Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

पतला होना चाहते हैं तो प्रोटीन खाएं

लेटेस्ट
By सम्‍पादकीय विभाग , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Oct 24, 2011
पतला होना चाहते हैं तो प्रोटीन खाएं

हाल में हुए शोधों से पता चला है कि, मोटापा घटाना है, तो प्रोटीन का सेवन करें।

patla hona chahate hai to khaye khob protein

मेलबर्न। अगर आप पतला बनना चाहते हैं और अपने बढ़ते वजन से परेशान होकर खानपान व कैलोरी में कटौती कर रहे हैं तो उसे बंद कर दीजिए और ज्यादा मात्रा में प्रोटीन खाना शुरू कर दीजिए। नए शोध का दावा है कि भोजन में प्रोटीन की मात्रा बढ़ाने से आपका वजन कम होने लगेगा।

‘पीएलओएस वन’जर्नल की खबर के मुताबिक, यूनिवर्सिटी ऑफ सिडनी के हाल ही में आए एक अनुसंधान के मुताबिक अगर आपके भोजन में प्रोटीन की मात्रा कम है तो आप ज्यादा मात्रा में कैलोरी लेने लगते हैं और आपकी ज्यादा से ज्यादा नमकीन खाने की इच्छा होने लगती है। साथ ही उन्होंने पाया कि भोजन में प्रोटीन की मात्रा ज्यादा होने पर लोगों को भूख कम लगती है जिससे आप ज्यादा वसा और काबरेंहाइड्रेट खाने से बचते हैं।

इस अनुसंधान के माध्यम से यह बात पहली बार सामने आई है कि भोजन में प्रोटीन की मात्रा भूख और भोजन की कुछ मात्रा को घटाती है। और यह पूरी दुनिया के लिए बीमारी का शक्ल ले चुके मोटापे से बचने का बेहद अच्छा तरीका है। प्रमुख शोधकर्ता डॉ. एलिसन गॉस्बी के अनुसार, ‘मनुष्यों में प्रोटीन के प्रति विशेष भूख होती है लेकिन जब भोजन में इसकी मात्रा कम होती है, तब इसकी भूख ज्यादा ऊर्जा की मांग करती है। इसके चलते काबरेहाइड्रेट अधिक खाया जाता है जो मोटापे को जन्म देता है।’


आपके भोजन में प्रोटीन की मात्रा कम है तो आप ज्यादा मात्रा में कैलोरी लेने लगते हैं और आपको ज्यादा से ज्यादा नमकीन खाने की इच्छा होने लगती है

Written by
सम्‍पादकीय विभाग
Source: ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभागOct 24, 2011

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK