता है। यदि आपकी माँ, भाई, चाची या बच्चे को ब्रेस्‍ट कैंसर है, तो आपकी संभावना लगभग 2 गुना बढ़ जाती है। ब्रेस्‍ट कैंसर वाले 2 से अधिक करीबी रिश्तेदार आपके जोखिम को 3 गुना बढ़ा देते हैं।

Breast_Cancer_Facts

2. ब्रेस्‍ट कैंसर की रोकथाम होती है

यह जानना और महसूस करना महत्वपूर्ण है कि आपके ब्रेस्‍ट कैसे हैं। सीसे के सामने ब्रेस्‍ट को देखकर खुद से जांच करें और सही गलत के फर्क को महसूस करना भी महत्वपूर्ण है।

इसे भी पढें: कैंसर के खतरे को दोगुना कम करेंगी ये 5 आदतें, आज से बदलें इन्हें

यदि आपके स्तनों के आकार और साइज में कोई परिवर्तन हुआ है, ब्रेस्‍ट के ऊपर कोई भी गांठ या पपड़ी फोड़ा फुंसी, जिसमें नारंगी छील दिखना, लाल होना, निप्पल डिस्चार्ज होना, और ब्रेस्‍ट से पस निकल रहा हो, तो कृपया अपने डॉक्टर से सलाह लें। आमतौर पर, ब्रेस्‍ट में दर्दनाकगांठ देर के चरणों को छोड़कर घातक नहीं होते हैं, लेकिन कैंसर के लिए उन्हें खारिज करना महत्वपूर्ण है। यहाँ ब्रेस्‍ट कैंसर के लक्षणों के बारे में एक वीडियो है जिसे देखकर आप ब्रेस्‍ट कैंसर के बारे में और जानकारी प्राप्‍त कर सकते हैं।  

3. ब्रेस्‍ट में होने गांठ हल्‍की या दर्दनाक नहीं होती 

मैं अक्सर ऐसी महिलाओं के बारे में जानती हूं, जो एक बार ब्रेस्‍ट में गांठ का पता लगाने के डर से डॉक्टर से मिलने नहीं जाती हैं, क्यों क्योंकि उन्हें कैंसर, दर्दनाक कीमोथेरेपी, सर्जरी और सीक्वेल से डर लगता है। लेकिन आप हमेशा यह जरूर ध्‍यान रखें कि अधिकांश ब्रेस्‍ट में होने वाली गांठ सौम्य होती हैं। कुछ केवल अल्सर, फाइब्रोएडीनोमा, फाइब्रोसिस आदि हैं, इसलिए अपने चिकित्सक से मिलने में संकोच न करें। कैंसर से छुटकारा पाने और आराम के लिए यह अच्छा विकल्‍प है।

4. अधिकांश ब्रेस्‍ट कैंसर का उपचार संभव है 

अगर आपको ब्रेस्‍ट कैंसर का पता चलता है, तो घबराने की जरूरत नहीं है। अधिकांश लोग ब्रेस्‍ट कैंसर के प्रकार और बीमारी के चरण के आधार पर ब्रेस्‍ट कैंसर को हराते हैं और इस जंग में सफल होते हैं। 5 साल की जीवित रहने की दर बेहतर हो रही है क्योंकि उपचार के विकल्प हैं। पूरे भारत में 5 साल की उत्तरजीविता दर 89.4% है, भारत में लगभग 66.1% (भारतीय महिलाओं में देर से चरणों में पता लगाने का कारण है कि हम जीवित रहने के मामले में दुनिया में पिछड़ गए) और प्रारंभिक चरणों में स्थानीयकृत बीमारी के लिए 98.6% है। 

Breast_Cancer_Facts

इसे भी पढें: सिर्फ महिलाओं को ही नहीं होता है ब्रेस्ट कैंसर, पुरूष भी रहें सावधान! जानें कारण, लक्षण और बचाव

हर किसी को मास्टेक्टॉमी की आवश्यकता नहीं होती है। वास्तव में, ब्रेस्‍ट कैंसर के प्रकार के आधार पर, यहां तक कि एक गांठ का निशान शुरुआती चरणों में भी हो सकता है। बहुत मजबूत पारिवारिक इतिहास वाली कुछ महिलाओं को भी एक निवारक मास्टेक्टॉमी किया जाता है- एंजेलीना जोली इसका प्रमुख उदाहरण है। सभी प्रकार के ब्रेस्‍ट कैंसर के लिए कीमोथेरेपी की भी आवश्यकता नहीं होती है। कीमोथेरेपी दवाएं भी पहले की तुलना में कम और कम कठिन दुष्प्रभावों के साथ बेहतर हो रही हैं।

Inputs - Dr.Shelly singh, senior Consultant, Gynaecologist at Momspresso, User Generated content sharing platform for women.

Read More Article On Cancer In Hindi 

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK