Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

दस घंटे की नींद करे दर्द को 'छूमंतर'

लेटेस्ट
By ओन्लीमाईहैल्थ लेखक , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Dec 03, 2012
दस घंटे की नींद करे दर्द को 'छूमंतर'

जाने, कैसे कई प्रकार के दर्द से छुटकारा दिलाने में नींद मददगार साबित होती है।

dus ghante ki nind kare dardko chumantar

जिंदगी में काम करना जितना जरूरी है उतना ही जरूरी है पूरा आराम करना। अच्‍छी नींद को अच्‍छी सेहत का पैमाना माना जाता है। स्‍वस्‍थ शरीर के लिए अच्‍छी नींद भी आवश्‍यक है। हाल ही में हुआ एक शोध नींद की उपयोगिता साबित करता है। इस शोध में दावा किया गया है कि कई प्रकार के दर्द से छुटकारा दिलाने में भी नींद काफी मददगार साबित होती है। इस शोध में कहा गया कि एक घंटे की अधिक नींद दर्द को बेअसर कर सकती है। यही नहीं, इससे दिमाग की चुस्‍ती-फुर्ती भी बनी रहती है। शोध के नतीजों को जर्नल स्‍लीप के हालिया अंक में छापा गया है।

[इसे भी पढ़े- अच्‍छी सेहत के लिए कितने घंटे सोएं]

अमेरिकी शोधकर्ताओं के मुताबिक आमतौर पर लोगों को आठ घंटे सोने की सलाह दी जाती है। लेकिन, आठ की बजाए दस घंटे की नींद सेहत को ज्‍यादा फायदा पहुंचाती है। यहां तक कि दर्द-निवारक दवाओं के सेवन की बजाए यह ज्‍यादा मुफीद है कि नींद लेकर दर्द को दूर किया जाए। शोधकर्ताओं ने आमतौर पर आठ घंटे की नींद लेने वाले प्रतिभागियों को अपने शोध में शामिल किया। इन प्रतिभागियों की स्‍लीप लेटेंसी टेस्‍ट किए गए। ये टेस्‍ट आमतौर पर नींद की समस्‍याओं का पता लगाने के लिए किए जाते हैं। इसमें मस्तिष्‍क की तरंगों, आंखों की गति, हृदयगति और मांसपेशियों पर निगाह रखी जाती है। दर्द को महसूस करने, संवेदनशीलता का अध्‍ययन हृदय के जरिए किया गया। शोध में पाया गया कि 1.8 घंटे अधिक नींद लेने वाले समूह के प्रतिभागी दिन में ज्‍यादा चुस्‍त रहते हैं।

[इसे भी पढ़े- मत कीजिए नींद में कटौती]

वहीं, उन्‍हें दर्द की कम महसूस होता है। ज्‍यादा सोने वाले समूह के लोग किसी गरम वस्‍तु पर 25 प्रतिशत ज्‍यादा समय तक हाथ रखने में कामयाब हुए। उन्‍हें दर्द भी कम महसूस हुआ। शोधकर्ताओं के मुताबिक 60 एमजी दर्द-निवारक से ज्‍यादा असरकारी एक घंटे ही अधिक नींद है।

 

Read More Article On- Health news in hindi

Written by
ओन्लीमाईहैल्थ लेखक
Source: ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभागDec 03, 2012

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK